(पंजीकरण) स्माम किसान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2022- SMAM Yojana Registration

स्माम किसान योजना 2022 की शुरुआत केंद्र सरकार के द्वारा की गयी है। इस योजना के माध्यम से देश के सभी कृषक वर्ग के नागरिकों को कृषि कार्य हेतु सहायता प्रदान की जाएगी। SMAM Yojana के माध्यम से किसान नागरिकों को खेती कार्य में प्रयोग होने वाले आधुनिकी उपकरण की खरीद में 50% से लेकर 80% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी। जिससे वह अपने खेतों के कार्य को सरलता से कर सकते है। किसान वर्ग के सभी नागरिकों को लाभान्वित करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु पोर्टल लॉन्च किया गया है। पोर्टल में किसानों के लिए उपकरण की खरीद पर सब्सिडी प्राप्त करने हेतु ऑनलाइन पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध की गयी है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से स्माम किसान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधी जानकारी को साझा करने जा रहे है। अतः योजना की अधिक जानकारी के लिए इस लेख को पूरा पढ़े।

स्माम किसान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन 2021- SMAM Yojana Registration
SMAM Yojana Registration

Table of Contents

स्माम किसान योजना 2022

देश के सभी कृषक नागरिकों कृषि में अच्छी पैदावार करने के लिए उन्हें आधुनिकी उपकरण में सब्सिडी प्रदान करने हेतु केंद्र सरकार के द्वारा यह एक विशेष प्रकार की योजना शुरू की गयी है। अब किसान नागरिक बिना किसी आर्थिक परेशानी के अपने लिए कृषि यंत्रो को कम मूल्य में खरीद सकते है। स्माम किसान योजना 2022 हेतु महिला एवं पुरुष दोनों किसान पंजीकरण हेतु पात्र है। आज के समय में ऐसे कृषि कार्यों को आसान बनाने के लिए बहुत सी आधुनिकी मशीनों का आविष्कार किया गया है। लेकिन किसान नागरिक अपनी आर्थिक स्थिति के अभाव के कारण इन यंत्रों की खरीद नहीं कर पाते है। इन सभी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए भारत सरकार के माध्यम से SMAM kisan Yojana को शुरू किया गया है। अब इस योजना की सहायता से किसान नागरिक अपने लिए उपकरणों की खरीद कर सकते है।

SMAM Yojana Highlights

योजना का नाम स्माम किसान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन
योजना का शुरू किया गया केंद्र सरकार के तहत
विभाग का नाम कृषि मंत्रालय भारत सरकार
लाभार्थी देश के सभी किसान नागरिक
वर्ष 2022
उद्देश्य किसानों को कृषि कार्य में सहायता हेतु उपकरणों
की खरीद पर सब्सिडी प्रदान करना
लाभ कृषि यंत्रों की खरीद हेतु 50% से लेकर 80% तक सब्सिडी
पंजीकरण ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट लिंक agrimachinery.nic.in

SMAM kisan Yojana का उद्देश्य क्या है ?

स्माम किसान योजना का मुख्य उद्देश्य है किसान नागरिकों की उपकरणों की खरीद में मदद करना। जैसे की आप सभी लोगो को पता है की सरकार के द्वारा 2024 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। ऐसे में किसान वर्ग के नागरिकों को खेती में फसलों की अच्छी पैदावार के लिए कई प्रकार की कृषि सुविधाओं की आवश्यकता आवश्यक है। SMAM kisan Yojana के माध्यम से अब कृषि कार्य में उपयोग होने वाले आधुनिकी उपकरण को खरीदने के लिए किसानों को मदद की जाएगी। आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के सभी किसानो को कृषि यंत्रो की खरीद करने में आसानी होगी। किसान नागरिक अब अपनी आवश्यकता के अनुसार विभिन्न प्रकार के उपकरणों की खरीद कम मूल्य में कर सकते है। किसान नागरिकों को योजना के तहत उपकरणों में 50 से लेकर 80% तक छूट प्रदान की जाएगी।

स्माम किसान योजना 2022 के लाभ

केंद्र सरकार की स्माम योजना के तहत किसान श्रेणी के नागरिक विभिन्न तरह के लाभ प्राप्त कर सकते योजना से मिलने वाले सभी लाभों का वर्णन इस प्रकार निम्नवत है।

  • देश के सभी श्रेणी के किसानों को स्माम किसान योजना से लाभान्वित किया जायेगा।
  • किसान नागरिकों को उनकी आर्थिक स्थिति के आधार पर योजना से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ प्राप्त होगा।
  • योजना के माध्यम से किसान श्रेणी के नागरिक अब विभिन्न तरह के आधुनिकी उपकरणों की खरीद कर सकते है।
  • 50 प्रतिशत से लेकर 80 प्रतिशत तक की छूट किसानों को यंत्रों की खरीद पर छूट प्रदान की जाएगी।
  • आधुनिकी उपकरणों का प्रयोग करने से कृषि में अच्छी पैदावार के साथ किसानो के समय का सदुपयोग होगा। एवं वह अपनी आर्थिक स्थिति में बदलाव करने में भी सक्षम हो पाएंगे।
  • SMAM kisan Yojana से मिलने वाले लाभों की प्राप्ति करके किसान कृषि कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे।
  • एसटी एससी ,ओबीसी श्रेणी से संबंधित सभी किसान वर्ग के नागरिकों को योजना के तहत अधिक लाभ प्रदान किया जायेगा।

SMAM kisan Yojana Eligibility

स्माम किसान योजना मिलने वाली सभी सुविधाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक किसान नागरिक को पंजीकरण करने के लिए निम्नलिखित शर्तों को पूर्ण करना आवश्यक है।

  • स्माम किसान योजना के लिए किसान श्रेणी से संबंधी नागरिक ही पंजीकरण करने हेतु पात्र होंगे।
  • किसान श्रेणी के नागरिक के पास अपनी भूमि से संबंधित सभी प्रकार की दस्तावेज होने अनिवार्य है।
  • निम्न श्रेणी से संबंधित किसान नागरिकों के पास जाति प्रमाण पत्र होना आवश्यक है।
स्माम किसान योजना 2022 पंजीकरण हेतु आवश्यक दस्तावेज
  • भूमि से संबंधी दस्तावेज
  • आवेदक किसान का आधार कार्ड
  • किसान व्यक्ति की पासपोर्ट फोटो
  • वोटर आईडी कार्ड
  • बैंक पासबुक विवरण
  • वोटर आईडी कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर

स्माम किसान योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

किसान नागरिक स्माम किसान योजना में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन कर आसानी से पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

  • SMAM kisan yojana online registration हेतु Digital Platform for Farm Mechanization and Technology की ऑफिसियल वेबसाइट agrimachinery.nic.in में जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट में जाने के पश्चात होम पेज में Direct Benefit Transfer In Agriculture Mechanization के विकल्प में क्लिक करें।
  • अब नए पेज में किसान नागरिक को रजिस्ट्रेशन के सेक्शन में फार्मर के लिंक में क्लिक करें।
  • इसके पश्चात अगले पेज में व्यक्ति को रजिस्ट्रेशन करने के लिए Aadhar No ,Mobile No ,Name (As Per Aadhar Card)दिए गए विकल्प में से किसी एक विकल्प का चयन करना है।
  • विकल्प का चयन करने के बाद आगे दी गयी सभी जानकारी को दर्ज करना है।
  • सभी जानकारी भरने के बाद व्यक्ति को submit बटन में क्लिक करना है। स्माम-किसान-योजना-ऑनलाइन-रजिस्ट्रेशन
  • इसके बाद आवेदक किसान व्यक्ति को आगे दी गयी सभी प्रकार की जानकारी को भरना है। जैसे –Gender, Aadhar No ,Mobile No,Father/Husband Name ,Date of Birth, Category, Select Farmer Type, Phone No, Email,Pin Code ,Address और PAN नंबर।
  • सभी महत्वपूर्ण जानकारी भरने के बाद Register के विकल्प में क्लिक करना है।
  • इस तरह से स्माम किसान योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

SMAM kisan yojana Application Status Track कैसे करें ?

  • स्माम किसान योजना आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए व्यक्ति को योजना की आधिकारिक वेबसाइट agrimachinery.nic.in में जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट में जाने के बाद होम पेज में Direct Benefit Transfer In Agriculture Mechanization के विकल्प में क्लिक करें।
  • अगले पेज में किसान व्यक्ति को tracking के सेक्शन में track application के विकल्प में क्लिक करना है। स्माम-किसान-योजना-आवेदन-स्थिति
  • अब नए पेज में Application Reference Number को दर्ज करें।
  • इसके पश्चात आवेदन से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी आवेदक व्यक्ति के स्क्रीन में दिखाई देगी।

राज्यवार संपर्क डिटेल्स

State Contact Details
उत्तर प्रदेश8840707606, 0522-2204223
छत्तीसगढ़98271517776, 0771-2512348
उत्तराखंड9412058641, 0135-2771881
बिहार9431818911
राजस्थान9694000786
मध्य प्रदेश8719962442, 0755-2583313
हरियाणा9416135999
हिमांचल प्रदेश9418345026

स्माम किसान योजना 2022 से संबंधित प्रश्न उत्तर

SMAM kisan yojana योजना की शुरुआत किसके द्वारा की गयी ?

केंद्र सरकार के माध्यम से SMAM kisan yojana की शुरुआत की गयी है।

स्माम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

SMAM kisan yojana की आधिकारिक वेबसाइट agrimachinery.nic.in है। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

किसानों को कृषि उपकरणों की खरीद में कितने प्रतिशत की सब्सिडी प्रदान की जाएगी ?

50% से लेकर 80% तक किसानों को स्माम योजना के तहत उपकरणों की खरीद पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

स्माम किसान योजना के तहत किसानों को क्या लाभ प्राप्त होंगे ?

किसानों को स्माम किसान योजना के तहत विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्प्त होंगे उन्हें सब्सिडी के रूप में आधुनिकी उपकरण लेने की सुविधा योजना के तहत प्राप्त होगी। साथ ही कृषि कार्य करने के लिए उनकी राहे आसान होगी।

क्या इस योजना का लाभ किसानों को उनकी श्रेणी के आधार पर प्राप्त होगा ?

हाँ आर्थिक रूप से कमजोर एवं निम्न श्रेणी से संबंधित किसानों को योजना का अधिक लाभ दिया जायेगा।

कृषि उपकरण के लिए किसान किस प्रकार आवेदन कर सकते है ?

किसानों की सुविधाओं के लिए केंद्र सरकार के माध्यम से पोर्टल को लॉन्च किया गया है पोर्टल में किसानों को योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पंजीकरण की सुविधा उपलब्ध की गयी है।

आधुनिकी उपकरणों के इस्तेमाल से किसानों को क्या लाभ मिलेंगे ?

कृषि कार्य में आधुनिकी उपकरणों के इस्तेमाल करने से फसल की अच्छी पैदावार की जाएगी। साथ किसान नागरिक कम समय में सभी कार्यों को मशीनों के द्वारा पूरा कर पाएंगे। फसल की गुणवक्ता में सुधार होगा एवं किसानों को अपनी फसल का एक बेहतर दाम प्राप्त करने में मदद मिलेगी।

Leave a Comment