राजस्थान राज्य सरकार की योजनाएं – Rajasthan Govt Schemes

राजस्थान राज्य सरकार की योजनाएं – राजस्थान सरकार द्वारा राज्य के विभिन्न वर्गों के नागरिकों के लिए बहुत सी कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत कर उन्हें सामाजिक व आर्थिक सुरक्षा प्रदान की जाती है, जिससे उनके जीवन में सुधार हो सकेगा। इस लेख के माध्यम से हम आपको सरकार द्वारा शुरू की गई ऐसी ही बहुत सी योजनाओं की जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, जिनकी जानकारी कई बार नागरिकों को नहीं मिलने के कारण वह योजना की पात्रता पूरा करने के बाद भी इसका लाभ नही उठा पाते। इसके लिए राज्य सरकार द्वारा संचालित सभी कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

Rajasthan-Government-Schemes
Rajasthan-Government-Schemes

राजस्थान राज्य सरकार की योजनाएं लिस्ट

राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई बहुत सी योजनाओं की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

रजस्थान स्कॉलरशिप योजना

राजस्थान स्कॉलरशिप योजना की शुरुआत राज्य के अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और पिछड़े वर्ग के छात्रों को छात्रवृत्ति के माध्यम से उनकी शिक्षा पूरी करने में सहयोग देने के लिए की गई है। जिसके माध्यम से सरकार कक्षा 10 वीं और 12 वीं के बाद छात्रों को निर्धारित धनराशि के रूप में छात्रवृत्ति राशि प्रदान करेगी, इसके अतिरिक्त कॉलेज में एडमीशन के लिए भी छात्रों को छात्रवृत्ति के रूप में आर्थिक सहायता राशि दी जाएगी। जिससे वह अपनी उच्च शिक्षा बिन किसी आर्थिक समस्या के पूरी कर सकेंगे। इसके लिए योजना में आवेदन हेतु आवेदक सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त स्कूल या युनिवर्सिटी से होने चाहिए साथ ही उनके परिवार की वार्षिक आय ढाई लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।

आपकी बेटी योजना

राजस्थान आपकी बेटी योजना - aapki beti yojana rajasthan application form
राजस्थान आपकी बेटी योजना – aapki beti yojana rajasthan application form

आपकी बेटी योजना की शुरुआत राजस्थान सरकार द्वारा वर्ष 2004-2005 में की गई थी, जिसके माध्यम से राज्य के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले बीपीएल वर्ग की बेटियों को उनके कक्षा 1 से 12 वीं तक की शिक्षा पूरी में सहयोग देने के लिए सरकार आर्थिक सहायता प्रदान करेगी। इसके लिए कक्षा 1 से 8 वीं तक की छात्राओं को साल भर में 2100 रूपये और कक्षा 9 वीं से 12 वीं की छात्राओं को 2500 रूपये की सहायता राशि दी जाती है, जिससे उनके शिक्षा में किसी तरह की रुकावट न आए और ऐसे परिवार जिनकी आर्थिक स्थिति ठीक नहीं है या वह बालिका जिनके परिवार में माता-पिता दोनों या किसी एक की मृत्यु हो गई है, उन्हें अपनी शिक्षा बीच में ही ना छोड़नी पड़े।

राजस्थान जन सूचना पोर्टल

राजस्थान जन सूचना पोर्टल राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा 13 सितंबर 2019 में लॉंच किया गया था, जिसके माध्यम से सरकार द्वारा संचालित सभी योजनाओं और सूचनाओं की जानकरी नागरिकों तक ऑनलाइन आसानी से एक ही जगह उपलब्ध हो सकेगी। इसके लिए पोर्टल पर सभी जानकारी एवं सेवाओं को एकत्रित किया गया है, इसके लिए इस पोर्टल में नागरिकों की सुविधा के लिए 115 विभागों की 260 योजनाओं के साथ 562 योजना से जुडी सूचनाओं की जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध करवाई गई है।

राजस्थान जन सूचना पोर्टल (jansoochna.rajasthan.gov.in), Jan Soochna
राजस्थान जन सूचना पोर्टल (jansoochna.rajasthan.gov.in), Jan Soochna

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत 1 मई 2021 में राज्य के जरूरतमंद व कमजोर आय वर्ग नागरिकों को सवास्थ्य संबंधी सेवाओं का लाभ प्रदान करने के लिए की गई है। जिसके माध्यम सरकार राज्य के 1 करोड़ 10 लाख नागरिकों को हर वर्ष 5 लाख रूपये तक का इंश्योरेंस कवर प्रदान करेगी और इसके अंतर्गत फ्री इलाज की सुविधा भी दी जाएगी। इसके अतिरिक्त यदि कोई मरीज अस्पताल में भर्ती होता है तो उसके पाँच दिन पहले तक का खर्चा उसमे जोड़ा जाएगा साथ ही मरीज के जाँच, परामर्श और डिस्चार्ज होने के बाद 15 दिन का खर्चा भी सरकार द्वारा उठाया जाएगा, जिसके लिए लाभार्थियों को हर वर्ष 50% यानी 850 रूपये साल की बीमा किश्त जमा करवानी होगी, ताकि वह मुफ्त इलाज की सुविधा का लाभ प्राप्त कर सकें।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना पंजीकरण प्रक्रिया - Mukhyamantri Chiranjeevi Yojana
मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना पंजीकरण प्रक्रिया

देवनारायण छात्रा स्कूटी वित्तरण योजना

देवनारायण छात्रा स्कूटी वित्तरण योजना की शुरुआत राजास्थान सरकार द्वारा राज्य की छात्राओं को शिक्षा में प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से की गई है। जिसके माध्यम से राज्य की 12 वीं कक्षा में 75% अंकों से उत्तीर्ण होने वाली छात्राओं को सरकार द्वारा मुफ्त स्कूटी प्रदान की जाएगी, साथ ही योजना के तहत ग्रेजुएट और पोस्ट ग्रेजुएट छात्राओं को भी सरकार द्वारा प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। यह लाभ राज्य की उन 1000 छात्राओं को दिया जाएगा, जिनके परिवार की वार्षिक आय दो लाख रूपये से कम है और जिन्होंने केंद्रीय शिक्षा बोर्ड या माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से 12 की शिक्षा 75% और विश्वविद्यालय की शिक्षा 50% अंकों से उत्तीर्ण की हो।

सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना

सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के तहत राज्य सरकार द्वारा जरूरतमंद और आश्रित लोगों को सुरक्षा का लाभ प्रदान कर आत्मनिर्भर बनाने के लिए प्रतिमाह पेंशन प्रदान करवाती है, यह लाभ राज्य के सभी वर्ग (सामान्य, एससी, एसटी, ओबीसी और असहाय नागरिकों) से संबंधित वृद्धा, विधवा, तालाकशुदा ,निराश्रित, विकलांग आदि को दिया जाता है, जिससे वह भी अपना जीवन यापन आत्मनिर्भर होकर कर सकें और उन्हें अपने आर्थिक खर्चों के लिए किसी और पर निर्भर न रहना पड़े। इसके लिए योजना के माध्यम से सरकार ऐसे सभी पात्र नागरिकों को प्रतिमाह 500 से 1500 रूपये की पेंशन का लाभ उनके खातों में ट्रांसफर करवाती है।

सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना राजस्थान - Rajssp Apply Online
सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना राजस्थान – Rajssp Apply Online

भामाशाह कार्ड योजना

राजस्थान सरकार द्वारा राज्य की महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए भामाशाह कार्ड योजना की शुरुआत की गई है, जिसके माध्यम से परिवार की महिलाओं को परिवार का मुखिया बनाकर सरकारी योजनाओं के वित्तीय व गैर-वित्तीय लाभ पारदर्शी तरीके से प्रदान किए जाएँगे। जिसके लिए योजना के अंतर्गत राज्य के सभी परिवार की महिलाओं का भामाशाह अकाउंट खुलवाया जाएगा और उन्हें भामाशाह कार्ड जारी किए जाएँगे साथ ही भामाशाह कार्ड धारक महिलाओं के बैंक खातों को भामाशाह कार्ड से जोड़ा जाएगा। इससे राज्य की महिलाएँ भामाशाह कार्ड का उपयोग सरकार द्वारा सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने के लिए कर सकेंगी। यह लाभ उन्ही महिलाओं को मिल सकेगा, जिनकी आय 21 वर्ष से अधिक होगी।

भामाशाह कार्ड ऐसे बनायें
Bhamashah card online Rajasthan

मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना की शुरुआत 24 फरवरी 2021 को की गई थी। जिसके अंतर्गत राज्य के किसानों और खेती करने वाले मजदूरों की किसी दुर्घटना के कारण मृत्यु हो जाने या विकलांगता होने पर उन्हें नुक्सान की भरपाई के लिए 5 हजार रूपये से लेकर 2 लाख रूपये तक की वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी। जिससे वह अपना इलाज समय पर बिना किसी आर्थिक समस्या के करवा सकें या उनके बाद उनके परिवार को भरण-पोषण के लिए आर्थिक तंगी का सामना न करना पड़े, इसके लिए किसान को योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु दुर्घटना के 6 महीने के भीतर योजना में आवेदन करना होगा। मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना का लाभ सभी पात्र किसानों को प्राप्त हो सके इसके लिए सरकार द्वारा योजना में 2000 करोड़ रूपये का बजट भी निर्धारित किया गया है।

हैसियत प्रमाण पत्र

हैसियत प्रमाण पत्र एक तरह का सरकारी दस्तावेज है, जिसे सॉल्वेंसी सर्टिफिकेट, संपत्ति प्रमाण पत्र के नाम से भी जाना जाता है। यह आपकी वार्षिक और महीने की सैलरी के अनुसार बनाया जाता है, इसका अनुमान आप अपनी आय से लगा सकेंगे, यानी इस प्रमाण पत्र को आपकी पूरी आय, संपत्ति से जोड़ा जाता है जिसकी सम्पूर्ण जानकारी आपको राज्य सरकार को देना होता है। जिसके आधार पर ही आपको हैसियत प्रमाण पत्र दिया जाता है। हैसियत प्रमाण पत्र की मान्यता केवल दो वर्षों की होती है, जिसके माध्यम से आप सरकारी टेंडर खरीदने, नए उद्योग को शुरू करने के लिए बैंक से लोन निकलवाने, निर्माण कार्य में निवेश करने जैसे कार्य आसानी से कर सकेंगे।

इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना

राज्य की गर्भवती महिलाओं को लाभान्वित करने के लिए राज्य सरकार द्वारा 19 नवंबर 2020 में इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना की शुरुआत की गई थी। जिसके माध्यम से सरकार राज्य की गर्भवती महिला और बच्चे को उचित भरण-पोषण की सुविधा प्रदान करेगी, जिससे माँ और बच्चे दोनों को ही किसी तरह पोषण आहार की कमी ना पड़े और दोनों ही स्वस्थ शारीरिक तौर पर स्वास्थ रहें। इसके लिए इंदिरा गाँधी मातृत्व पोषण योजना के अंतर्गत सरकार लाभार्थी महिलाओं को दूसरे बच्चे के जन्म के समय 6000 रूपये की वित्तीय सहायता राशि 5 किश्तों में प्रदान करेगी, इससे प्रयाप्त मायता में पोषण प्रदान कर माँ और बच्चे में शारीरिक कमजोर कमजोरी उत्पन्न नहीं होगी और देश में कुपोषण जैसी समस्या का सामना नहीं करना पडेगा।

राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना
राजस्थान इंदिरा गांधी मातृत्व पोषण योजना

शुभ शक्ति योजना

राजस्थान सरकार द्वारा शुभ शक्ति योजना की शुरुआत राज्य के असंगठित क्षेत्रों में कार्यरत श्रमिक परिवार की बालिकाओं और महिलाओं को आगे बढ़ने से सहयोग देने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, इस योजना के अंतर्गत श्रमिक हिताधिकारी महिलाओं और अविवाहित बालिकाओं को कौशल विकास प्रशिक्षण, अपनी शिक्षा पूरी करने या अपने खुद के व्यवसाय की शुरुआत के लिए सरकार द्वारा 55,000 रूपये की आर्थिक सहायता राशि जारी की जाएगी, जिससे वह शिक्षित होकर खुद से आत्मनिर्भर हो सकेंगी और बिना किसी पर निर्भर रहे अपना भविष्य बेहतर कर सकेंगी। यह लाभ राज्य की केवल 18 वर्ष या इससे अधिक आयु की बालिकाओं को ही दिया जाएगा।

राजस्थान शुभ शक्ति योजना - Rajasthan Shubh Shakti Yojana Apply Online
राजस्थान शुभ शक्ति योजना – Rajasthan Shubh Shakti Yojana Apply Online

विधवा पुनर्विवाह उपहार योजना

विधवा पुनर्विवाह उपहार योजना की शुरुआत राज्य की विधवा महिलाओं के कल्याण हेतु शुरू की गई योजना है, जिसे शुरू करने की घोषणा सरकार द्वारा वर्ष 2007-08 में की गई थी। जिसके माध्यम से सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की और से प्रदेश की लाभार्थी विधवा महिलाओं को पुनर्विवाह उपहार राशि के तौर पर दी जाने वाली राशि 30 हजार से बढ़ाकर 51 हजार रूपये प्रदान की जाएगी, जिससे वह अपने नए जीवन की शुरुआत बिना किसी आर्थिक समस्या के कर सकेंगी।

जन आधार कार्ड पंजीकरण

जन आधार कार्ड योजना की शुरुआत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गेहलोत जी द्वारा की गई है, जिसके माध्यम से सरकार की जन कल्याण योजनाओं का लाभ राज्य के सभी लाभार्थी नागरिकों को प्राप्त हो सकेगा। जिसके लिए नागरिकों को जन आधार कार्ड जारी किया जाएगा। जन आधार कार्ड के माध्यम से राज्य के सभी परिवारों की जनसांख्यिक आँकड़ा तैयार किया जाएगा, जिसके माध्यम से परिवार और व्यक्ति को एकल पहचान प्रदान की जा सकेगी और सरकार द्वारा शुरू की गई कल्याणकारी योजनाओं का लाभ नागरिकों को प्राप्त हो सकेगा। इसके लिए राज्य के सभी परिवार जन कल्याण हेतु पंजीकरण कर सकेंगे।

राजस्थान जन आधार कार्ड पंजीकरण ऑनलाइन आवेदन
राजस्थान जन आधार कार्ड पंजीकरण ऑनलाइन आवेदन

गार्गी पुरस्कार योजना

गार्गी पुरस्कार योजना की शुरुआत राज्य सरकार द्वारा बेटियों को शिक्षा के क्षेत्र में प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से की गई है। जिसके माध्यम से सभी वर्ग की छात्राओं जिन्होंने अपनी 10 वीं की कक्षा 75% या इससे अधिक अंकों से उत्तीर्ण की गई होगी उन्हें योजना के तहत 3000 रूपये और 12 वीं की कक्षा में 75% या इससे अधिक अंक होने पर उन्हें 5000 रूपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी, जिससे बालिकाओं को उनकी शिक्षा पूरी करने में प्रोत्साहन मिल सकेगा और उन्हें उनकी शिक्षा बीच में ही नहीं छोड़नी होगी। यह लाभ केवल उन्ही बालिकाओं को मिल सकेगा जिनके परिवार की वार्षिक आय 1 लाख रूपये से कम हो और 10 वीं कक्षा के बाद उन्होंने 11 वीं या 12 वीं कक्षा में प्रवेश ले लिया हो।

Rajasthan Gargi Puraskar Yojana गार्गी पुरस्कार पंजीकरण फॉर्म
Rajasthan Gargi Puraskar Yojana गार्गी पुरस्कार पंजीकरण फॉर्म

राजस्थान राज्य सरकार की योजनाओं से जुड़े प्रश्न/उत्तर

Rajasthan सरकार द्वारा कौन-कौन की सरकारी योजनाओं की शुरुआत की गई है ?

Rajasthan सरकार द्वारा राजस्थान स्कॉलरशिप योजना, जन सूचना पोर्टल , देवनारायण छात्रा स्कूटी वित्तरण योजना
आपकी बेटी योजना , मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना, भामाशाह कार्ड योजना आदि की शुरुआत की शुरुआत की गई हैं, जिनकी जानकारी आप लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

जन आधार कार्ड पंजीकरण के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ?

जन आधार कार्ड पंजीकरण के लिए आवेदक के पास आधारकार्ड, निवास प्रमाण पत्र, पैनकार्ड, परिवार के मुखिया का प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, राशन कार्ड, मोबाइल नंबर आदि होना आवश्यक है।

गार्गी पुरस्कार योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के परिवार की आय कितनी होनी चाहिए ?

गार्गी पुरस्कार योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के परिवार की आय 1 लाख रूपये से कम होनी चाहिए।

इंदिरा गाँधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना क्या है ?

इंदिरा गाँधी प्रियदर्शनी प्रशिक्षण व कौशल संवर्धन योजना राज्य सरकार द्वारा बालिकाओं और महिलाओं को निशुल्क कोचिंग ट्रेनिंग की सुविधा प्रदान करने के लिए शुरू की गई है, जिससे महिलाएं और बालिकाएं कंप्यूटर में कौशल प्रशिक्षण प्राप्त कर बेहतर रोजगार प्राप्त कर सकेंगी।

राजस्थान राज्य सरकार की योजनाएं से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है। इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment