Shegaon Gajanan Maharaj Online Booking | Darshan E-Pass Online Registration, Timings on gajananmaharaj portal

हमारे देश में महाराष्ट्र में स्थित शेगांव गजानन मन्दिर सबसे अधिक प्रतिष्ठित मंदिरों में से एक है। साथ ही Shegaon Gajanan Maharaj महाराष्ट्र का भी सबसे प्राचीन एवं लोकप्रिय मंदिर भी है। इसी कारण से प्रत्येक वर्ष हजारों की संख्या में भक्तगण इस मंदिर में दर्शन के लिए आते है। यद्यपि पिछले कुछ समय में मंदिर में नए कार्य के लिए इसको दर्शन के लिए बंद भी किया गया था। किन्तु अब भक्त एवं दर्शनार्थी पूजा और दर्शन के लिए मंदिर में आ सकते है। इसके अतिरिक्त मंदिर के प्रबंधन ने ऑफिसियल पोर्टल के माध्यम से टिकट बुकिंग की सुविधा को भी आम नागरिको के लिए शुरू कर दिया है। इस लेख के अंतर्गत आपको ऑनलाइन टिकट बुकिंग प्रक्रिया, दर्शक ई-पास ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, दिशा-निर्देश एवं मंदिर के समय इत्यादि के विवरण देने का प्रयास होगा।

shegaon gajanan maharaj online booking
shegaon gajanan maharaj booking

Shegaon Gajanan Maharaj Online Booking | Darshan E-Pass

मंदिर का नामशेगांव गजानन महाराज जी
स्थानबुलडाणा, महाराष्ट्र
उद्देश्यऑनलाइन दर्शन की सुविधा देना
लाभार्थीदेश के सभी नागरिक
माध्यमऑनलाइन
मंदिर में दर्शन का समयप्रातः 5 बजे से रात्रि 8 बजे तक
आधिकारिक वेबसाइटgajananmaharaj.org

गजानन महाराज मंदिर

संत गजानन महाराज मंदिर ने लोगों के बीच बहुत लोकप्रियता एवं ख्याति प्राप्त की है चूँकि अपने समय में संत श्री गजानन महाराज इसी स्थान पर ठहरे थे। ज्यादातर हिन्दुओं ने गजानन महाराज को काफी आदर दिया और इनके चमत्कारिक होने की बात मानी। किन्तु अभी तक महाराज जी की उत्पन्न होने के बारे में कोई भी ऐतिहासिक जानकारी नहीं है। इसी जगह पर महाराज जी ने अपनी समाधी भी ली थी एवं यहाँ पर भक्तो को महाराज जी की समाधि भी देखने को मिल जाती है।

महाराष्ट्र के जिले बुलढाणा के शेगाँव में मौजूद मंदिर समूचे देशभर के दर्शको को भारी मात्रा में अपनी ओर आकर्षित कर रहा है। विदर्भ क्षेत्र में संत गजानन महाराज का मंदिर सबसे बड़ा मंदिर ट्रस्ट भी है। यहाँ से आसपास के विभिन्न कॉलेज, हॉस्पिटल एवं अन्य स्थानों पर लोकोपकार के कार्य भी किये जाते है।

गजानन महाराज मंदिर ई-पास की ऑनलाइन बुकिंग प्रक्रिया

  • सबसे पहले अपने गजानन महाराज संस्थान के आधिकारिक पोर्टल की वेबसाइट gajananmaharaj.org को ओपन करना है।
  • पोर्टल के होम पेज पर आपने नीचे की ओर जाकर गजानन महाराज टिकट की बुकिंग करनी है।
  • यहाँ आपने ‘ई-दर्शन पास’ को चुनना है।
  • प्रदर्शित होने वाले सभी दिशा-निर्देशों को पढ़ लें।
  • इसके बड़ा चेक बॉक्स में “मैं नियम एवं शर्ते स्वीकार करता हूँ” पर टिक कर दें।
  • गजानन महाराज टिकट बुकिंग के लिए अपनी आधार संख्या दर्ज़ करके “Submit For Darshan E-Pass” विकल्प को चुने।
  • अब आपको नीचे की ओर दिए गए ऑनलाइन टिकट बुकिंग फॉर्म में री-डायरेक्ट किया जायेगा।
gajanan maharaj online portal

गजानन महाराज संस्थान ई-पास की ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म

आपने गजानन महाराज मंदिर के आधिकारिक पोर्टल पर ई-पास को ऑनलाइन भरते समय नीचे बताये गयी प्रक्रिया को फॉलो करना है। नीचे दी गयी प्रक्रिया को ध्यान से समझे –

  • फॉर्म में तारीख, समय स्लॉट, मोबाइल नंबर, जन्म-तिथि, ईमेल आईडी इत्यादि को दर्ज़ करें अथवा चुने।
  • “Apply For Darshan E-Pass” विकल्प को चुनना है।
  • गजानन महाराज टिकट की उपलब्धता की जाँच कर लें।
  • मंदिर के अधिकारीयों से ऑनलाइन आवेदन से पुष्टिकरण सन्देश को प्राप्त कर सकेंगे।
  • मंदिर में दर्शन के लिए अपने साथ ई-पास एवं अपने आधार की एक प्रति साथ में रखे।

गजानन महाराज मंदिर में दर्शन समय

गजानन महाराज मंदिर में अधिकारीयों के अनुसार तय किये समय पर ही हर दिन भक्त दर्शन कर सकते है। मंदिर परिसर में प्रातः 5 बजे से रात्रि 8 बजे तक दर्शन का अवसर मिलता है। साथ ही मंदिर को हफ्ते में सातों दिनों में संचालित करते है। इस प्रकार से इसी कार्यक्रम के अनुसार मंदिर में भक्तो को दर्शन की अनुमति मिल सकेगी।

गजानन महाराज संस्थान के दिशा-निर्देश

मंदिर में आने वाले भक्तो के लिए मंदिर परिषद ने कुछ दिशा-निर्देशों को जारी किया है। इन दिशा-निर्देशों के अनुसार ही सभी भक्तों को मंदिर में दर्शन करने होंगे। मंदिर परिसर में प्रवेश के लिए सभी भक्तो को पाने साथ ई-पास एवं आधार कार्ड की प्रति रखनी है। इनके बिना मंदिर परिसर में प्रवेश की आज्ञा नहीं होगी। इसके अतिरिक्त कुछ जरुरी निर्देश भी निम्न प्रकार से है –

  • उम्मीदवार को मंदिर में आने से पहले अपना पंजीकरण ऑनलाइन पोर्टल पर करना होगा।
  • ऑनलाइन पोर्टल पर टिकट की बुकिंग के साथ ही मंदिर परिसर में भी ऑफलाइन टिकट बुकिंग की भी सुविधा है।
  • हालाँकि सभी दर्शनार्थी ऑनलाइन पोर्टल से ही टिकट की बुकिंग का अधिक से अधिक प्रयास करें।
  • मंदिर परिसर में आने वाले सभी भक्त को ‘थर्मल स्कैनिंग’ प्रक्रिया से गुजरना होगा।
  • सभी भक्तो को मास्क, दस्ताने इत्यादि को पहनना है और मंदिर परिसर में साफ- सफाई का भी ध्यान रखना है।
  • किसी भी व्यक्ति को यहाँ पर मादक द्रव्य, सिगेरट, पान-बीड़ी, गुटखा एवं अन्य नशीला सामान लाने की आज्ञा नहीं है।
  • देश में महामारी के प्रकोप के कारण गर्भवती महिला, दस वर्ष से कम आयु के बच्चे एवं वृद्ध नागरिको को मंदिर में ना आने की सलाह है।
  • मंदिर के अधिकारीगण एक निश्चित संख्या में ही भक्तो को मंदिर में प्रवेश की आज्ञा है।
  • किसी भी भक्त को मंदिर में फूल एवं प्रसाद को लाने की अनुमति नहीं है।
  • शजरात के पश्चात पंक्ति में खड़े दर्शकों को दर्शन की आज्ञा मिलती है। और प्रातः 5 बजे तक बंद रखते है।
sant gajanan maharaj mandir

यह भी पढ़ें :- मेहंदीपुर बालाजी मंदिर का इतिहास | Mehandipur Balaji

गजानन महाराज मंदिर में ऑनलाइन दान प्रक्रिया

गजानन महराज के मंदिर में भक्तो को ऑनलाइन टिकट बुकिंग के साथ ऑनलाइन दानं करने की भी सुविधा दी जा रही है। इसके लिए आपने नीचे दिए चरणों को फॉलो करना है –

  • सबसे पहले अपने मंदिर की आधिकारिक वेबसाइट के दान पेज http://online.gajananmaharaj.org को ओपन करना है।
  • यहाँ पर अपना नाम, गोत्र, मोबाइल नंबर, पिनकोड, प्रदेश, शहर एवं जिले का नाम, पता इत्यादि के विवरण दर्ज़ करने है।
  • इससे अगले पेज पर आपने अपने दान के प्रकार जैसे अन्न, भवन, शिक्षा, सामान्य दान, अभिषेक इत्यादि को चुनना है।
  • इसके बाद आपने दान के लिए राशि को चुनकर “Submit” बटन दबा देना है।
  • अब नए पेज में आपने अपने भुगतान की विधि को चुनना है।
  • इसके बाद आपने गजानन महाराज की ऑनलाइन दान बुकिंग कर देनी है।
  • दान के सफलतापूर्वक होने के बाद आपको एक भुगतान प्रमाण-पत्र भी भुगतान सलाह के रूप में मिलेगा।
gajanan maharaj donation

गजानन महाराज ऑनलाइन बुकिंग से जुड़े प्रश्न

गजानन महाराज मंदिर में दर्शन कब होते है?

मंदिर के अधिकारीयों द्वारा तय किये समय के अनुसार भक्त दर्शन करने है। इस समय हर दिन प्रातः 5 बजे से रात्रि 8 बजे तक तीर्थयात्री मंदिर में दर्शन कर सकते है। मंदिर को हफ्ते में सातों दिन तक संचालित करते है।

क्या गजानन मंदिर में ई-पास जरुरी है?

सरकार की और से पूजा के लिए यह धार्मिक स्थल अधिकृत किया गया है इस कारण से संत गजानन महाराज का मंदिर भी उपलब्ध है। यहाँ दर्शन के लिए आने ई-पास की अनिवार्यता रखी गयी है।

गजानन महाराज जी मंदिर कहाँ है?

यह मंदिर महाराष्ट्र राज्य के जिले बुलढाणा में शेगांव गाँव में मौजूद है।

मंदिर परिसर में भक्तो के लिए कमरे कहाँ बुक होंगे?

भक्तगणों को कमरे काउंटर पर पहले आओ और पहले पाओ की सुविधा से उपलब्ध होंगे।

गजानन मंदिर में दर्शन के लिए ऑफलाइन टिकट मिल सकता है?

जी हाँ, ऑनलाइन टिकट बुकिंग ना हो पाने की दशा में भक्त मंदिर परिसर में काउंटर पर आकर ऑफलाइन टिकट की बुकिंग भी कर सकते है।

गजानन महाराज संस्थान के हेल्पलाइन एवं संपर्क सूत्र

संपर्क एवं सहायता नंबर – 07265252699

Leave a Comment

Join Telegram