{पंजीकरण} छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन फॉर्म

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना 2022 : दोस्तों नमस्कार, आज हम आपको बताने जा रहे हैं छत्तीसगढ़ राज्य सरकार के द्वारा शुरू की गई छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के बारे में इस योजना के तहत राज्य सरकार शिक्षित/अनपढ़ बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाएगी। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री “श्री भूपेश बघेल जी” ने अपनी एक प्रेसकॉन्फ्रेंस में कहा की इस योजना से युवाओं को रोजगार हेतु राज्य से पलायन नहीं करना पड़ेगा और राज्य में पारंपरिक व्यवसाय को स्थापित करने में मदद मिलेगी। आधुनिकता के नाम पर गावों का बहुत तेजी से शहरीकरण और मशीनों का अंधाधुंध प्रयोग हुआ है। छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना में राज्य 168 शहरी निकायों को योजना के अंतर्गत रखा गया है। यदि आप छत्तीसगढ़ राज्य के निवासी हैं तो आप इस योजना के आवेदन हेतु पात्र हैं। योजना के अनुसार राज्य के 12,000 बेरोजगार युवाओं को छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा रोजगार मुहैया कराया जाएगा। छत्तीसगढ़ राज्य में योजना के अंतर्गत पौनी पसारी बाजार को साप्ताहिक बाजार के रूप में जाना जाता है। इस तरह के बाजार के आयोजन होने से स्थानीय जन समुदाय की आवश्यकताओं की पूर्ति सुनिश्चित हो जाती है। आर्टिकल में आप Chhattisgarh Pauni Pasari Yojana का लाभ, पंजीकरण प्रक्रिया और आवश्यक दस्तावेज आदि की जानकारी को प्राप्त करेंगे तो कृपया आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें

chattisgrh pauni pasari yojna
छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना 2022

क्या है छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना ?

छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री द्वारा राज्य के बेरोजगार नागरिक और युवाओं को रोजगार के नए नए अवसर प्रदान करने हेतु राज्य में शुरू किया गया है। राज्य को उद्देश्य है की लघु और पारंपरिक उद्योगों को प्रोत्साहन और बढ़ावा मिले। पौनी पसारी परंपरा छत्तीसगढ़ राज्य की एक सांस्कृतिक विरासत रही है। इस परंपरा ने गाँव, कस्बों में कमजोर वर्ग के लोगों को रोजगार दिलाने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। योजना के तहत सरकार राज्य के 12 हजार बेरोजगार नागरिकों को रोजगार के नए साधन और सुविधाएँ मुहैया करवाएगी। योजना के लिए सरकार ने सरकारी खजाने से 72 से 73 करोड़ रुपये खर्च करने की बात कही है जो की योजना के शुरू होने के 2 वर्षों के बाद तक किया जाएगा। योजना के अंतर्गत पंजीकृत होने वाले नागरिकों को सरकार आर्थिक रूप से सहायता देने के लिए उन्हें 6,000 रुपये प्रतिमाह की धनराशि प्रदान करेगी। इस तरह की योजनाओं के राज्य में लागू होने से राज्य के गरीब और किसानों की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार हुआ है। पौनी पसारी योजना में तेलघानी, चर्मशिल्प, लौहकर्म और रजककार आदि तरह के काम करने वाले मजदूरों को शामिल किया जाएगा। राज्य सरकार का कहना है छत्तीसगढ़ की बहुत सी पुरातन और पारंपरिक कलाएँ लुप्त होने की कगार पर हैं इस तरह की योजनाओं को राज्य में लागू होने से यहाँ के स्थानीय और पारंपरिक उत्पादों को प्रोत्साहन और बढ़ावा मिलेगा। छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना से राज्य के लाखों ग्रामीण और स्थानीय गरीब परिवारों के जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।

क्रम संख्या योजना से संबंधित योजना से जुड़ी जानकारियाँ
1योजना का नाम छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना
2योजना की शुरुआत कब हुई 5th दिसंबर 2020
3 योजना किसके द्वारा लॉन्च की गई छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री “श्री भूपेश बघेल जी” के द्वारा
4योजना से संबंधित विभाग छत्तीसगढ़ राज्य का श्रम रोजगार मंत्रालय
5योजना के लाभार्थी राज्य के बेरोजगार नागरिक
6योजना का उद्देश्य राज्य के बेरोजगार नागरिकों को रोजगार के नए अवसर उपलब्ध करवाना ।
7आवेदन पंजीकरण की प्रक्रिया ऑनलाइन माध्यम से
8योजना की आधिकारीक वेबसाईट जल्द ही जारी कर दी जाएगी
9 योजना का हेल्पलाइन नंबर :जल्द ही जारी कर दी जाएगा
10 शिकायत व सुझाव हेतु ऑफिसियल ई मेल आईडी :जल्द ही जारी कर दी जाएगी

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के लाभ

  • योजना के अनुसार छत्तीसगढ़ राज्य के 12 हजार बेरोजगारों नागरिकों को रोजगार प्रदान किया जाएगा।
  • पौनी पसारी योजना के तहत छत्तीसगढ़ के पारंपरिक व्यवसाय और उद्योगों के लिए राज्य सरकार के द्वारा एक मंच और बाजार तैयार किया जाएगा। राज्य सरकार 20 लाख रुपये की लागत से 255 पारंपरिक बाजारों को स्थापित करेगी। जिसमें की राज्य सरकार के 168 नगरीय निकायों को शामिल किया जाएगा।
  • योजना के तहत राज्यभर में 15 बड़े शेड बाजार तैयार किए जाएंगे जिसमें एक बार में लगभग 90 लोगों के करीब अपना व्यवसाय कर सकें।
  • योजना के तहत 50% महिला सदस्यों को शेड सुरक्षा मुहैया करवाई जाएगी।
  • योजना में पंजीकृत नागरिक को शेड के अंतर्गत व्यापार करने पर राज्य सरकार को 10 रुपये हर रोज के हिसाब से शुल्क देना होगा।
  • राज्य में योजना के लागू होने से लोगों का रोजगार ढूँढने के लिए पलायन करना रुकेगा।
  • राज्य में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे और इससे बेरोजगारी दर में कमी आएगी।
  • योजना के तहत पाँजीकृत नागरिकों को 6,000 रुपये प्रतिमाह की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • योजना हेतु राज्य सरकार इसका खर्च बजट लगभग 73 करोड़ रुपये रखा है।
  • योजना के अंतर्गत आवेदक को व्यवसाय शुरू करने हेतु राज्य सरकार की तरफ से जरूरी आर्थिक मदद की जाएगी।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के लाभ पाने वालों की सूची

योजना के तहत निम्नलिखित काम करने वालों को योजना का लाभ पहुंचाया जाएगा –

क्रम संख्या योजना का लाभ पाने वाले कामगार
1मूर्ति बनाने का काम करने वाले
2बांस का व्यवसाय करने वाले
3फूल/बागीचों का व्यवसाय करने वाले
4सब्जी का उत्पादन करने वाले
5बाल काटने का काम करने वाले (जैसे : नाई )
6आभूषण का कार्य करने वाले
7जूते चप्पल का काम करने वाले
8मिट्टी का कार्य करने वाले
9कपड़ों की सिलाई/बुनाई का काम करने वाले
10पशुपालन का कार्य करने वाले
11चटाई का कार्य करने वाले
12शृंगार/सौन्दर्य सामग्री का समान बनाने वाले
13कंबल बनाने वाले कामगार
14निर्माण कार्य करने वाले
छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना की पात्रताएँ

योजना के लिए आवेदन करने से पूर्व आपको योजना से संबंधित निम्नलिखित पात्राताएँ पूरी करनी होगी –

  • योजना के अनुसार आवेदक छत्तीसगढ़ राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • योजना के अंतर्गत आवेदनकर्ता के परिवार का सदस्य किसी सरकारी नौकरी में कार्यरत नहीं होना चाहिए।
  • योजना के लिए पुरुष और महिलायें दोनों ही आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदनकर्ता का अपना कोई पारंपरिक व्यवसाय होना चाहिए।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

योजना के लिए आवेदन करने हेतु आपके पास निम्नलिखित दस्तावेज होने चाहिए –

  • आवेदक का स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • एड्रैस प्रूफ हेतु राशन कार्ड
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज़ फोटोग्राफ
  • आवेदक का ऐक्टिव मोबाईल नंबर

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना की आवेदन की प्रक्रिया

यहाँ हम आपको बता दें की योजना के अंतर्गत पंजीकरण की प्रक्रिया को अभी फिलहाल शुरू नहीं किया गया है। योजना हेतु रजिस्ट्रेशन के लिए आधिकारीक वेबसाईट को जल्द ही राज्य सरकार द्वारा लॉन्च किया जाएगा। अभी तक छत्तीसगढ़ राज्य सरकार की तरफ से योजना के बारे में कोई भी ऑफिसियल नोटफिकेशन या सूचना जारी नहीं की गई है। योजना से जुड़े किसी भी अपडेट को आपको आर्टिकल के माध्यम से बता दिया जाएगा।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना से संबंधित FAQs

पौनी पसारी योजना किस राज्य से संबंधित है ?

पौनी पसारी योजना छत्तीसगढ़ राज्य से संबंधित है।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना का उद्देश्य क्या है ?

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना का उद्देश्य राज्य के भूमि हीन मजदूर, गरीब किसान, पारंपरिक व्ययवसाय का कम करने वाले कामगारों को रोजगार के अवसर प्रदान करना और राज्य की हस्तशिल्प कला, पुरातन शिल्पी कला को एक अंतर्राष्ट्रीय पहचान दिलाना।

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के लाभार्थियों को दी जाने वाली आर्थिक मदद कितनी है ?

छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के लाभार्थियों को 6,000 रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी ।

योजना की अवधि कितने समय को होगी ?

राज्य सरकार के नियमानुसार योजना की अवधि दो वर्ष की होगी।

योजना की ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया क्या है ?

हम आपको उपरोक्त आर्टिकल में पहले ही बता चुके हैं की अभी योजना की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है जैसे की योजना से जुड़ा कोई अपडेट आता है तो आपको आर्टिकल के माध्यम से सूचना दे दी जाएगी।

योजना का सहायता के लिए हेल्पलाइन नंबर क्या है

फिलहल के लिए योजना का कोई ऑफिसियल हेल्पलाइन नंबर जारी नहीं किया गया है पर हेल्पलाइन नंबर जल्द ही जारी कर दिया जाएगा। आप छत्तीसगढ़ राज्य के श्रम विभाग के फोन नंबर पर संपर्क कर योजना से जुड़ी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
फोन नंबर :- 0771-2443513, 2443514, 2443515, 2443516
ऑफिसियल ई मेल आईडी :- cglc2012@gmail.com

आशा करते हैं छत्तीसगढ़ पौनी पसारी योजना के बारे में आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा। आर्टिकल या अन्य किसी भी राज्य की योजनाओं के डाउट के लिए आप कमेन्ट बॉक्स में हमसे प्रश्न पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों के उत्तर देने का भरपूर प्रयास करेंगे। उपरोक्त योजना और अन्य उपयोगी जानकारियों के अपडेट के लिए जुड़ें रहें हमारी वेबसाईट pmmodiyojanaonline.in से। धन्यवाद

Leave a Comment