20 Best Hill Stations near Delhi to Visit in Summer 2022

20 Best Hill Stations near Delhi to Visit in Summer 2022: देश में ग्रीष्म ऋतू का मौसम मार्च के महीने से शुरू हो जाता है, जिससे देश के कई हिस्से जहाँ गर्मियाँ बेहद ही अधिक होने से लोगों के लिए पूरी गर्मियाँ काटना बेहद ही मुश्किल हो जाता है। ऐसे में इस भीषण गर्मी से राहत पाने के लिए हम में से बहुत से लोग हिल स्टेशन जाना बेहद ही पसंद करते हैं। अगर आप भी राजधानी दिल्ली एनसीआर या इसके पास के किसी एरिया में रहते हैं या काफी लंबे समय के लिए दिल्ली शिफ्ट हुए हैं और कही हिल स्टेशन घूमने की सोच रहे हैं, तो आपके पास हिल स्टेशन चुनने के बहुत से विकल्प हैं, जहाँ आप घूमने के लिए जा सकते हैं, तो चलिए जानते हैं दिल्ली के पास ऐसे हिल स्टेशंस की पूरी जानकारी।

Best Hill Stations near Delhi
Best Hill Stations near Delhi

जाने ग्रीष्म में घूमने के लिए दिल्ली के पास 20 सर्वश्रेष्ठ हिल स्टेशन

ग्रीष्म में घूमने के लिए यदि आप भी दिल्ली के करीब हिल स्टेशन के बारे में जानना चाहते हैं तो इस लेख के माध्यम से आज हम आपको दिल्ली से करीब 20 सर्वश्रेष्ठ हिल स्टेशंस के बारे में बताने जा रहे हैं जहाँ आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ गर्मियों की छुट्टियाँ सुकून से बिता सकेंगे, ऐसे सभी हिल स्टेशन जो दिल्ली एनसीआर से 300 से लेकर 600 किमी की दूरी या आस-पास मौजूद हैं इनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

Hill Stations Near Delhi

नैनीताल (उत्तराखंड)कुफरी
कानातालऔली
मसूरीधर्मशाला
भीमतालकसौल
नौकुचिया तालमनाली
रानीखेतसोलांग घाटी
साततालडलहौजी
चैल (हिमाचल प्रदेश)मुनस्यारी उत्तराखंड
अल्मोड़ाबिनसर
शिमलाखज्जर

नैनीताल (उत्तराखंड)

नैनीताल कुमाऊँ क्षेत्र में स्थित नैनीताल जिले एक महत्त्वपूर्ण पर्यटक स्थल है, कई सारी झीलों के घिरे होने से इसे भारत के लेक डिस्ट्रिक्ट के नाम से भी जाना जाता है। यह दिल्ली के निकट से करीब 300 किलोमीटर भीतर दूरी पर स्थित सबसे जाने-माने हिल्स स्टेशंस में से एक है, बर्फ से ढके पहाड़ों के बीच स्थित यह स्थान झीलों से घिरा हुआ है, जिन्हे देखने के लिए पर्यटक दूर-दूर से सफर करके पहाड़ों और झीलों की सुंदरता का लुफ्त उठाते हैं। नैनीताल क्षेत्र समुद्र तल से करीब 1938 मीटर यानी 6358 फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है, ग्रीष्मकाल के दौरान यहाँ का अधिकतम तापमान (27 डिग्री सेल्सियस) और न्यूनतम तापमान (10 डिग्री सेल्सियस) के करीब रहता है। दिल्ली से नैनीताल की दुरी (Best Hill Stations near Delhi) 315 किलोमीटर के आस पास है, यहां आप आसानी से सड़क मार्ग या हवाई मार्ग से पहुंच सकते हैं।

tourist places in uttarakhand nainital
tourist places in uttarakhand nainital
  • घूमने के स्थान – नैनताल में घूमने के लिए यहाँ की सबसे प्रमुख झील नैनी झील, नैना देवी मंदिर, एक गुफा पार्क, नैना चोटी, टिफिन टॉप, मॉल रोड, केबल कार (Aerial Ropeway), पंगोट, नैनीताल चिड़ियाघर (जी बी पंत हाई अल्टीट्यूड जू), हनुमान गढ़ी, पशन देवी मंदिर
  • क्या करें – घूमना, रॉक क्लाइम्बिंग, खरीदारी, बोटिंग, ट्रीकिंग, रैपलिंग, फोटोग्राफी
  • Delhi NCR से नैनीताल हिल स्टेशन की दूरी – 287 किमी
  • हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से नैनीताल हिल स्टेशन पहुँचने के लिए आपको काठगोदाम तक ट्रैन उपलब्ध है, जहाँ से आपको बस या टैक्सी लेनी होगी। आनंद विहार ISBT से नैनीताल तक बसें भी उपलब्ध हैं।

कानाताल

कानाताल उत्तराखंड गढ़वाल जिले में का एक बेहद ही आकर्षिक हिल स्टेशन है, जो चंबा और मसूरी के मार्ग पर स्थित एक छोटा सा गाँव है। यह गाँव समुद्र तल से लगभग 8500 फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है। कानाताल की पहाड़ी, हरे-भरे जंगल, झरने, मंदिर, फूलों की वादियाँ दूर-दूर से आए पर्यटकों के लिए आकर्षण का बेहतर केंद्र बनती है, ग्रीष्मकाल के दौरान यहाँ का अधिकतम तापमान (25 डिग्री सेल्सियस) और न्यूनतम तापमान (10 डिग्री सेल्सियस) के करीब रहता है। यहाँ का तापमान 12 महीने ही ठंडा रहता है और दिसंबर के महीने यहाँ बर्फ गिरनी शुरू हो जाती है और टेम्परेचर माइनस पर चल जाता है।

Best Hill Stations near Delhi
kanatal hill station Uttarakhand
  • घूमने के स्थान – धनोल्टी, टिहरी बांध, सुरकंडा देवी मंदिर, कौड़िया का जंगल, धनोल्टी इको पार्क
  • क्या करें – घूमना, रैपलिंग, रॉक क्लाइम्बिंग, कैंपिंग वैली क्रासिंग कानाताल, फोटोग्राफी, होमस्टे
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 328 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – हवाई रास्ते आप दिल्ली एनसीआर से देहरादून के जॉली ग्रांट हवाई अड्डे तक पहुँचते है तो वहाँ से कानाताल काफी नजदीक है, जहाँ से स्थानीय साधन से आप कानाताल आसानी से पहुँच सकेंगे, दिल्ली एनसीआर से ऋषिकेश या देहरादून के रेलवे स्टेशन से बस या टैक्सी से हिल स्टेशन पहुँच सकते हैं।

मसूरी

मसूरी जिसे पर्वतों की रानी भी कहा जाता है, यह उत्तराखंड का एक प्रमुख पर्यटक पर्वतीय स्थल है, यह समुद्र तल से औसत 6600 फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है। यह देहरदून से लगभग 35 किलोमीटर की दूरी पर है। मसूरी की ठंडी हवाएँ, खिलखिलाती धुप और हरे-भरे पहाड़ इसकी ख़ूबसूरती को पर्यटकों के लिए बेहद ही आकर्षण का केंद्र बनती है। मसूरी उत्तराखंड राज्य में करीब 6830 फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है जहाँ का तापमान जुलाई के महीने 15 से 29 डिग्री सेल्सियस रहता है, इस समय भी आसमान में बादल छाए रहते हैं और बारिश होती रहती है, जो गर्मियों में भी मौसम को बेहद ही सुखमय बनाए रखती है। दिल्ली से मसूरी (Best Hill Stations Near Delhi) की दुरी भी ज्यादा नहीं हैं यहां आप सड़क मार्ग से यह हवाई मार्ग से आ सकते हैं।

Best Hill Stations near Delhi
Mussoorie hill station uttarakhand
  • घूमने के स्थान – मसूरी लेक्स, देव भूमि वैक्स म्यूजियम, केम्प्टी फाल्स, एडवेंचर पार्क्स, जाबरखेत नेचर रिज़र्व, क्रिस्ट चर्च, ज्यॉर्ज एवेरेस्ट के घर, कमल बैक रोड, लाल टिब्बा, मॉस फाल्स, गन हिल
  • क्या करें – झरनों में मस्ती, रॉक क्लाइम्बिंग, वन्य जीव, बोटिंग, ट्रीकिंग
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 286 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से देहरादून जाने वाली ट्रैन से देहरादून पहुँचकर रोड से महज डेढ़ घंटे में हिल स्टेशन पहुँचा जा सकता है।

भीमताल

दिल्ली से नजदीक पर्यटक स्थलों में से भीमताल भी उत्तराखंड के काठगोदाम से 10 किलोमीटर उत्तर की और एक सुन्दर घाटियों से भरा और अंचल में स्थित एक पर्यटक स्थल है, यह 4500 फ़ीट की ऊँचाई में स्थित है जहाँ बहुत से सैलानी छुट्टियाँ मनाने अपने परिवार या दोस्तों के साथ इस ताल के बीच स्थित एक टापू है जहाँ लोग बोटिंग करने और पिकनिक मनाने के लिए आते हैं।

Bhimtal Lake uttarakhand
Bhimtal Lake uttarakhand
  • घूमने के स्थान – भीमेश्वर महादेव मंदिर, सैयद बाबा का मजार, भीमताल झील, लोक संस्कृति संग्रहालय, भीमताल द्वीप
  • क्या करें – घूमना, माल रोड पर खरीदारी, पैदल यात्रा, झील के चारों और बोटिंग
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 296 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से कई सारी ट्रेने व काठगोदाम से यहाँ के लिए नियमित बसें व टैक्सी सेवा उपलब्ध है।

नौकुचिया ताल

नौकुचिया ताल पर्यटन का एक छोटा सा झील गाँव है जिसकी दूरी नैनीताल से 26 और भीमताल से 6 किलोमीटर है। इसके प्राकृतिक जल स्त्रोतों के नौ कौन हैं, जिसके लिए इसे नौकुचिया कहते हैं, यह समुद्र तल से लगभग 1220 मीटर यानी 4000 फ़ीट की ऊंचाई पर स्थित है। नौकुचिया में बेहद ही आकर्षक झील स्थित है जो इसे पर्यटन का बेहद ही आकर्षक केंद्र बनाता है।

Naukuchiatal uttarakhand
Naukuchiatal uttarakhand
  • घूमने के स्थान – नौकुचिया झील, जंगलियाँ गाँव, हनुमान मंदिर
  • क्या करें – बोटिंग, मछली पकड़ना, पैदल यात्रा, चीड़ के पेड़ों के बीच आराम और पिकनिक
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 306 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से देहरादून तक ट्रैन या बस से पहुँचकर स्थानीय साधन से नौकुचिया ताल पहुँचा जा सकता है।

रानीखेत

रानीखेत उत्तराखंड राज्य के अल्मोड़ा के एक प्रमुख पर्यटन स्थल है, यह काठगोदाम रेलवे स्टेशन से 85 किमी की दूरी पर स्थित यह पक्की सड़क से जुड़ा है। रानीखेत समुद्र तल से 1824 मीटर की ऊँचाई पर स्थित एक छोटा और बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन है , यह क्षेत्र एक बेहद ही ठंडा और शांत वातावरण वाला पर्यटक क्षेत्र है जहाँ दूर-दूर से सैलानी अपने परिवार व दोस्तों के साथ घूमने जाते हैं।

Best Hill Stations near Delhi
Best Places To Visit Ranikhet In Uttarakhand
  • घूमने के स्थान – असियाना पार्क, रानीखेत गोल्फ कोर्स, हैदाखान बाबा मंदिर, भालू बाँध, रानी झील, मनकामेश्वर मंदिर, बिनसर महादेव मंदिर, तारखेत
  • क्या करें – मंदिर यात्रा, बोटिंग, मछली पकड़ना, हलकी लंबी पैदल यात्रा, गोल्फिंग
  • हिल स्टेशन की दूरी – 337 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – काठगोदाम बसें और ट्रैन के माध्यम से दिल्ली तक जुड़ता है, यहाँ से रानीखेत तक कई बसें और टैक्सी चलती है।

सातताल

सातताल उत्तराखंड के नैनीताल से लगभग 23 किलोमीटर की दूरी पर एक बेहद ही आकर्षक पर्यटन स्थल है, यह दिल्ली के निकट से करीब 300 किलोमीटर भीतर दूरी पर स्थित हिल्स स्टेशन है, जो समुद्र तल से 1370 किमी की ऊँचाई पर स्थित है। इसका नाम यहाँ की सात झीलों पर पड़ा है, यहाँ दुनियाभर के सैलानी सातताल की झीलों वन्य जानवरों और विभिन्न तरह के पक्षियों जैसे काले इगन, हिमालय ग्रिफिन गिद्ध, तीतर, मौंटे हॉक ईगल, तोते को देखने अपने परिवार और दोस्तों के साथ आते हैं।

  • घूमने के स्थान – राम ताल, लक्ष्मण ताल, नल दमयंती ताल, मेथोडिस्ट आश्रम, सूखा ताल, सुभाष धारा, तितली संग्राहलय
  • क्या करें – बोटिंग, प्रकृति के नज़ारे देखना, फोटोग्राफी, बर्ड वाचिंग, कैंपिंग, पैदल यात्रा
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 313 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से सातताल 6 घंटे में पहुँचा जा सकता है, जिसके लिए आप दिल्ली से देहरादून और यहाँ से बसें और टैक्सी से हिल स्टेशन पहुँचा जा सकता है।

चैल (हिमाचल प्रदेश)

चैल भारत के हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले में स्थित एक पहाड़ी स्थान है, यह समुद्र तल से 2226 मीटर ऊँची हिमाचल का बेहद ही आकर्षक पर्यटक स्थल है। यह क्षेत्र क्रिकेट और पोलो जैसे खेलों के लिए बेहद ही प्रसिद्द है, जहाँ वन्य जीव अभ्यारण्य बहुत ही ख़ास है। यहाँ विभिन्न प्रकार के पेड़-पौधे पाए जाते हैं जिसे देखने के लिए विभिन्न सैलानी और उनके परिवार घूमने आते हैं।

  • घूमने के स्थान – चैल पैलेस, साधुपुल झील, चूल प्ले, गुरुद्वारा साहेब, सिद्ध बाबा मंदिर, चैल सैंचुरी, काली का तिब्बा
  • क्या करें – मंदिर दर्शन, झीलों में मस्ती, घूमना, कैंपिंग, वन्यजीव दर्शन, प्रकृति दर्शन
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 340 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – यहाँ पहले दिल्ली से चंडीगढ़ बस, ट्रैन, टैक्सी तक पहुँचजा सकता है, जिसके बाद चंडीगढ़ से टैक्सियों और बसों द्वारा आसानी से पहुँचा जा सकता है।

अल्मोड़ा

अल्मोड़ा उत्तराखंड के कुमाऊ क्षेत्र में बसा एक पहाड़ी नगर है। यह उत्तराखंड का एक बेहद ही शांत और आकर्षक पर्यटक क्षेत्र है जहाँ लगभग 5380 किलोमीटर की ऊँचाई के चलते यहाँ का मौसम बेहद ही सुकून भरा और सुखमय रहता है। यह एक कृषि व्यापार केंद्र है, जहाँ कुछ निर्माण इकाइयाँ और कुमाऊँ विश्वविद्यालय से संबंध एक विश्वविद्यालय स्थित है, अल्मोड़ा में गर्मियों की छुट्टी बिताने के लिए हर साल पर्यटक यहाँ के मंदिरों के दर्शन, शांत और ख़ूबसूरत पहड़ों की वादियों को निहारने के लिए आते हैं।

  • घूमने के स्थान – जाखन देवी मंदिर, कांची मंदिर, जागेश्वार मंदिर, स्वामी विवेकानंद का करबाला कब्रिस्तान पत्थर, चितइ मंदिर, नंदा देवी मंदिर
  • क्या करें – हरे-भरे पहाड़ियों के सुंदर दृश्य देखना, लंबी पैदल यात्रा, वाल मिठाई का सेवन, कैंपिंग, फोटोग्राफी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 346 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से काठगोदाम तक ट्रैन में सफर करके फिर काठगोदाम के साथ-साथ हल्द्वानी से बस या ट्रैन में बाकी की यात्रा पूरी कर सकते हैं।

शिमला

शिमल हिमाचल प्रदेश राज्य के शिमला जिले में स्थित नगर है जो सुंदर घाटियों और पहाड़ियों से घिरा हुआ शहर है, जो पर्यटन के लिए बेहद ही प्रसिद्द हिल स्टेशन है। यहाँ का सुहाना मौसम, ठंडी वादियाँ अंग्रेजों के जमाने से ही सभी पर्यकटों का एक बेहद पसंदीदा शहर बना हुआ है, राजधानी शिमला समुद्र के तल से 7000 फ़ीट की ऊंचाई स्थित है।

  • घूमने के स्थान – माल रोड़, जाखू मंदिर, काली बारी मंदिर, आर्मी हेरिटेज संग्रहालय, जॉनी का वैक्स संग्रहालय, टाउन हॉल, द रिज, द ग्लेन, गार्टन कैसल, बैंटोनी कैसल, समर हिल, शिमला विस्तार संग्रहालय
  • क्या करें – घूमना, रिज से पहाड़ों के दृश्यों की सरहाना करना, बर्फ स्केटिंग, माल रोड पर खरीदारी, हलकी लंबी पैदल यात्रा
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 360 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – शिमला पहुँचने के लिए आप चंडीगढ़ तक ट्रैन ले सकते हैं, इसके अलावा आप चाहे हैं तो कालका तक ब्रॉड गेज द्वारा भी पहुँच सकते हैं, जिसके बाद नैरो गेज द्वारा बाकी यात्रा पूरी कर सकते हैं।

कुफरी

कुफरी हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले में स्थित एक छोटा सा पर्यटन स्थल है, यह शिमला से करीब 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, यहाँ सालाना होने वाले शीतकालीन खेल त्यौहार, रोमांचक पार्क पर्यटकों के लिए बेहद ही आकर्षण का केंद्र बना रहता है। कुफरी समुद्र तल से 8600 फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है, जिसके चलते यहाँ गर्मियों में भी तापमान बेहद ही कम रहता है, यह जगह छुट्टियों में आए सैलानियों और बच्चों के लिए फन वर्ल्ड मनोरंजन के लिए बेहद ही बेहतरीन जगह है।

  • घूमने के स्थान – हिमालय नेचर पार्क, कुफरी फन वर्ल्ड, महासू पीक कुफरी, ग्रीन वैली, इंदिरा बंगला
  • क्या करें – ट्रेकिंग, घुड़सवारी, पेड़ों के नीचे आराम करना, कमांडो नेट, बर्मा पुल, फोटोग्राफी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 374 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – शिमला जैसे स्थानों पर बस या टैक्सी से आसानी से पहुँचा जा सकता है।

औली

औली उत्तराखंड राज्य के चमोली जिले में स्थित है, यह उत्तराखंड के प्रसिद्द हिल स्टेशंस में से एक है जो बर्फीली ठंडी हवाएँ बर्फ से ढके परिदृश्य को दर्शाता है, यह समुद्री तल से 10 हजार फ़ीट की ऊँचाई पर स्थित है औली बदरीनाथ मार्ग पर जोशीमठ से 16 किमी दूरी पर हैं, जहाँ भारी संख्या से सैलानी दिल्ली से गर्मियों की छुट्टियों में अपने परिवार के साथ बर्फ और ठंडी हवाओं का लुफ्त उठाने आते हैं।

  • घूमने के स्थान – त्रिशूल चोटी, कृत्रिम झील, औली रोपवे, जोशीमठ, चिनाब झील
  • क्या करें – स्कीईंग, ट्रेकिंग, प्रकृति दार्शन, बर्फ से ढके पहाड़ों पर मस्ती, गोंडोला सवारी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 364 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – औली के लिए रोड वे पर पहले दिल्ली से हरिद्वार तक बस व टैक्सी उपलब्ध है, जिसके बाद आप औली के लिए बस या कैब बुक करवा सकते हैं।

धर्मशाला

धर्मशाला हिमचाल के गोदा में बसा प्राकृतिक सौंदर्य के लिए जाना जाने वाला एक पर्यटक स्थल है, जो 2000 फ़ीट की ऊँचाई से घिरा हुआ है, यह समुद्र तल के करीबन 1475 मीटर की ऊँचाई पर स्थित है, यह जगह पूरी तरह देवदार व पाइन के पेड़ों से घिरी हुई है, धर्मशाला की सड़कें कांगड़ा घाटी से होती हुई गुजरती है, जिससे लोगों के लिए यहाँ का सफर और भी सहाना हो जाता है।

  • घूमने के स्थान – कुंडाल पाथारी माता मंदिर, एचपीसीए स्टेडियम करेरी झील, युद्ध समारक
  • क्या करें – पहाड़ियों का निहारना, प्रकृति दर्शन, आराम, फोटोग्राफी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 475 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – पठानकोट तक दिल्ली के बहुत से ट्रेनें चलती है, जहाँ पठानकोट से आपको हिल स्टेशन के लिए बस और टैक्सी मिल जाएगी।

कसौल

कसौल हिमाचल प्रदेश के प्रसिद्द गाँवों में से जाना-माना पर्यटन स्थल है, यह गाँव पारवती नदी के किनारे बसा है जो समुद्र तल से लगभग 5180 फ़ीट की ऊँचाई पर बसा हुआ और पर्यटकों के घूमने के लिए बेहद ही पसंदीदा जगहों में से एक है।

  • घूमने के स्थान – पारवती नदी, शुंक धरी जंगल, खेरंगा, माणिकरण, पार्वती घाटी
  • क्या करें – ट्रेकिंग, एनलिंग, प्राकृतिक गर्म सल्फर स्प्रिंग में स्नान
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 521 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से चंडीगढ़ पहुँचने के बाद आप बस या टैक्सी ले सकते हैं या कुल्लू शहर तक पहले रोड से यात्रा करें।

मनाली

मनाली हिमाचल के कुल्लू जिले में स्थित एक नगर है, जो हिमालय की बर्फ से ढका पर्वतमालाओं में से एक है। यह हिल स्टेशन विशाल बर्फ और देवदार के वृक्षों से घिरा हुआ है, जिसके कारण इसकी सुंदरता और अधिक बढ़ जाती है, जो पर्यटकों के लिए बेहद ही आकर्षण का केंद्र बनी रहती है।

  • घूमने के स्थान – तिब्बत मठ, मनु मंदिर, मनाली क्लब हाउस, पुरानी मनाली, हिडिम्बा देवी मंदिर, पांडोह बांध
  • क्या करें – राफ्टिंग, खरीदारी, नग्गर कैसल में घूमना, प्राकृतिक गर्म सल्फर स्प्रिंग में स्नान
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 556 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – मनाली के लिए आप दिल्ली से उड़ान या ट्रैन से चंडीगढ़ पहुँच सकते हैं।

सोलांग घाटी

सोलांग घाटी हिमाचल प्रदेश के कुल घाटी के शीर्ष पर स्थित एक टूरिस्ट साइड है। यह घास और मैदान वाली खुली जगह है, जहाँ हर वर्ष कई सैलानी घूमने के लिए आते हैं, जिसके लिए अधिकतर लोग मनाली और सोलांग घाटी दोनों जगह घूमने जाते हैं जिसके लिए उन्हें कई ट्रेवल एजेंसियों द्वारा बेहतर ट्रेवल पैकेज मिल जाता है और उनके द्वारा पर्यटकों को बस या टैक्सी सेवा दी जाती है

  • घूमने के स्थान – रोहतंग पास, नाग मंदिर
  • क्या करें – ट्रेकिंग, पैराग्लाइडिंग, जॉर्बिंग, एटीवी सवारी, पैराशूटिंग, कैंपिंग, घुड़सवारी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 364 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – कई निजी ट्रेवल एजेंसियां इस जगह पर नियमित बसें और टैक्सी सेवाएँ प्रदान करती है।

डलहौजी

डलहौजी हिमाचल प्रदेश के एक छोटा सा पर्यटक स्थल है, जो आकर्षण से भरा हुआ है। यह अपने प्राकृतिक नजारों, तेज प्रवाह वाली नदियों, घास के मैदान और शानदार धुंध के पहाड़ों से घिरा हुआ है, जो समुद्री तल से लगभग 6460 फ़ीट पर स्थित है। यहाँ बहुत से सैलानी इस पर्यटक क्षेत्र के नजारें और शांत मौसम का लुफ्त उठाने आते हैं।

Best Hill Stations near Delhi
best places to visit in dalhousie himachal pradesh
  • घूमने के स्थान – पंचपुला, बकरोता, दैन कुंड, गंजी पहाड़ी, सेंट फ्रांसिस, मॉल रोड
  • क्या करें – पहाड़ों के नजरें देखना, ट्रेकिंग, पर्यटन स्थलों का भ्रमण
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 576 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – दिल्ली से पठानकोट ट्रैन से पहुँचकर वहाँ से बस या ट्रैन से हिल स्टेशन पहुँचा जा सकता है।

मुनस्यारी उत्तराखंड

मुनस्यारी उत्तराखंड के कुमाँऊ मंडल के पिथोरागढ़ जिले में स्थित है, यह बेहद ही आकर्षक हिल स्टेशन में से एक है, मुनस्यारी बर्फ से ढका पर्वतीय स्थल है, जो पिथौरागढ़ के सबसे तेजी से बढ़ने वाले प्राकृतिक सौन्दर्यता से भरपूर लोकप्रिय स्थान है। मुंसियारी के सामने एक विशाल हिमालय पर्वत श्रृंख्ला का विश्व प्रसिद्द पंचचूली पर्वत है, जिसे देखने के लिए भारी तादाद में पर्यटक इसका लुफ्त उठाने के लिए आते हैं।

Best Places To Visit Munsiyari In Uttarakhand
Best Places To Visit Munsiyari In Uttarakhand
  • घूमने के स्थान – मैड गाँव, पोटैटो फार्म्स, बेटुलिधार, बर्थी फॉल्स
  • क्या करें – प्राकृतिक दर्शन , फोटोग्राफी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 541 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – मुनस्यारी उत्तराखंड के लिए आप काठगोदाम तक ट्रैन में यात्रा कर सकते हैं और वहाँ से मुंसियारी के लिए बस यात्रा।

बिनसर

बिनसर नैनीताल और कौसानी के बीच स्थित उत्तराखंड राज्य का एक आकर्षक पर्यटक स्थल है, यह अल्मोड़ा से लगभग 33 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बिनसर हिमालय की गोद में स्थित बर्फ से ढकी पहाड़ी है, जिसे देखने के लिए पर्यटक दूर-दूर से अपने परिवार और दोस्तों के साथ छुट्टियाँ मनाने आते हैं।

  • घूमने के स्थान – हरे घार के मैदान और देवदार के पेड़ों के जंगल, दर्शनीय मंदिर, वन्यजीव अभ्यारण्य
  • क्या करें – वन्यजीव पर्यटन, लंबी पैदल यात्रा, फोटोग्राफी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 355 किमी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन कैसे पहुँचे – बिनसर आने के लिए काठगोदाम तक ट्रैन में यात्रा कर सकते हैं और वहाँ से मुंसियारी के लिए बस यात्रा।

खज्जर

खज्जर हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित एक गाँव है, खज्जर हिमाचल प्रदेश में खाज्जिर मिनी स्विट्ज़रलैंड के नाम से प्रसिद्द, जिसकी खूबसूरती और मनमोहक वातावरण दुनियाभर में मशहूर है खज्जर में हरे-भरे देवदार के पेड़ और चारगाहों के बीच एक छोटी झील स्थित है, जिसकी ख़ूबसूरती देखने के लिए भारी मात्रा में सैलानी अपने परिवार के साथ गर्मियों की छुट्टियों में लुफ्त उठाने के लिए आते हैं।

  • घूमने के स्थान – गोल्डन देवी मंदिर, कालातोप खज्जर सेंचुरी, खज्जर झील
  • क्या करें – घूमना, ट्रेकिंग, पैराग्लाइडिंगम, जॉर्बिंग, घुडसवारी
  • दिल्ली एनसीआर से हिल स्टेशन की दूरी – 589 किमी

ग्रीष्म में घूमने के लिए दिल्ली के पास 20 सर्वश्रेष्ठ हिल स्टेशन से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है। और हमे उम्मीद है की यह जानकारी आपके लिए बेहद ही फायदेमंद होगी, इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment