आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म

भारत सरकार देश के विकास के लिए अलग अलग योजनाएं चलाती रहती हैं। जिस से देश की प्रगति पथ पर निरंतर बढ़ता रहे। पिछले कुछ महीनों में कोविड -19 के चलते बहुत से लोगों को अपने रोजगार से हाथ धोना पड़ा है। जिस की वजह से उनकी आर्थिक हालत बिगड़ चुकी है। ऐसे में देश के नागरिकों की भलाई के लिए केंद्र सरकार ने अनेक योजनाएं शुरू की हैं जिसके माध्यम से उन्हें महामारी के इन हालातों से सुरक्षित रखा जा सके। साथ ही उनके गुज़र बसर के लिए मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति की जा सके। आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 ऐसी ही एक योजनाओं में से एक है। बता दें की इस योजना (Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana) के अंतर्गत कोविड के दौरान अपना रोजगार गँवा चुके नागरिकों की सहायता की जाएगी।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 रजिस्ट्रेशन: ऑनलाइन आवेदन | एप्लीकेशन फॉर्म
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन आवेदन एप्लीकेशन फॉर्म

आज इस लेख के माध्यम से हम आप को Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana के बारे में जानकारी देंगे। जैसे की – आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना में पंजीकरण कैसे करें ? योजना में आवश्यक दस्तावेज। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर योजना से होने वाले लाभ, इसमें आवश्यक पात्रता मानदंड व (रजिस्ट्रेशन) आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन आदि से जुडी अन्य सभी जानकारियां हम यहाँ बताएंगे। जानने के लिए आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़ सकते हैं।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022

Aatmanirbhar Bharat Rojgar Yojana की शुरुआत वर्ष 2020 में केंद्र सरकार द्वारा की गयी थी। योजना की शुरुआत कोरोना महामारी के समय लाखों लोगो, जिनकी नौकरियां छूट गयी थी, उनके लिए की गयी थी। बता दें की इस योजना का लाभ देश में सभी बेरोजगार युवाओं, नागरिकों और जिनकी नौकरियां कोरोना काल के दौरान छूटी हैं , उन सभी लोगों को मिलेगा। इस योजना में सरकार रोजगार के नए अवसरों को खोलने हेतु सभी कंपनियों और नियोक्ताओं को प्रोत्साहित करेगी। जिससे ज्यादा से ज्यादा रोजगार उत्पन्न हो और अधिक से अधिक बेरोजगारों को रोजगार की प्राप्ति हो सके। बता दें की इस योजना की अवधि अब 2 वर्षों की है। इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च 2022 तक की है।

पीएम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 के अंतर्गत उन सभी कर्मचारियों को लाभ मिलेगा जो  कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) के सदस्य हैं। खासकर वो जिन्होंने अक्टूबर 2020 के बाद जॉइनिंग ली है। बता दें की इन नागरिकों को कर्मचारी के तौर पर रोजगार प्रदान कराने वाली कंपनी के नियोक्ताओं को भी लाभ प्रदान किया जाएगा। इन कंपनियों को निर्धारित न्यूनतम नई नियुक्ति देने पर आर्थिक लाभ होगा। जानकारी के लिए बता दें की इसका लाभ उन्ही कंपनियों को होगा जिसमें कम से कम 50 कर्मचारी हों। सरकार द्वारा कंपनी के नियोक्ताओं और कर्मचारियों के ईपीएफ के 12 % -12% प्रतिशत का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा।

Highlights of Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana

आर्टिकल का नाम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना 2022 रजिस्ट्रेशन
योजना का नाम Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana
वर्तमान वर्ष 2022
योजना की श्रेणी केंद्र सरकार की योजना
शुरुआत की गयी 1 अक्टूबर 2020
आवेदन की अंतिम तिथि 31 मार्च 2022
उद्देश्य रोजगार उपलब्ध कराना
लाभार्थी देश के नागरिक
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन आवेदन
आधिकारिक वेबसाइट Aatmanirbharbharat (mygov.in)

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का उद्देश्य

देश में हर साल बेरोजगारों की संख्या में वृद्धि हो रही है। बेरोजगारों को नौकरी की तलाश है। वहीँ कोरोना महामारी के चलते बहुत से लोगों को अपना रोजगार खोना पड़ा था। ऐसे में आय का साधन खत्म होने से सभी को महामारी के समय बहुत परेशानियों का सामना करना। इसी बात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने आर्थिक सुरक्षा देने और रोजगार के नए अवसर खोलने के लिए आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना (ABRY) की शुरुआत की गयी है। इस योजना के अंतर्गत रोजगार के नए अवसर उत्पन्न किये जाएंगे। जिससे देश में बेरोजगारी कम हो और नागरिक आत्मनिर्भर बन सकें।

कर्मचारियों के साथ साथ नियोक्ता कंपनी को भी लाभ

पीएम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत रोजगार के नए अवसर उत्पन्न किये जाएंगे। इस योजना कीशुरुआत इसी उद्देश्य के साथ की गयी थी। इस के माध्यम से सरकार नियोक्ताओं और नए कर्मचारियों को प्रोत्साहन दिया जाएगा। इस प्रोत्साहन के तौर पर सरकार द्वारा ईपीएफ का योगदान (दोनों का मिलकर कुल 24 प्रतिशत) प्रदान किया जाएगा। ये प्रोत्साहन पंजीकरण के 2 वर्षों तक के लिए दिया जाएगा। इस में लाभ नौकरी / रोजगार देने वाली कंपनी और उसके कर्मचारियों को भी मिलता है।

कृपया ध्यान दें की किसी कंपनी को योजना का लाभ इस आधार पर दिया जाता है की उसने कितने कर्मचारियों की नई नियुक्ति की है। यदि कंपनी द्वारा 15 हजार रूपए से कम सैलरी वाले कर्मचारियों को रोजगार प्रदान करती है तो ये आवश्यक है की ये नौकरी कर्मचारियों को कम से कम 24 माह यानी 2 वर्षों के लिए देगी। आत्मनिर्भर भारत रोजगार स्कीम के अंतर्गत सरकार कर्मचारियों के लिए अधिक रोजगार के अवसर उपलब्ध करावा रही है। बता दें की 27 नवम्बर 2021 तक 39.59 लाख लोगों को रोजगार का लाभ (Employment Benefits) मिला है।

Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana से ये हैं लाभ

  • बता दें की आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की शुरुआत कोविड में अपना रोजगार खो चुके नागरिकों को ध्यान में रखकर शुरू की गयी थी।
  • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के तहत उन सभी नागरिकों को रोजगार के अन्य अवसर प्राप्त होंगे।
  • सभी योग्य नागरिकों को इस योजना के अंतर्गत रोजगार प्राप्त होने से उनकी आर्थिक स्थिति सुधरेगी। यही नहीं , इस से देश की आर्थिक स्थिति में भी उछाल आएगा।
  • यही नहीं जिस कंपनी के नियोक्ता निर्धारित न्यूनतम संख्या में नियुक्ति करेंगे , उन्हें भी इस योजना के अंतरगत लाभ प्राप्त होगा।
  • सरकार द्वारा 1 अक्टूबर 2020 से हुए प्रत्येक नियुक्ति के आधार पर लाभ प्रदान करेगी। जिससे नियोक्ता और कर्मचारी दोनों को ही आर्थिक लाभ होगा।
  • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा नियोक्ता और कर्मचारी के 12 – 12 % प्रतिशत ईपीएफ में जमा किया जाएगा।
  • बता दें की  आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना में वर्ष 2020-23 तक के लिए 22810 करोड़ रूपये का बजट पारित किया गया है।

पीएम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की विशेषताएं

  1. पीएम आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत जिन नागरिकों ने कोविड – 19 के चलते अपना रोजगार खो दिया है , उन्हें लाभान्वित किया जाएगा।
  2. केंद्र सरकार द्वारा लायी गयी आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना (ABRY) के तहत सभी योग्य आवेदक 31 मार्च 2022 तक इस में आवेदन कर सकते हैं।
  3. इस योजना (आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना) के अंतर्गत पात्रता रखने वाले प्रतिष्ठानों के नियोक्ताओं और नए कर्मचारियों को प्रोत्साहित करने के लिए लाभ प्रदान किया जाएगा।
  4. वो ईपीएफओ में पंजीकृत नियोक्ता जो अक्टूबर 2020 के बाद किसी नए कर्मचारी की नियुक्ति करते हैं तो उन्हें इस योजना के अंतर्गत अगले 2 वर्षों के लिए लाभ मिलेगा।
  5. जिन कर्मचारियों की न्यूनतम 15000 रूपए का वेतन है उन्हें आत्मनिर्भर रोजगार योजना में लाभ मिलेगा।
  6. Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana में जिन यूनिवर्सल अकाउंट नंबर धारक कर्मचारियों को 15 हजार रूपए या उससे कम वेतन मिलता है। वो लाभान्वित होंगे। साथ ही जो 1 मार्च से 30 सितंबर तक कोविड की वजह से रोजगार से हाथ धो बैठे हैं और किसी भी इपीएस कवर स्थापना में 30 सितंबर तक रोजगार में शामिल नहीं हुए हैं , वो भी योजना के अंतर्गत पात्रता रखेंगे।
  7. इस योजना (Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana ) के अंतर्गत नए नियुक्त हुए कर्मचारियों को दो वर्ष के लिए ईपीएफ आर्थिक सहायता के रूप में सब्सिडी प्राप्त होगी।
  8. वो पंजीकृत प्रतिष्ठान जो कि 1000 नए कर्चारियों को नियुक्ति देंगे वहां नियोक्ता का योगदान और कर्मचारी का योगदान कुल वेतन का 24 परसेंट होगा , जिसका भुगतान सरकार करेगी।
  9. वहीँ 1000 से अधिक नियुक्तियां देने वाले संस्थानों में सरकार केवल कर्मचारियों के ईपीएफ का भुगतान करेगी।
  10. आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना में तभी लाभ मिलेगा जब पंजीकृत प्रतिष्ठान  निर्धारित न्यूनतम संख्या में नए कर्मचारियों की नियुक्ति करेगा। अन्यथा उन्हें इस योजना के लाभ का पात्र नहीं माना जाएगा।
आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के ये हैं दस्तावेज

Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana का लाभ लेने के लिए संस्थानों और आवेदक कर्मचारियों को अपना पंजीकरण ईपीएफओ (कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ) में पंजीकरण कराना होगा। दस्तावेज के लिए उन्हें अपना पहचान पत्र जैसे की आवेदक के आधार कार्ड की आवश्यकता होगी।

  • आधार कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • ईपीएफओ पंजीकरण
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक डिटेल्स
  • UAN नंबर
  • ईमेल आईडी।
Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana की पात्रता
  1. आवेदनकर्ता कर्मचारी भविष्य निधि संगठन यानी ईपीएफओ के साथ पहले से पंजीकृत नहीं होना चाइये।
  2. आवेदक की मासिक आय 15 हजार या उस से कम ही होनी चाहिए।
  3. जिन्होंने 1 अक्टूबर 2020 से पहली बार ज्वाइन किया हो।
  4. वो आवेदक जिन्होंने 01 मार्च से 30 सितंबर 2020 के बीच लॉकडाउन में नौकरी गँवा दी और इस के बाद अक्टूबर में फिर से नौकरी मिली, वे भी इस योजना में लाभ ले सकते हैं। बावजूद इसके कि उन सभी को ईपीएफओ में पंजीकृत नहीं किया गया हो।

प्रतिष्ठानों हेतु ये हैं पात्रता मानदंड :

  1. इस योजना का लाभ लेने के लिए प्रतिष्ठानों का भी ईपीएफओ में पंजीकरण होना चाहिए।
  2. ईपीएफओ में पंजीकृत वो संस्थान जिन्होंने 1 अक्टूबर 2020 से नए कर्मचारियों की नियुक्ति की है , उन्हें योजना के अंतर्गत लाभ लेने हेतु पात्र माना जाएगा।
  3. वो संस्थान जहाँ कम से कम 50 कर्मचारी नियुक्त हैं , उन्हें कम से कम 2 नई नियुक्ति की हों।
  4. वहीँ जिन संस्थानों में 50 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं उन्हें न्यूनतम 5 नए कर्मचारियों की नियुक्ति की होगी। तभी वो इस योजना (Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana ) का लाभ उठा सकेंगे।

Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana Registration

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना में लाभ लेने के लिए ये आवश्यक है की आवेदक का ईपीएफओ – कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) में पंजीकरण होना चाहिए। ये कर्मचारियों के अतिरिक्त सभी प्रतिष्ठानों के लिए भी आवश्यक है। इस के लिए हम आप को आगे लेख में पंजीकरण हेतु पूरी प्रक्रिया बता रहे हैं। –

नियोक्ताओं के लिए (For Employers ) :

  • पंजीकरण के लिए आप को सबसे पहले कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO ) की आधिकारिक वेबसाइट www.epfindia.gov.in पर जाना होगा।
  • अब स्क्रीन पर होम पेज खुल जाएगा , जहाँ आप को सेवा अनुभाग (Services) पर जाना होगा।
  • यहाँ ड्राप डाउन मेन्यू में से आप को For Employers के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस के बाद अगला पेज खुलेगा जहाँ आप को Online Registration of Establishment के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • यदि आप पहले से श्रम सुविधा पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो आप यहाँ यूजर आईडी और पासवर्ड के साथ लॉगिन कर सकते हैं , अन्यथा आप Sign Up के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद एक छोटा सा फॉर्म भरना होगा।
  • यहाँ आप को अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, वेरिफिकेशन कोड भरने के बाद sign up के बटन पर क्लिक करें।
  • इस तरह से आप की पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

कर्मचारियों के लिए (For Employee ) :

  • सबसे पहले ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • होम पेज खुलने पर सर्विसेज के टैब पर क्लिक करें।
  • अब आप को Employees के टैब पर क्लिक करना है।
  • रजिस्टर हियर पर क्लिक करें।
  • पूछी गयी सभी जानकारी भरें। और सबमिट पर क्लिक कर दें।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना से संबंधित प्रश्न उत्तर

Pradhanmantri Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana क्या है ?

ये योजना केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गयी है , जिसमें रोजगार के नए नए और अधिक अवसर खोले जाएंगे। जो भी कम्पनिया निर्धारित न्यूनतम नियुक्तियां करेगी उन्हें और उनके नए कर्मचारियों को इसमें लाभ प्रदान किया जाएगा।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना को शुरू करने का उद्देश्य क्या था ?

इस योजना की शुरुआत का उद्देश्य देश में बेरोजगारी को खतम करना था। इस के साथ ही कोरोना महामारी के दौरान अपनी अपनी नौकरियों से हाथ धो बैठे लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए योजना की शुरुआत की।

Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana का लाभ किसे मिलेगा ?

जो भी कंपनी / संस्थान / प्रतिष्ठान ईपीएफओ में पंजीकृत हैं उन्हें आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के माध्यम से लाभ मिलेगा। इस के साथ ही वो सभी नागरिक जो ईपीएफओ में पंजीकृत हैं और 1 अक्टूबर 2020 से नौकरी शुरू कर रहे हैं।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना में आवेदन हेतु कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है ?

इस योजना में पंजीकरण के लिए आवश्यक है की आप ईपीएफओ में पजीकृत हों। इस के लिए आप को इन दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है – आवेदक का आधार कार्ड , मोबाइल नंबर , बैंक अकाउंट डिटेल्स , आय प्रमाण पत्र , UAN नंबर और ईमेल आईडी।

Aatmnirbhar Bharat Rozgar Yojana की आधिकारिक वेबसाइट कौन सी है ?

प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना की आधिकारिक वेबसाइट है – aatmanirbharbharat.mygov.in 

हेल्पलाइन नंबर

आज इस लेख के माध्यम से हमने आप को आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के बारे में सभी आवश्यक जानकारी देने का प्रयास किया है। उम्मीद करते हैं की आप को ये जानकारी उपयोगी लगी हो। यदि आप को इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए तो आप हमे नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से बता सकते हैं। इस के अतिरिक्त हम योजना के अंतर्गत निर्धारित की गयी हेल्पलाइन नंबर भी यहां उपलब्ध करा रहे हैं। आप इस टोल फ्री नंबर पर कॉल करके योजना से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर – 1800118005

Leave a Comment