झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना 2021: डाउनलोड एप्लीकेशन फॉर्म

झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना – का शुभारंभ राज्य के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा की गयी है इस योजना के अंतर्गत राज्य के सभी नागरिकों को रोजगार के साधन उपलब्ध करवाएं जायेंगे। योजना के माध्यम से राज्य के ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के सभी युवा नागरिकों को स्वरोजगार से जोड़ने का कार्य किया जायेगा। इसके लिए झारखण्ड सरकार नागरिकों को स्वरोजगार को स्थापित करने हेतु ऋण सहायता प्रदान करेगी। आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से Jharkhand Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana 2021 सभी प्रकार की जानकारी को साझा करेंगे। अतः मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को पूरा पढ़े।

झारखण्ड-मुख्यमंत्री-रोजगार-सृजन-योजना

झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना 2021

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना– के अंतर्गत राज्य में स्वरोजगार के क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए सरकार युवाओं को अपना रोजगार शुरू करने के लिए 25 लाख रूपए तक की ऋण सहायता प्रदान की जाएगी। ऋण राशि को नागरिक व्यवसाय शुरू करने हेतु कम ब्याज में प्राप्त कर सकते है। यह युवाओं को रोजगार के नए नए साधन की उत्त्पत्ति के लिए झारखंड सरकार के द्वारा एक पहल शुरू की गयी है। 18 वर्ष से 45 वर्ष तक के नागरिक योजना के अंतर्गत लोन प्राप्त करके स्वरोजगार को स्थापित करने में सहायक होंगे। Jharkhand Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana 2021 के माध्यम से राज्य में बढ़ रही बेरोजगारी की दर को कम किया जायेगा। युवाओं के द्वारा व्यवसाय की स्थापना किये जाने के बाद राज्य के अन्य नागरिकों को रोजगार के नए नए साधन प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।

रोजगार सृजन योजना अपडेट

मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी ने केंद्रीय स्वास्थय मंत्री को पत्र लिखकर उनसे एम्स देवघर में अधिक से अधिक स्थानीय लोगों को रखने के लिए सिफारिश की है। उन्होंने कहा की महाराष्ट्र सरकार अपने राज्य के लोगों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के तहत रोजगार देने के लिए प्रतिबद्ध है।आप की जानकारी के लिए बता दें की एम्स देवघर में 90 प्रतिशत सुरक्षाकर्मी झारखण्ड राज्य से बहार के ही हैं। जिसके लिए मुख्यमंत्री ने स्वास्थ्य मंत्री को स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए सिफारिश की है।

झारखण्ड बेरोजगारी भत्ता

Jharkhand Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana 2021

Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana– के माध्यम से नागरिकों को बिना किसी गारंटी के 50 हजार रूपए तक का लोन प्रदान किया जायेगा। एसटी, एससी, अल्पसंख्यक, पिछड़ा वर्ग तथा सखि मंडल की दीदियां इस योजना के अंतर्गत ऋण राशि को प्राप्त कर सकते है। स्वरोजगार स्थापित करने के लिए नागरिकों को सरकार के माध्यम से 40% का अनुदान दिया जायेगा। जो लगभग 5 लाख रूपए के बराबर होगा। इस योजना के अंतर्गत बेरोजगारी की समस्या से जूझ रहें नागरिकों को एक विशेष सहायता प्रदान की गयी जिसमें वह अपने लिए रोजगार स्थापित करके अन्य लोगो को भी काम दे सकते है। 5 लाख रूपए से कम आय वाले परिवार के युवा नागरिक झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत ऋण सहायता राशि को प्राप्त कर सकते है। साथ ही युवाओं को योजना के माध्यम से वाहन लेने हेतु भी सुविधाएँ प्रदान की गयी है।

योजना का नामझारखंड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना
योजना लागू की गयी झारखंड सरकार के अंतर्गत
लाभार्थीसखी मंडल की महिलाएं ,एसटी,एससी ,अल्पसंख्यक एवं अन्य
पिछड़ा वर्ग ,और विकलांग जन नागरिक
उद्देश्यराज्य में बढ़ रही बेरोजगारी की दर को कम करने के लिए नागरिकों
को व्यवसाय स्थापित करने हेतु ऋण सहायता राशि प्रदान करना
वर्ष 2021
लाभ रोजगार के नए साधनों की उत्पत्ति
ऋण की राशि25 लाख रुपए तक
अनुदान40% या फिर 5 लाख रुपए
आवेदक नागरिक की आयु सीमा18 से 45 वर्ष
आवेदन का प्रकारऑफलाइन/ऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट www.jharkhand.gov.in
Mukhyamantri-Rojgar-Srijan-Yojana

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना 2021 आवेदन हेतु कार्यालय विवरण

योजना के अंतर्गत आवेदन की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए झारखण्ड सरकार के द्वारा निम्न विभागों को चयनित किया गया है इन कार्यालयों में जाकर नागरिक आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

क्र संख्या कार्यालय का नाम
1 झारखंड राज्य पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम
Jharkhand State Backward Classes Finance and Development Corporation
2 जिला कल्याण पदाधिकारी
District Welfare Officer
3 झारखंड राज्य अनुसूचित जाति सहकारिता विकास निगम
Jharkhand State Scheduled Caste Cooperative Development Corporation
4 राज्य अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम
State minority finance and development corporation
5 झारखंड राज्य आदिवासी सहकारी विकास निगम
Jharkhand State Tribal Cooperative Development Corporation

झारखण्ड बेरोजगारी भत्ता 2021: ऑनलाइन पंजीकरण, Berojgari Bhatta Registration

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना झारखण्ड के उद्देश्य

Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana– का मुख्य उद्देश्य है स्वरोजगार के लिए नागरिकों को लोन राशि प्रदान करना जिससे नागरिक अपने हुनर के आधार अपने व्यवसाय की स्थापना करके एक अच्छी आमदनी को प्राप्त करके अपनी आर्थिक स्थिति में सुधार कर सकते है। इस योजना के माध्यम से उन सभी नागरिकों को लाभान्वित किया जायेगा जिनकी आर्थिक स्थिति ख़राब होने के कारन वह अपने लिए स्वरोजगार स्थापित नहीं कर पा रहें है। अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जनजाती ,पिछड़ा वर्ग ,अल्पसंख्यक एवं सखी मंडल से संबंधित सभी नागरिकों को यह अवसर प्रदान किया जा रहा है। नागरिकों को बेरोजगारी जैसी समस्याओं से मुक्त करने के लिए झारखंड सरकार के द्वारा राज्य के नागरिकों के लिए यह एक महत्वपूर्ण कदम उठाया गया है।

रोजगार सृजन योजना के लाभार्थी

झारखंड रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत राज्य के निम्न श्रेणी वाले नागरिकों को लाभान्वित करने के लिए चयनित किया गया है। आप यहाँ दी गयी सूची के माध्यम से देख सकते है की कौन लोग इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।

क्र संख्या लाभार्थी श्रेणी
1 सखी मंडल की दीदियां
2 पिछड़ा वर्ग
3 अनुसूचित जाति
4 अल्पसंख्यक वर्ग
5 अनुसूचित जनजाति
6 दिव्यांगजन

रोजगार सृजन योजना के लाभ

  • झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से नागरिकों को अपना व्यवसाय शुरू करने हेतु 25 लाख रुपये तक के ऋण का प्रावधान किया गया है।
  • इस कर्ज पर सरकार 40 फीसदी या अधिकतम 5 लाख रुपये तक का अनुदान देने की सहायता नागरिकों को प्रदान करेगी।
  • जिन नागरिकों के द्वारा 50 हजार रूपए तक का लोन लिया जायेगा उन्हें Jharkhand Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana के तहत किसी ग्रांटर की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।
  • 18 वर्ष से लेकर 45 वर्ष की अवस्था वाले वह नागरिक जो अपना व्यवसाय स्थापित करना चाहते है लेकिन आर्थिक स्थिति निर्बल होने के कारन वह अपने लिए स्वरोजगार की स्थापना नहीं कर पाते है ऐसे नागरिकों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना 2021  के माध्यम से लाभ प्राप्त होगा।
  • जिन नागरिकों के परिवार की सालाना आय 5 लाख रूपए से कम है वह नागरिक वह मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना से ऋण प्राप्त करने में लाभान्वित होंगे।

झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना की विशेषताएं

  • अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक एवं पिछड़ा वर्ग एवं सखी मंडल की महिलाओं को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना झारखंड के माध्यम से स्वरोजगार स्थापित करने हेतु सहायता प्रदान की जाएगी।
  • Jharkhand Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana के तहत सरकार न सिर्फ युवाओं को सस्ते दर पर कर्ज देगी बल्कि इसमें 40 फीसदी अनुदान भी देगी।
  • इस योजना के तहत बेरोजगार युवाओं को यात्री परिवहन आदि के लिए वाहन खरीदने की सुविधा भी प्रदान की जा रही है।
  • ,निम्न श्रेणी से संबंधित लोगो का विकास करने के लिए योजना को राज्य स्तर पर लागू किया गया है।
योजना हेतु पात्रता
  • झारखंड राज्य के मूल निवासी नागरिक ही योजना हेतु आवेदन के लिए पात्र है।
  • पिछड़ा वर्ग ,एसटी, एससी ,अल्पसंख्यक वर्ग ,एवं दिव्यांगजन और सखी मंडल की महिलाएं ही योजना के तहत ऋण सहायता राशि को प्राप्त करने में सहायक होंगे।
  • केवल 18 वर्ष से लेकर 45 वर्ष की आयु वाले नागरिक ही योजना के अंतर्गत स्वरोजगार खोलने हेतु पात्र होंगे।
  • झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से आवेदन करने वाले युवाओं के परिवार की वार्षिक आय 5 लाख रूपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।

Jharsewa | झारखण्ड झारसेवा प्रमाण पत्र (Certificates) ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन स्टेटस

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना हेतु दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मूल प्रमाण पत्र
  • सालाना आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • आयु का प्रमाण
  • आय प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक अकाउंट डिटेल्स

झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना आवेदन ऐसे करें ?

जो भी इच्छुक लाभार्थी पात्र नागरिक इस योजना हेतु आवेदन करना चाहते है वह नीचे बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो कर आसानी से झारखण्ड मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना आवेदन प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

  • Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana Jharkhand में आवेदन के लिए नागरिक को निम्न विभागों में किसी एक विभाग का दौरा करना होगा।
    • झारखंड राज्य अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम
    • झारखंड राज्य अनुसूचित जाति सहकारिता विकास निगम
    • जिला कल्याण पदाधिकारी
    • झारखंड राज्य आदिवासी सहकारी विकास निगम
    • झारखंड राज्य अनुसूचित जाति सहकारिता विकास निगम
    • राज्य पिछड़ा वर्ग वित्त एवं विकास निगम
  • किसी एक विभाग के कार्यालय का दौरा करके आवेदक नागरिक को आवेदन करने हेतु मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना Form को कार्यालय से प्राप्त करना होगा।
  • इसके पश्चात आवेदन पत्र में दी गयी सभी जानकारी को ध्यान पूर्वक पढ़ के सभी महत्वपूर्ण जानकारी को फॉर्म में भरना होगा।
  • जैसे -आवेदक नागरिक का नाम ,मोबाईल नंबर ,पते से संबंधित जानकारी ,बैंक संबंधी डिटेल्स ,जाति श्रेणी ,एवं अन्य प्रकार की सभी आवश्यक जानकारी
  • इसके बाद फॉर्म के साथ मांगे गए सभी दस्तावेजों एवं पासपोर्ट साइज फोटो को आवेदन पत्र के साथ सलंगन करें।
  • और कार्यालय में जमा कर दें।
  • इसके पश्चात आवेदक नागरिक की आवेदन की प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी।

आप की जानकारी के लिए बता दें की आवेदक द्वारा सभी दस्तावेज समेत आवेदन पत्र जमा करवाने पर विभाग उन सभी दस्तावेजों और सूचनाओं की जांच करवाता है। सत्यापन प्रक्रिया पूरी करने हेतु आवेदक को कार्यालय बुलाया जाता है। अगर आवेदक द्वारा दी गयी सभी जानकारी सही है तो उसे योजना का लाभ मिलेगा अन्यथा उसके आवेदन को रद्द मना जाएगा। इस लिए आवश्यक है की आवेदन पत्र में दी गयी सभी जानकारी सही होनी चाहिए। जब सत्यापन की प्रक्रिया पूरी हो जाती है तो आवेदक इस योजना के तहत लभरती बन जाता है। इस के बाद लाभार्थी को बैंक अकाउंट में डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर ) के माध्यम से लोन की राशि उपलब्ध करा दी जाती

(Rejected List) पीएम किसान सम्मान निधि योजना रिजेक्ट लिस्ट 2021: ऑनलाइन चेक

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना से संबंधित प्रश्न उत्तर

Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana की शुरुआत किसके द्वारा की गयी ?

झारखण्ड राज्य के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन जी के द्वारा Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana की शुरुआत की गयी।

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत राज्य के कौन से नागरिकों को लाभान्वित किया जायेगा ?

राज्य के उन सभी नागरिकों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से लाभान्वित किया जायेगा जो निम्न श्रेणी से संबंधित है जैसे ST ,SC ,अन्य पिछड़ा वर्ग ,अल्पसंख्यक ,विकलांग जन ,और सखी मंडल की महिलाएं।

स्वरोजगार स्थापित करने हेतु नागरिकों को मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से कितनी ऋण राशि की सहायता प्रदान की जाएगी ?

मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के माध्यम से स्वरोजगार स्थापित करने के लिए नागरिकों को 25 लाख रूपए तक की ऋण सहायता राशि कम ब्याज दर में प्रदान की जाएगी।

Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana के अंतर्गत राज्य के नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त होंगे ?

राज्य के नागरिकों को Mukhyamantri Rojgar Srijan Yojana के अंतर्गत विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे ,राज्य में स्वरोजगार को बढ़ावा देने के पश्चात रोजगार के नए साधनों की उत्पति होगी जिसके तहत अन्य नागरिकों को रोजगार की तलाश में अन्य राज्यों में नहीं जाना पड़ेगा। इससे बेरोजगारी की समस्या में कमी आएगी।

योजना में आवेदन के समय किन किन दस्तवेजों की आवश्यकता होगी ?

आधार कार्ड ,राशन कार्ड ,मूल प्रमाण पत्र , सालाना आय प्रमाण पत्र , जाति प्रमाण पत्र ,आयु का प्रमाण ,आय प्रमाण पत्र ,पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ , मोबाइल नंबर , बैंक अकाउंट डिटेल्स

Leave a Comment