एमपी ऑनलाइन कियोस्क: MP Online KIOSK & सिटीजन रजिस्ट्रेशन | mponline.gov.in

मध्य प्रदेश सरकार ने अपने प्रदेश के नौजवानों को रोजगार के साधन देने के लिए विभिन्न योजनाओं को शुरू किया है। ऐसी ही एक योजना MP Online KIOSK है, जिसके माध्यम से प्रदेश के शिक्षित नौजवान अपना कियोस्क खोलकर कार्य कर सकते है। वर्तमान समय में देश के हर राज्य में पढ़े-लिखे बेरोजगार युवकों की संख्या में बढ़ोत्तरी होती जा रही है। इस प्रकार के जो भी नौजवान मध्य प्रदेश में रहते है और बेरोजगारी की समस्या से पीड़ित है तो वे मध्य प्रदेश सरकार की ई-गवर्नेंस पहल का लाभ ले सकते है। इसमें लाभार्थी को अपना कियोस्क सेण्टर खोलने के साथ दूसरे लोगों की सहायता करने का अवसर मिलेगा। एमपी कियोस्क राज्य के लोगों को सरकारी सेवाओं का फायदा देने वाला अच्छा साधन है।

कुछ वर्षों पहले तक नागरिको को सरकारी सुविधाओं का फायदा लेने के लिए सरकारी विभाग के ऑफिस में जाना पड़ता था। किन्तु अब नागरिक ज्यादातर सुविधाओं का लाभ कियोस्क ऑपरेटर के द्वारा ले सकते है। इस प्रकार से जिन लोगों को भी कंप्यूटर का ज्ञान है वो अपना केंद्र खोलकर ये सभी कार्य करके हर महीने 15 से 20 हजार रुपए कमा सकते है।

mp online kiosk and citizen registration
mp online kiosk and citizen registration
योजना का नामएमपी ऑनलाइन कियोस्क
कार्यान्वकमध्य प्रदेश सरकार
उद्देश्यनौजवानो को रोजगार देना
लाभार्थीप्रदेश के नागरिक
माध्यमऑनलाइन
श्रेणीसरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइटmponline.gov.in

Table of Contents

एमपी ऑनलाइन कियोस्क पोर्टल

एमपी ऑनलाइन में बहुत प्रकार की सेवाओं को देता है। इस प्रकार से लोगों को बहुत सी सेवाओं को प्रदान करने के लिए ऑनलाइन पोर्टल बनाया गया है। इस वेबपोर्टल के माध्यम से प्रदेश के हर भाग तक विभिन्न जरुरी सेवाओं को पहुँचाया जा सकता है। इसके साथ ही मध्य प्रदेश के डिजिटल इण्डिया मिशन को भी काफी मदद मिल जाएगी। चूँकि पोर्टल से ही नागरिको तक बहुत सी डिजिटल सेवाएँ पहुँच सकती है। पोर्टल पर बहुत सी ऑनलाइन सेवाएँ मिल रही है – जैसे स्कूल-कॉलेज की एडमिशन प्रोसेस, प्रदेश के राष्ट्रीय उद्यानों की ऑनलाइन टिकट बुकिंग, नौकरी के फॉर्म एवं प्रदेश की अन्य परीक्षा के ऑनलाइन फॉर्म इत्यादि।

MP Online KIOSK योजना के उद्देश्य

इस योजना के पोर्टल को शुरू करने के पीछे सरकार के दो प्रमुख उद्देश्य है पहला प्रदेश के नौजवानों को अपना सेंटर खोलकर रोजगार प्रदान करना और दूसरा राज्य के निवासियों को विभिन्न सरकारी विभागों की सुविधा उनके नजदीक के एमपीऑनलाइन केंद्र पर ही प्रदान करना। वर्तमान समय में बेरोजगारी की स्थिति में प्रदेश में ऐसे बहुत से नौजवान है जो रात दिन मेहनत करके कार्य एवं नौकरी के अवसर खोजते रहते है। ये लोग अपना कार्य करने के लिए भी तैयार है किन्तु वित्तीय स्थिति अच्छी ना होने के कारण ये अपना स्वरोजगार स्थापित नहीं कर पाते है। इस प्रकार के नौजवानों को अपना कियोस्क सेण्टर शुरू करके अच्छी आय प्राप्त करने के अवसर देने के लिए प्रदेश सरकार MPOnline – KIOSK योजना शुरू कर रही है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में पात्रताएँ

सरकार की ओर से किसी व्यक्ति के प्रदेश में एमपीऑनलाइन कियोस्क बनने के लिए कुछ पात्रताएँ निर्धारित की गयी है। जो भी उम्मीदवार अपने कैफे एवं सेन्टर पर एमपी ऑनलाइन की सेवाओं सर्विसेज देना चाहता है उसको निम्न पात्रताओं को पूर्ण करना होगा –

  • आवेदक को मध्य प्रदेश का स्थाई निवासी हो चाहिए
  • व्यक्ति की आयु 18 साल से ज्यादा हो।
  • न्यूनतम शैक्षिक योग्यता दसवीं है।
  • बेसिक कंप्यूटर का ज्ञान हो
  • आवेदक के पास एक दुकान एवं ऑफिस जरुरी है।
  • कियोस्क केंद्र के मालिक को एक महीने में न्यूनतम 200 ट्रांसक्शन करना जरुरी है।
  • MP Online Ltd के साथ 500 रुपए का ई-स्टाम्प पर एक अनुबंध करना होगा।
  • आवेदक को ऑनलाइन फॉर्म सब्मिट करने के बाद रजिस्ट्रेशन फीस का ऑनलाइन भुगतान करना है जोकि शहरी क्षेत्र में 3000 रुपए एवं ग्रामीण क्षेत्र में 1000 रुपए है।
  • प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्थानों को 500 रुपए फीस (कर अतिरिक्त) का ऑनलाइन भुगतान करना है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में जरुरी प्रमाण-पत्र

  • शहरी क्षेत्र में दुकान/ संस्थान की स्थापना का रजिस्ट्रेशन प्रमाण-पत्र
  • ग्रामीण क्षेत्र में बिजली अथवा टेलीफोन का बिल या फिर दूकान का किराया
  • उम्मीदवार का अपना पैनकार्ड
  • घर एवं दुकान (कियोस्क) का पता प्रमाण-पत्र
  • अंक तालिकाएँ ( न्यूनतम हाई स्कूल)
  • एमपी ऑनलाइन मापदण्ड के अनुरूप कियोस्क को एक स्वच्छ फ्लेक्स/ बोर्ड पर लगाना जरुरी है।
  • प्रमाणित कियोस्क प्रमाण-पत्र को सही जगह पर लगाना जरुरी है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में जरुरी चीजे

  • कंप्यूटर/ लैपटॉप
  • प्रिंटर
  • स्कैनर
  • इंटरनेट कनेक्शन

MP Online KIOSK में पंजीकरण प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपने एमपी ऑनलाइन आधिकारिक वेबसाइट http://www.mponline.gov.in को ओपन करना है।
  • आपको अगले वेबपेज में कुछ दिशा-निर्देश प्राप्त होंगे जिनको आपने ध्यानपूर्वक पढ़ना है।
  • इसके नीचे के भाग में बॉक्स को टिक करके सत्यापित करना है।
  • इसके बाद आपको एमपी ऑनलाइन कियोस्क का पंजीकरण फॉर्म प्राप्त होगा।
  • फॉर्म में माँगी जा रही सभी जानकारियों जैसे आवेदक की जानकारी, दूकान की जानकारी एवं संपत्ति डिटेल्स को सही प्रकार से दर्ज़ कर लें।
  • ये सब कर लेने के बाद आपने जरुरी प्रमाण-पत्रों को अपलोड करके “Submit” बटन दबा देना है।
  • इस प्रकार की प्रक्रिया को कर लेने के बाद आपका एमपी ऑनलाइन कियोस्क पंजीकरण सफलता से हो जायेगा।

यह भी पढ़ें :- मध्य प्रदेश बेरोजगारी भत्ता ऐसे करें ऑनलाइन आवेदन पंजीकरण

कियोस्क आवेदन का प्रिंट लेना

योजना के अंतर्गत आवेदन करने वाले उम्मीदवार पोर्टल से आवेदन का प्रिंट आउट प्राप्त कर सकते है, इसकी प्रक्रिया निम्न प्रकार से है –

  • सबसे पहले आपने एमपीऑनलाइन कियोस्क की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करना है।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपने “कियोस्क/ नागरिक हेतु लिंक” के लिंक में ‘आवेदन प्रिंट करें’ विकल्प को चुनना है।
  • अगले वेब पेज में आपने “आवेदन संख्या” को दर्ज़ करके ‘सब्मिट’ विकल्प को दबाना है।
  • नए वेब पेज में आपको योजना का आवेदन फॉर्म प्रदर्शित होगा जिसका आपने प्रिंट ले लेना है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में पंजीकरण स्थिति देखना

जिन भी उम्मीदवार ने अपनी ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया को सफलतापूर्वक पूर्ण कर लिया है उनको यह ध्यान रखना है कि वे ऑनलाइन ही अपने आवेदन के स्टेटस की जानकारी चेक कर लें। आपको अपने ऑनलाइन आवेदन की स्थिति को निम्न प्रकार से चेक करना है –

  • सबसे पहले आपने एमपी ऑनलाइन की आधिकारिक वेबसाइट को ओपन करना है।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपको “किस्योस/ नागरिक हेतु” सेक्शन दिखेगा, इसे क्लिक कर लें।
  • इस सेक्शन के अंतर्गत आपने “कियोस्क पंजीकरण शुल्क का भुगतान” विकल्प को चुनना है।
  • अगले वेब पेज पर आपने अपना “एप्लीकेशन नंबर” दर्ज़ करना है।
  • इसके बाद आपको “गेट स्टेटस” विकल्प को चुनना है।
  • आपको स्क्रीन पर कियोस्क रजिस्ट्रेशन से जुड़े विवरण प्राप्त होंगे।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में भुगतान स्थिति देखना

  • सबसे पहले आपने एमपी ऑनलाइन कियोस्क के आधिकारिक पोर्टल को ओपन करना है।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपने “कियोस्क/ नागरिक हेतु” विकल्प को चुनना है।
  • इसके बाद आपको “भुगतान की स्थिति” विकल्प को चुनना है।
  • अगले वेब पेज पर आपको अपनी “ट्रांसेक्शन आईडी” को दर्ज़ करना है।
  • इसके बाद “Search” बटन को दबाना है।
  • आपको स्क्रीन पर भुगतान की स्थिति प्रदर्शित होगी।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क में मुख्य तथ्य

  • इस योजना में प्रदेश के नौजवान अपना ऑफिस अथवा सेण्टर खोलकर एमपीऑनलाइन कियोस्क की सेवाएँ दे सकते है।
  • मध्य प्रदेश के 51 जिलों एवं 350 से अधिक तहसीलों में एमपी ऑनलाइन कियोस्क बहुत से सरकारी विभागों की सुविधाएँ सामान्य नागरिको को प्रदान कर रहा है।
  • प्रदेशभर में नागरिको को विभिन्न सरकारी सुविधाएं देने के लिए 28 हजार से ज्यादा कियोस्क केंद्र खोले जा चुके है।
  • प्रदेश के सभी इच्छुक एवं योग्य नौजवान अपना एमपी ऑनलाइन कियोस्क सेण्टर खोल सकते है। इसके लिए एमपी ऑनलाइन के आधिकारिक पोर्टल पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • जिन भी आवेदकों के डिटेल्स सत्यापन में सही पाए जाते है उन्कोक एक कियोस्क का आवंटन होगा।

MP Online KIOSK से जुड़े मुख्य प्रश्न

एमपी ऑनलाइन कियोस्क क्या है?

यह मध्य प्रदेश सरकार का एक ई-गवर्नेंस उद्यम है जो कि प्रदेश के सभी पढ़े-लिखे बेरोजगार नौजवानो के लिए एक कारगर योजना है। इसके अंतर्गत ये सभी नौजवान अपना खुद का व्यवसाय शुरू करके पैसे कमाने के साथ लोगों को सेवाएँ दे सकते है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क खोलने में कितना खर्च आ जाता है?

ग्रामीण क्षेत्र में ऑनलाइन कियोस्क खोलने के लिए 1 हजार रुपए फीस देनी होती है। इसके अतिरिक्त शहरी क्षेत्र में एमपी कियोस्क सेंटर खोलने के लिए 3 हजार रुपए फीस देनी है। ये फीस ऑनलाइन पंजीकरण के समय भुगतान करनी होती है।

एमपी ऑनलाइन कियोस्क से सम्बंधित जानकारी को कहाँ से प्राप्त कर सकते है?

एमपी कियोस्क से जुडी किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आपको 0755-6644830/ 832 हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करना होगा। 

कियोस्क केंद्र के लिए कितना शिक्षित होना चाहिए?

कियोस्क आवेदक के लिए न्यूनतम शैक्षिक योग्यता दसवीं कक्षा निर्धारित की गयी है। इसके अतिरिक्त कंप्यूटर का बेसिक ज्ञान एवं हिंदी-इंग्लिश का कार्यसाधक ज्ञान भी होना चाहिए।

Leave a Comment

Join Telegram