राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2021 : rajudyogmitra.rajasthan.gov.in ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | rajudyogmitra.rajasthan.gov.in Portal Apply | राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल आवेदन फॉर्म | Rajasthan Udyog Mitra Portal | राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल

राजस्थान सरकार द्वारा राज्य में उद्योग क्षेत्र को बढ़ावा देने व उद्यमियों को उनके स्वरोजगार की स्थापना करने हेतु प्रोत्साहन देने के लिए राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल का आरम्भ 12 जून 2019 को किया गया, इस पोर्टल का प्रबंधन सूचना एवं संपर्क विभाग राजस्थान (DIPR) द्वारा किया जा रहा है। पोर्टल पर राज्य के पंजीकृत उद्यमियों को उनके लघु , सूक्ष्म व मध्यम वर्ग के उद्योग को स्थापित करने के लिए सहयोग प्रदान किया जाता है, साथ ही पोर्टल पर उद्योग विभाग से संबंधित सभी जानकारी आवेदकों को प्राप्त हो सकेगी, इसके लिए आवेदकों को पोर्टल पर खुद को पंजीकृत करना आवश्यक होगा। राज्य के जो भी आवेदक अपने नए व्यापार व उद्योग की शुरुआत करने के लिए राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल के माध्यम से प्रदान किये जाने वाले लाभ की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं वह इसे हमारे लेख के माध्यम से प्राप्त कर सकेंगे।

राजस्थान-उद्योग-मित्र-पोर्टल

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल

दोस्तों जैसा की आप सब जानते हैं की राजस्थान सरकार नई-नई योजनाओं व पोर्टल को लांच कर राज्य में औधोगिकरण को बढ़ावा देने के लिए बहुत से प्रयास कर नागरिकों को उनके नए उद्योग की शुरुआत करने में प्रोत्साहन प्रदान करवाती है। राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल भी राजस्थान सरकार द्वारा उद्यमियों को उनके खुद के उद्योग को स्थापित करने हेतु शुरू किया गया पोर्टल है, जिसे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी द्वारा राज्य में नागरिकों को उद्योग की स्थापना की प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए जारी किया गया है। पोर्टल के माध्यम से पंजीकृत नागरिको को राज्य में सभी कानूनों के तहत 3 वर्ष के लिए उद्योग स्थापित करने के लिए अनुमोदन व निरक्षण से छूट मिल सकेगी, इसके लिए उन्हें कंप्यूटर द्वारा जेनरेट पावती प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाएगा, जिसकी वैधता जारी होने के बाद से 3 वर्ष तक रहती है, इससे आवेदकों को राज्य में कहीं भी अपने उद्योग की स्थापना हेतु राज्य सरकार से अनुमति लेने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

Rajasthan Udyog Mitra Portal : Details

पोर्टल का नामराजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल
शुरुआत की गई राज्य सरकार द्वारा
साल 2021
विभाग राजस्थान उद्योग विभाग
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
लाभार्थी उद्योग स्थापित करने वाले नागरिक
उद्देश्यनागरकों को उद्योग की स्थापना हेतु सहयोग प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट rajudyogmitra.rajasthan.gov.in

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल 2021 पंजीकरण

इस पोर्टल के माध्यम से वह आवेदक जो अपने नए उद्योग की स्थापना के लिए आवेदन करना चाहते हैं वह अब घर बैठे ही आसानी से खुद को उद्योग मित्र पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकृत कर सकेंगे। इसके लिए आवेदकों को उद्योग मित्र पोर्टल 2021 हेतु आवेदन के समय किसी तरह का आवेदन शुल्क भरने की आवश्यकता नहीं पडेगी, आवेदन पूरी तरह से निशुल्क होगा। जिसके बाद आवेदकों को पावती प्रमाण पत्र प्राप्त हो सकेगा। इससे आवेदक को सभी तरह की समस्या कम हो सकेगी और उन्हें स्वीकृति व निरक्षण के बिना ही खुद के उद्योग की शुरुआत के लिए सहयोग प्राप्त हो सकेगा और उद्यमियों के लिए उनके व्यापार शुरू करने की प्रक्रिया बेहद ही आसान व सरल हो जाएगी।

उद्योग मित्र पोर्टल का उद्देश्य

राज्य सरकार द्वारा उद्योग मित्र पोर्टल को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में औधोगिकरण को बढ़ावा देकर नए उद्यमियों के लिए उनके उद्योग की स्थापना करने की प्रकरिया को सरल बनाना है, जिससे वह उद्यमी जो अपने स्टार्टअप व व्यापार की शुरुआत करना चाहते हैं, उन्हें उसे आरम्भ करने के लिए समस्याओं का सामना नही करना पड़ेगा, क्योंकि किसी भी लघु व सूक्ष्म उद्योग की स्थापना हेतु आम नागरिकों को सरकारी कार्यलयों व राज्य सरकार से इसकी स्थापना हेतु इसके निरक्षण व अनुमति के लिए बहुत से चक्कर काटने पड़ते थे, जिसके कारण सरकारी अनुमति मिलने की प्रक्रिया पूरी होने में नागरिकों के समय की काफी बर्बादी हो जाती थी, या बहुत से नागरिक इन समस्याओं के कारण अपना कार्य अधूरा ही छोड़ देते है, इनकी इसी समस्या को हल करने और इन्हे आसानी से उद्योग की शुरुआत हेतु सरकार द्वारा पोर्टल पर पंजीकृत कर को पावती प्रमाण पत्र जारी कर इन्हे तीन वर्षों तक बिना किसी अनुमोदन व निरक्षण के अपने उद्योग को शुरू करने की सुविधा प्रदान करती है।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल के लाभ एवं विशेषताएँ

उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन करने वाले नागरिकों को मिलने वाले लाभ की जानकरी कुछ इस प्रकार है।

  • राज्य के नागरिकों को उनके उद्योग की स्थापना के लिए प्रोत्साहन देने व इससे जुडी अन्य सुविधा देने हेतु सरकार द्वारा उद्योग मित्र पोर्टल का आरम्भ किया गया है।
  • इस पोर्टल का आरम्भ राजस्थान के मुख्यमंत्री जी द्वारा 12 जून 2019 को किया गया था।
  • पोर्टल पर आवेदन के लिए वह आवेदक जो पोर्टल पर अपने लघु , सूक्ष्म व मध्यम वर्ग के उद्योग की स्थापना हेतु आवेदन करना चाहते हैं व ऑनलाइन माध्यम से घर बैठे ही आवेदन कर सकेंगे।
  • यह पोर्टल नए उद्योगों की स्थापना के मार्ग को सरल बनाने के लिए एमएसएमई की एक अग्रणी पहल है।
  • राज्य के 8 हजार से भी अधिक उद्यमियों को एकनॉलेजमेंट सर्टिफिकेट (पावती प्रमाण पत्र) प्राप्त हो चुके हैं।
  • राज्य के पंजीकृत नागरिकों को सरकार द्वारा किसी भी राज्य कानून के तहत उद्योग व स्टार्टअप की स्थापना हेतु अनुमोदन व निरक्षण से पूरी छूट मिल सकेगी।
  • पंजीकृत आवेदकों को यह छूट पूरे तीन साल के लिए प्रदान की जाएगी, जिसके लिए उन्हें पावती प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाएगा।
  • पोर्टल पर आवेदन के लिए नागरिकों को किसी प्रकार का आवेदन शुल्क जमा करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • आवेदकों के लिए को आवेदन के समय दस्तावेज जमा करने की अनिवार्यता नहीं रखी गई है।
  • आवेदकों को मिलने वाली पावती प्रमाण पत्र की वैधता पूरे तीन वर्ष तक वैध रहेगी, जिसके रहते उन्हें अपने उद्योग की स्थापना लेने के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने व अपना समय व्यर्थ करने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • आवेदक की पावती की वैधता पूरी हो जाने के बाद उन्हें 6 महीने के भीतर ही सभी अनुमोदन व निरिक्षण करवाना आवश्यक होगा।
  • इस पहल से राजय में उद्यमियों को बढ़ावा मिलने से औधोगिकरण को भी बढ़ावा मिल सकेगा, जिससे राज्य में बेरोजगारी जैसी समस्या भी कम हो सकेगी।

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल की पात्रता

पोर्टल पर आवेदन के लिए आवेदकों को इसकी कुछ पात्रताओं को पूरा करना आवश्यक होगा, जिसे पूरा करने वाले नागरिक ही आवेदन के पात्र होंगे।

  • इस पोर्टल पर राजस्थान के स्थाई नागरिक जो अपने उद्योग की स्थापना हेतु लाभ प्राप्त करना चाहते हैं, वह सभी आवेदन के पात्र होंगे।
  • वह नागरिक जिनके द्वारा 4 मार्च 2019 के बाद अपने उद्योग की स्थापना की गई है, वह भी पोर्टल पर आवेदन कर सकेंगे।
  • जो आवेदक सूक्ष्म, लघु और माध्यम वर्ग के उद्योग की स्थापना करना चाहते हैं, वह सभी एमएसएमईडी 2006 के अंतर्गत खुद को पंजीकृत कर सकेंगे।
  • पोर्टल पर आवेदन के लिए आवेदक का मोबाइल नंबर उनके आधार रजिस्टर्ड होना अनिवार्य है।
उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन हेतु आवश्यक दस्तावेज

पोर्टल पर आवेदन के समय आवेदक को दिए गए दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ सकती है जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाता नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • निवास प्रमाण पत्र

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर पंजीकरण की प्रक्रिया

राज्य के जो भी आवेदक पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवाना चाहते हैं वह दी गई प्रकिया को पढ़कर खुद को पोर्टल पर पंजीकृत कर सकेंगे।

  • आवेदक को सबसे पहले राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलकर आ जाएगा, यहाँ होम पेज पर आपको Sign up का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा। उद्योग-मित्र-पोर्टल-ऑफिसियल
  • इसके बाद पंजीकरण हेतु आपके सामने राजस्थान सिंगल साइन ऑन की साइट खुलकर आ जाएगी।
  • यहाँ आपको Registration के विकल्प पर क्लिक करना होगा, इसके बाद आपको के विकल्प का चयन करना होगा।राजस्थान-उद्योग-मित्र-पोर्टल
  • अब आवेदक को रजिस्ट्रेशन के लिए अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी को अपलोड कर देनी होगी।
  • अब भरी गई जानकारी व दस्तावेजों की जाँच कर लेने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक कर लेना होगा।
  • इस तरह आपका पंजीकरण हो जाएगा, जिसके बाद आपको अपने यूजर आईडी और पासवर्ड के माध्यम से पोर्टल पर लॉगिन करना होगा।
  • लॉगिन हो जाने के बाद आपके सामने योजना का आवेदन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आवेदन फॉर्म में माँगी गई सभी जानकारी भरकर आपको उसमे सभी दस्तावेजों को अपलोड कर देना होगा।
  • अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना होगा
  • जिसके बाद पोर्टल पर आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

उद्योग मित्र पोर्टल क्वेरी दर्ज करने की प्रक्रिया

पोर्टल पर क्वेरी यानी किसी तरह क्र प्रश्न पूछने या कोई जानकारी दर्ज करने के लिए आवेदक इसमें क्वेरी दर्ज कर सकते हैं, जिसकी प्रक्रिया आवेदक दिए गए स्टेप्स को पढ़कर फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको Query का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने क्वेरी दर्ज करने के लिए फॉर्म खुलकर आ जाएगा। उद्योग-मित्र-पोर्टल-क्वेरी-दर्ज-प्रक्रिया
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकरी जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, आवेदन संख्या आदि सही से दर्ज करनी होगी।
  • इसके बाद आपको आपकी क्वेरी का विवरण दर्ज करके दिए गए कैप्चा कोड को दर्ज करना होगा।
  • सारी जानकरी भरकर आपको सबमिट के बटन पर क्लिक आकर देना होगा, जिसके बाद आपकी क्वेरी दर्ज हो जाएगी।

पोर्टल पर क्वेरी ट्रैक करने की प्रक्रिया

आवेदक द्वारा दर्ज की गई क्वेरी की स्थिति ट्रैक करने के लिए वह दिए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आवेदक को पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको Query का विकल्प दिखाई देगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अगले पेज पर Query Tracking के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा। उद्योग-मित्र-पोर्टल-क्वेरी-ट्रैकिंग
  • जिसमे आपको अपना Query/टिकट नंबर दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर लेना होगा।
  • जिसके बाद आपकी क्वेरी ट्रैकिंग की जानकारी खुलकर आ जाएगी।

उद्योग मित्र पोर्टल से जुड़े प्रश्न/उत्तर

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन हेतु इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

राजस्थान उद्योग मित्र पोर्टल पर आवेदन हेतु इसकी आधिकारिक वेबसाइट rajudyogmitra.rajasthan.gov.in है।

Rajasthan Udyog Mitra Portal का आरम्भ कब और क्यों किया गया है ?

Rajasthan Udyog Mitra Portal का आरम्भ राज्य सरकार द्वारा 12 जून 2019 को राज्य में उद्यमियों को उनके नए उद्योगों को सरलता व आसानी से स्थापित करने में प्रोत्साहन देने के लिए किया गया है।

पोर्टल पर पंजीकृत नागरिकों को क्या-क्या लाभ प्राप्त हो सकेगा ?

इस पोर्टल पर पंजीकृत नागरिकों को सरकार द्वारा किसी भी राज्य कानून के तहत अपने उद्योग व स्टार्टअप की स्थापना हेतु अनुमोदन व निरक्षण से पूरी छूट प्रदान की जाती है, जिससे नागरिक को उद्योग की स्थापना में होने वाले समस्याओं से छुटकारा मिल सकेगा।

आवेदकों को आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी ?

पोर्टल पर आवेदन के लिए दस्तवेजों को अपलोड करने की अनिवार्यता नहीं रखी गई है, आवेदन के लिए OTP ऑथेंटिकेशन हेतु आवेदक का केवल आधार कार्ड उनके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से पंजीकृत होना आवश्यक है।

राज्य के कौन-कौन से नागरिक आवेदन के पात्र होंगे ?

राज्य के स्थाई नागरिक जो अपने उद्योग की शुरुआत करना चाहते हैं, उनके साथ-साथ जिन्होंने 4 मार्च 2019 के बाद अपने उद्योग की स्थापना की है यह सभी आवेदन कर सकेंगे।

पोर्टल पर आवेदन के लिए इसकी आवेदन प्रक्रिया क्या है ?

पोर्टल पर आवेदन की प्रक्रिया ऊपर लेख में प्रदान की गई है, जिसे पढ़कर आप इसमें आवेदन कर सकते हैं।

उद्योग मित्र पोर्टल से जुडी किसी भी तरह की समस्या व जानकारी प्राप्त करने के लिए इसका हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

यदि आपको पोर्टल से संबंधित किसी भी तरह को जानकरी या समस्या हो तो आप इसके हेल्पलाइन नंबर : 0141-2227274/ 7812/ 7713 पर सम्पर्क कर सकते हैं।

उद्योग मित्र पोर्टल से सम्बंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और हमे उम्मीद है की यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी होगी इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या इससे संबंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में अपना प्रश्न पूछ सकते हैं, हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment