10वीं/12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स के बारे में जानिये पूरी जानकारी – Polytechnic After 10th or 12th

10वीं/12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स की पूरी जानकारी : दोस्तों जैसा की आप सभी जानते होंगे की 10 वीं और 12 वीं के बाद बच्चों के पास उनके करियर बनाने से संबंधित कई विकल्प मौजूद रहते हैं, ऐसे में बच्चों को किसी एक कोर्स का चयन कर पाना मुश्किल होता है। ऐसे में यदि आप 10 वीं पास भी और आगे की पढ़ाई से अलग कुछ प्रोफेशनल कोर्स करना चाहते हैं, तो आपके पॉलिटेक्निक कोर्स सबसे बेहतर विकल्प रहेगा। पॉलिटेक्निक कोर्स आपके करियर के लिए 10 वीं या 12 वीं के एक बेहतर विकल्प हो सकता है, यदि आप भी पॉलिटेक्निक कोर्स से संबंधित पूरी जानकारी जैसे कोर्स की अवधि, कोर्सेज की सूची, प्रवेश लेने की प्रक्रिया आदि प्राप्त करना चाहते हैं, तो इस लेख के माध्यम से हम आपको पॉलिटेक्निक कोर्स के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करेंगे।

Polytechnic After 10th or 12th
Polytechnic After 10th or 12th

Table of Contents

पॉलिटेक्निक कोर्स क्या है ?

पॉलिटेक्निक कोर्स एक तरह का डिप्लोमा कोर्स है, जिसका मतलब होता है इंजीनियरिंग में डिप्लोमा। पॉलिटेक्निक कोर्स में कई तरह की पढ़ाई करवाई जाती है यह एक शार्ट टर्म कोर्स है जिसमे छात्रों को तकनिकी ज्ञान दिया जाता है। इस कोर्स की अवधि लगभग 3 वर्ष की होती है, जिसके माध्यम से अभियर्थियों के व्यहवारिक कौशल का विकास किया जाता है, जिसके लिए उन्हें प्रैक्टिकल ट्रेनिंग दी जाती है। पॉलिटेक्निक कोर्स करने के लिए 10 वीं के बाद छात्रों को एक प्रवेश परीक्षा पास करनी होती है जिसके बाद परीक्षा में अच्छी रैंक लाने पर उन्हें अपना पसंदीदा ब्रांच को चुनने का मौक़ा मिल सकेगा, जिसके बाद कोर्स में आपको नियमित रूप से क्लास अटेंड करनी होती है। इस कोर्स को पूरा करने के बाद डिप्लोमा सर्टिफिकेट दिया जाता है, जिसके माध्यम से आप भविष्य में एक बेहतर रोजगार प्राप्त कर सकेंगे।

10 वीं के बाद पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्सेज की सूची

जो भी 10 वीं पास अभियार्थी हैं पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं, उनके लिए कौन-कौन से डिप्लोम कोर्सेज उपलब्ध है, इसकी जानकारी वह यहाँ दिए गए डिप्लोमा कोर्सेज की सूची को पढ़कर जान सकेंगे, जिनकी सूची निम्नानुसार है।

  • कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • जन संचार
  • प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी
  • सिविल इंजीनियरिंग
  • इंस्ट्रूमेंटेशन और नियंत्रण
  • आर्किटेक्चरल असिस्टेंटशिप
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • वैमानिकी
  • विमान रखरखाव
  • ग्लास और सिरेमिक इंजीनियरिंग
  • ग्रह विज्ञान
  • डेयरी इंजीनियरिंग
  • सूचना प्रौद्योगिकी
  • रासायनिक अभियांत्रिकी
  • कृषि अभियांत्रिकी
  • कपड़ा डिजाइन
  • फैशन डिजाइनिंग और गारमेंट टेक्नोलॉजी
  • सागर प्रबंधन
  • चंदा प्रौद्योगिकी
  • आंतरिक सजावट और डिजाइन
  • पेंट टेक्नोलॉजी
  • होटल प्रबंधन और खानपान सेवा
  • कपड़ा रसायन
  • पुस्तकालय और सूचना विज्ञान
  • आधुनिक कार्यालय प्रबंधन और सचिवीय अभ्यास
  • वाणिज्यिक अभ्यास
  • प्लास्टिक और मोल्ड प्रौद्योगिकी

पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए प्रवेश हेतु पात्रता

पॉलिटेक्निक कोर्स में प्रवेश के लिए अभियार्थी को इसकी निर्धारित पात्रता को पूरा करना होगा, जिसे पूरा करने वाले अभियार्थी ही कोर्स के लिए आवेदन के पात्र होंगे जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • वह अभियार्थी जो इंजीनियरिंग डिप्लोमा कोर्स करना चाहते हैं, तो उन्हें कम से कम 10 वीं पास होना आवश्यक है, यह परीक्षा अभियार्थी द्वारा किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से अंग्रेजी, गणित, और विज्ञान के विषय में पास की गई होनी चाहिए।
  • कोर्स के लिए आरक्षित श्रेणी के अभियार्थियों को आयु में छूट प्रदान की जाएगी।
  • जो अभियार्थी होटल मैनेजमेंट, टूरिज्म मैनेजमेंट या फार्मेसी डिप्लोमा करना चाहते हैं उनकी शैक्षणिक योग्यता 12 वीं पास होनी आवश्यक है।

Polytechnic Course के लिए आवश्यक दस्तावेज

पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए आवेदन हेतु आवेदक के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक हैं, बिना पूरे दस्तावेजों के योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

स्थाई निवास प्रमाण पत्र
स्कूल छोड़ने का स्थानांतरण प्रमाण पत्र
चरित्र प्रमाण पत्र
प्रवास प्रमाण पत्र
10 वीं और 12 वीं की मार्कशीट
जाति प्रमाण पत्र (आर्कषित वर्ग छात्रों के लिए)
दी गई परीक्षा का स्कोर बोर्ड
प्रवेश परीक्षा हेतु अभियार्थी के लिए जारी प्रवेश पत्र

पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए एडमिशन प्रक्रिया

उम्मीदवार जो पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए आवेदन करना चाहते हैं, उन्हें राज्यों के अनुसार दो माध्यम से एडमिशन प्राप्त हो सकता है पहला मेरिट के आधार पर और दूसरा एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से तो चलिए जानते हैं एडमिशन प्रक्रिया की पूरी जानकारी।

  • मेरिट के आधार पर प्रवेश – इस प्रक्रिया में किसी तरह की प्रवेश परीक्षा आयोजित नहीं करवाई जाती, इसमें उम्मीदवारों का चयन उनकी 10 वीं और 12 वीं परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर होता है, प्रतियेक राज्य के अनुसार प्रवेश प्रक्रिया और आवेदन शुल्क अलग निर्धारित है, जिसमे मेरिट के आधार पर प्रवेश के लिए उम्मीदवारों को राज्य की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन की प्रक्रिया पूरी करनी होती है, इसमें उम्मीदवार को एप्लीकेशन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी भरकर आवेदन शुल्क भरना होता है। जिसके बाद कॉलेज इंस्टिट्यूट द्वारा मेरिट के आधार पर उम्मीदवारों की लिस्ट तैयार की जाती है और निर्धारित सीटों पर एडमिशन के लिए छात्रों को काउंसलिंग में बुलाया जाता है।
  • एंट्रेंस प्रवेश परीक्षा के आधार पर – एंट्रेंस प्रवेश परीक्षा के आधार पर देश के कई राज्यों में उम्मीदवारों का चयन किया जाता है। जिसमे उम्मीदवारों को एडमिशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण करना होता। एंट्रेंस परीक्षा के लिए उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन के बाद एडमिट कार्ड डाउनलोड करके इसका प्रिंटआउट निकालकर ऑफलाइन परीक्षा में शामिल हो सकते हैं। जिसके बाद परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को एडमिशन के लिए काउंसलिंग में बुलाया जाता है जहाँ उनके डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद उन्हें एडमिशन दिया जाता है।

देश के राज्यों में उपलब्ध पॉलिटेक्निक डिपोल्मा और प्रवेश प्रक्रिया

देश में राज्यों अनुसार विभिन्न पॉलिटेक्निक डिप्लोमा पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं, इन सभी डिपोल्मा पाठ्यक्रम की पात्रता, प्रवेश प्रक्रिया आधिकारिक वेबसाइट की जानकैर आपको यहाँ प्रदान की गई है।

आंध्र प्रदेश पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-डिप्लोमा इन नॉन-इंजीनियरिंग
पात्रता – उम्मीदवार भारत के स्थाई निवासी होने चाहिए, वह आंध्र प्रदेश या तेलंगाना के स्थाई निवासी हो और किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से 10 वीं की कक्षा पास की गई होनी चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – आंध्र प्रदेश पॉलिटेक्निक (कॉमन एंट्रेंस टेस्ट) CET
आधिकारिक वेबसाइट – appolycet.nic.in
असम पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-मॉडर्न ऑफिस मैनेजमेंट (केवल लड़कियों के लिए)
पात्रता – उम्मीदवार भारत की नागरिक होनी चाहिए, केवल लड़कियाँ ही आवेदन के पात्र होंगी, असम हायर सेकेंडरी एजुकेशन कॉउंसलिंग से 10 वीं पास या विज्ञान, गणित के साथ समकक्ष परीक्षा को पास करना अनिवार्य है (केवल इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम)
प्रवेश परीक्षा – ऑफलाइन परीक्षा
अरुणाचल प्रदेश पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी डिप्लोमा इन नॉन-इंजीनियरिंग डिप्लोमा इन होटल एंड कैटरींग मैनेजमेंट (12 वीं के बाद)
पात्रता – उम्मीदवार भारत की नागरिक होनेचाहिए, अरुणाचलन प्रदेश के स्थाई निवासी उम्मीदवारों को किसी बह मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं कक्षा पास होना आवश्यक है।
प्रवेश परीक्षा – अरुणाचल प्रदेश संयुक्त प्रवेश परीक्षा (AP Joint Entrance Exam)
आधिकारिक वेबसाइट – http://apdhte.nic.in/
बिहार पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम – पॉलिटेक्निक इंजीनियरिंग (PE) – पारा-मेडिकल-डेंटल (पीएमड मैट्रिक स्तर) पार्ट टाइम पॉलिटेक्निक इंजीनियरिंग (पीपीई) पारा मेडिकल (पीएम इंटरमीडिएट स्तर) कार्यक्रम
पात्रता – उम्मीदवार भारत की नागरिक होने चाहिए, बिहार के स्थाई निवासी उम्मीदवारों को किसी बह मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं कक्षा पास (पीपीई, पीएमडी, पीई) और 12 वीं पास मान्यता प्राप्त बोर्ड से (पीएम इंटरमीडिएट स्तर) होना आवश्यक है।
प्रवेश परीक्षा – डिप्लोमा सर्टिफिकेट प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा (DCECE)
आधिकारिक वेबसाइट – bceceboard.bihar.gov.in
दिल्ली पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-मॉडर्न ऑफिस प्रैक्टिस (12 वीं के बाद) डिप्लोमा कोर्स इन फार्मेसी (12 वीं के बाद)
पात्रता – उम्मीदवार भारत की नागरिक हो, जो दिल्ली के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से कम से कम 35% एग्रीगेट या विज्ञान, अंग्रेजी और गणित में कम से कम 3.7 CGPA या इंजीनियरिंग और तकनिकी पाठ्यक्रमों के लिए 3.7 CGPA से पास होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – दिल्ली सीईटी (Delhi Common Entrance Test)
गुजरात पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-डिप्लोमा इन नॉन-इंजीनियरिंग
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, गुजरात के स्थाई निवासी जो किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं पास होने आवश्यक है।
प्रवेश परीक्षा – व्यावसायिक डिप्लोमा पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश समिति (ACPDC)
झारखंड पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-डिप्लोमा इन नॉन-इंजीनियरिंग
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, झारखंड के स्थाई निवासी जो किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से 10 वीं पास होने आवश्यक है।
प्रवेश परीक्षा – JCECEB JPECE (झारखंड पॉलिटेक्निक प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा)
कर्नाटक पॉलिटेक्निक पाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-डिप्लोमा इन नॉन-इंजीनियरिंग
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, कर्नाटक के स्थाई निवासी जो किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से विज्ञान और गणित में 10 वीं पास होने चाहिए साथ ही कर्नाटक बोर्ड के अलावा अन्य सचिव, तक्नीकी शिक्षा बोर्ड द्वारा जारी प्रमाण पत्र का उत्पादन करना होगा, बैंगलोर माध्यम छात्रों को 5% आरक्षण दिया जाएगा।
प्रवेश परीक्षा – कर्नाटक पॉलिटेक्निक
केरल पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – इंजीनियरिंग/प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, केरल के स्थाई निवासी को किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से एसएसएलसी, टीएचएसएलसी या केरल राज्य या केरल राज्य या गणित, विज्ञान या अंग्रेजी जैसे विषयों से समकक्ष परीक्षा पास होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – आवेदक उम्मीदवार को प्रवेश उनकी 10 वीं और 12 वीं कक्षा के अंकों के आधार पर दिया जाएगा।
आधिकारिक वेबसाइट – www.polyadmission.org
मध्य प्रदेश पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, मध्य प्रदेश के स्थाई निवासी हो जो किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से विज्ञान और गणित के साथ 10 वीं कक्षा पास होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – एमपी पीपीटी (MP Pre Polytechnic Test)
आधिकारिक वेबसाइट – www.mptechedu.org
महाराष्ट्र पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी डिप्लोमा इन होटल मैनेजमेंट डिप्लोमा इन फार्मेसी
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, महाराष्ट्र के स्थाई निवासी उम्मीदवार किसी भी मन्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं की परीक्षा पास होने चाहिए, जो अंग्रेजी, विज्ञान और गणित जैसे अनिवार्य विषयों में 35% अंक से पास हो।
प्रवेश परीक्षा – MSBTE (महारष्ट्र राज्य तकनीकी शिक्षा बोर्ड)
पंजाब पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/गैर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, महाराष्ट्र के स्थाई निवासी उम्मीदवार किसी भी मन्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं की परीक्षा अनिवार्य विषयों के रूप में गणित और विज्ञान के साथ पास होने चाहिए। उम्मीदवारों के लिए प्रवेश की कोई आय निर्धारित नहीं की गई है।
प्रवेश परीक्षा – उम्मीदवार को प्रवेश उनके 10 वीं या 12 वीं के अंकों के आधार पर दिया जाएगा।
आधिकारिक वेबसाइट –
उत्तराखंड पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – इंजीनियरिंग में डिप्लोमा/गैर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, उत्तराखंड के स्थाई निवासी उम्मीदवार किसी भी मन्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से 10 वीं और 12 वीं की परीक्षा उत्तीर्ण होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – JEEP(संयुक्त इंजीनियरिंग परीक्षा टेक्निकल या उत्तराखंड टेक्निकल)
आधिकारिक वेबसाइट – www.ubter.in
तमिलनाडु पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग/टेक्नोलॉजी-डिप्लोमा इन कैटरिंग (12 के बाद )
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो और तमिलनाडु के किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10 वीं और 12 वीं पास होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – उम्मीदवारों का चयन उनके 10 वीं और 12 वीं के अंकों के आधार पर मेरिट लिस्ट के आधार पर किया जाएगा।
आधिकारिक वेबसाइटhttp://www.tndte.gov.in/
तेलंगाना पॉलिटेक्निकपाठ्यक्रम – सभी इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम और गैर इंजीनियरिंग पाठ्यक्रम
पात्रता – उम्मीदवार भारत के नागरिक हो, तेलंगाना या आँधरा प्रदेश के स्थाई निवासी हो और विज्ञान और गणित में किसी मन्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम 35% अंकों से 10 वीं परीक्षा उत्तीर्ण होने चाहिए।
प्रवेश परीक्षा – तेलंगाना राज्य पॉलिटेक्निक कॉमन एंट्रेंस टेस्ट (TS POLYCET)
आधिकारिक वेबसाइट – polycetts.nic.in

पॉलिटेक्निक परीक्षा पैटर्न और करियर ऑप्शंस

परीक्षा पैटर्न – पॉलिटेक्निक परीक्षा पैटर्न में आपको ऑफलाइन परीक्षा देनी होगी, जिसमे आपको बहुविकल्पीय प्रश्नों (Objective Type) मिलेंगे यहाँ आपको चार विकल्पों में से किसी एक सही विकल्प का चयन करना होगा। परीक्षा में नेगटिव मार्किंग भी रखी गई है, जिसमे प्रत्येक गलत उत्तर पर आपके अंक काटे जाएँगे।

करियर ऑप्शंस – पॉलिटेक्निक कोर्स पूरा करने के बाद उम्मीदवारों के लिए कई करियर विकल्प ऑप्शन उपलब्ध हैं , जिनमे कोर्स पूरा होने पर कई सरकारी व गैर-सरकारी कंपनियों द्वारा उम्मीदवारों का चयन कर उन्हें प्लेसमेंट दिया जाता है .कोर्स पूरा होने के बाद उम्मीदवारों को डिग्री भी दी जाती है, जिसके माध्यम से वह खुद के लिए कई रोजगार प्राप्त कर 15000 से 25000 रूपये का प्रारम्भिक वेतन प्राप्त कर सकेंगे।

10 वीं के बाद पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्सेज से जुड़े प्रश्न/उत्तर

पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए शैक्षणिक योग्यता कितनी होनी चाहिए ?

पॉलिटेक्निक कोर्स के लिए शैक्षणिक योग्यता 10 वीं पास या 12 वीं पास होनी चाहिए।

Polytechnic Enjineering कोर्स से संबंधित कौन-कौन सी जॉब प्रोफ़ाइल उपलब्ध है ?

Polytechnic Enjineering कोर्स से संबंधित सिविल इंजीनियर, प्रोडक्ट डेवलपर, जूनियर इंजीनियर, सहायक डिजाइनर, कार्यकारी अधिकारी जैसे जॉब प्रोफ़ाइल उपलब्ध है।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स की अवधि कितने साल की होती है।

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा कोर्स की अवधि कितने साल की होती है।

फार्मेसी में डिप्लोमा में नौकरी के क्या विकल्प उपलब्ध है ?

फार्मेसी में डिप्लोमा में नौकरी के लिए अस्पताल में फार्मेसिस्ट, क्लिनिक, फार्मा कंपनियों के आरएंडडी विकल्प उपलब्ध है, जिसमे 15000 से 25000 रूपये का वेतन दिया जाता है।

10वीं/12वीं के बाद पॉलिटेक्निक कोर्स की पूरी जानकारी संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है और हमे उम्मीद है यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी होगी, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment