(PMFBY) प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना: ऑनलाइन फॉर्म, Fasal Bima Yojana

देशभर के किसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदा के जोखिम से बचाने और उनके आर्थिक हितों की रक्षा के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लायी गयी थी। PM Fasal Bima Yojana आज से 5 वर्ष पूर्व 2016 में आयी थी। हमारा भारत देश कृषि प्रधान देश है और यहाँ की आधी से ज्यादा आबादी देश के गांवों में ही बसती है। गाँव में रहने वाले नागरिकों के आय का प्राथमिक स्रोत कृषि ही है। इसलिए केंद्र सरकार द्वारा समय समय पर देश के किसानो को ध्यान में रखकर नयी नयी योजनाएं लाती रहती है। ये योजना सभी किसानों के बेहतरी और उनके विकास के लिए लायी जाती हैं। इस स्कीम के तहत किसानो को लाभ दिया जाएगा। इसमें अगर किसानों की फसल घर आने से पहले ही किसी कारणवश खराब हो जाती है तो ऐसी स्थिति में सरकार द्वारा उन सभी किसानों को मुआवज़ा दिया जाएगा जिनकी फसल खराब हुई है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना भारतीय कृषि बीमा कम्पनी AIC की सहायता द्वारा चलाई जाती है। इस योजना का लाभ लेने के लिए सभी किसान भाई ऑनलाइन और ऑफलाइन मोड से आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

Fasal Bima Yojana के तहत उन सभी किसानों को लाभ दिया जाएगा जिनकी फसल ख़राब हो जाती है। इस योजना के अंतरगत जिन भी किसानो की फसल प्राकृतिक आपदा या वजहों के चलते खराब होती है उन्हें केंद्र सरकार द्वारा मुआवज़ा दिया जाता है. ये मुआवज़ा सरकार द्वारा सीधे किसान के बैंक खाते में जमा किया जाता है। इसके लिए जरुरी है कि सभी किसान अपनी फसल का बीमा करवा लें। ऐसे में अगर किसी प्राकृतिक कारणों से फसल नष्ट होती है जैसे – बाढ़ , सूखा ,आंधी , तेज़ बारिश , बिजली गिरने या फिर ओला वृष्टि जैसी अन्य कोई आपदा से होने वाले नुकसान से सरकार द्वारा मिलने वाली बीमा राशि से इसकी भरपाई की जाएगी। सरकार ने इस योजना के तहत फसल नुक्सान होने पर 2 लाख तक की बीमा राशि प्रदान करने की योजना सुनिश्चित की है।

Table of Contents

Pradhanmantri Fasal Bima Yojana 2021 Highlights

योजना का नाम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
शुरू की गयी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा
विभाग / मंत्रालय कृषि व किसान कल्याण मंत्रालय
योजना का प्रकार केंद्र सरकार की योजना
उद्देश्य किसानों की फसलों के खराब होने पर बीमा
कवरेज और वित्तीय सहायता देना
बीमा / सहायता राशि 2 लाख तक की बीमा राशि
वर्तमान वर्ष 2021
आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in

फसल बीमा योजना का उद्देश्य क्या है ?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना केंद्र सरकार द्वारा देश के उन सभी किसानों को ध्यान में रखकर लायी गयी है जो प्राकृतिक आपदाओं के चलते फसलों के नुक्सान को झेलते हैं। उन सभी किसानो के लिए सरकार ने इस योजना के माध्यम से फसल खराब होने पर वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रावधान किया है। ये सहायता राशि 2 लाख रूपए तक की होगी। इस योजना का उद्देश्य मात्र किसानों की सहायता करना ही नहीं अपितु उनकी आय भी स्थिर करने का है जिस से वे लोग खेती निर्बाध रूप से करते रहे। साथ ही नई तकनीकों का इस्तेमाल करने में भी उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा।

जैसा की हम जानते ही हैं की मौसम की अनिश्चितताओं के चलते कई बार किसानों को कृषि सम्बन्धी समस्याओं को झेलना पड़ता है। इसका सीधा असर फसलों पर पड़ता है और उनके खराब होने का जोखिम काफी बढ़ जाता है। अगर फसल खराब होती है तो किसानों को बहुत नुक्सान होता है। खासकर उन परिवारों को जिनकी प्राथमिक आय का माध्यम ही कृषि है और कृषि से ही उनका घर परिवार चालता है।ऐसी स्थिति में उनके भूखे रहने की नौबत आ जाती है। कई बार समाचारपत्रों में कई किसानों की आत्महत्या सम्बन्धी खबरें तक पढ़ने को मिल जाती है। इन्ही सब तथ्यों पर विचार करके सरकार ने मेहनती किसानो की मदद के उद्देश्य से इस योजना की शुरुआत की है। किसान कल्याण हेतु सरकार द्वारा इस योजना की शुरुआत की गयी है है।

PMFBY 2021 योजना से लाभ

  • प्रधानमन्त्री फसल बीमा योजना को सरकार द्वारा देश के किसानो के हित में आरम्भ किया गया है।
  • यदि किसी किसान की फसल खराब होती है जिसके पीछे प्राकृतिक कोई आपदा या कीड़े लगने की वजह से ख़राब होती है तो उसे सरकार द्वारा इस योजना के तहत बीमा राशि के रूप में मुआवज़ा प्रदान किया जाएगा। ताकि मेहनती किसानों की आर्थिक भरपाई कर सके।
  • फसल खराब होने पर किसानो को मिलने वाली बीमा राशि के रूप में वित्तीय सहायता 2 लाख रूपए तक की है।
  • जो किसान परिवार कृषि करके ही अपनी आजीविका चलाते हैं उनके लिए ये योजना बहुत लाभप्रद है। ऐसा इसलिए क्यूंकि फसल खराब होने पर उन्हें अगली फसल तक आमदनी नहीं मिलती और उन्हें खाने के लिए भी कुछ नहीं मिलता। लेकिन इस योजना के अंतगत मिलने वाली बीमा राशि से इन सभी परिवारों की आर्थिक मदद हो जाती और वो सभी अपनी जरूरतें पूरी कर सकते हैं।
  • किसानो को मिलने वाली वित्तीय सहायता से वो अगले सीजन के लिए कृषि सम्बन्धी आवश्यक सामग्री भी इक्कठा कर सकते हैं। जैसे की अगली फसल बोने के लिए अच्छे बीज , खाद तथा अन्य कृषि सम्बन्धी उपकरण।
  • PMFBY के तहत किसानों की इनकम को स्थायी रखने का प्रयास किया गया है ताकि किसान आगे भी खेती करते रहे और अर्थिक नुकसान की वजह से उन्हें खेती न छोड़नी पड़े। क्यूंकि काफी बार ऐसा होता है की किसान के पास अगली फसल को तौयार करने के लिए भी पैसे नहीं होते। ऐसे में खेती मजबूरन छोड़नी पड़ती है।
  • Fasal Bima Yojana के अंतर्गत देश के सभी किसान वर्ग को कृषि के क्षेत्र में आने वाले नए नए तकनीक की जानकारी समय समय पर दी जाएगी। इतना ही नहीं बल्कि उन्हें तकनीकी माध्यमों द्वारा अभ्यास करना और उसे कृषि प्रक्रिया में इस्तेमाल करने को प्रेरित भी किया जाएगा। इस से न केवल उनका काम सुगम और सरल होगा बल्कि पैदावार भी बढ़ेगी।
  • कृषि के क्षेत्र में इस योजना के माध्यम से ऋण का प्रवाह सुनिश्चित किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा बीमा पोर्टल की शुरुआत की गयी है। ऑनलाइन माध्यम से काम होने से प्रक्रिया में पारदर्शिता आएगी।
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत उन सभी किसानो को भी लाभ मिलता है जो लोन लेकर कृषि करते हैं। जैसा की हम जानते हैं की कुछ किसान लोन लेकर कृषि करते हैं। ऐसे में फसल खराब होने के चलते उन्हें क़र्ज़ के बोझ से बचाने के लिए इस योजना से आर्थिक सहयता की गारंटी मिलती है. वो इस रकम से अपने लोन को भर सकते हैं।
  • इस योजना में किसान को दी जाने वाली बीमा राशि डायरेक्ट आवेदक किसान के अकाउंट में डाली जाएगी। कोई बीच में धोखाधड़ी नहीं कर पाएगा ।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की विशेषताएं

  • हमारे देश में चल रही pradhanmantri Fasal Bima Yojana पूरे विश्व में चल रही किसान भागीदारी की वर्तमान में सबसे बड़ी योजना है।
  • यदि प्राकृतिक आपदा जैसे बाढ़ , सोखा , तेज़ बारिश , तूफ़ान , भूस्खलन आदि कारणों से किसी किसान की फसल ख़राब होती है तो ऐसे में इस योजना के तहत वो किसान बीमा राशि का हकदार होता है।
  • इस योजना में खरीफ फसलों में बाजरा , ज्वार , मक्का , मूंग , सोयाबीन , तिल , अरहर , उड़द , चंवला , ग्वार, मोठ , मूंगफली , धन , कपास , अरंडी , किन्नू , प्याज , संतरा और अमरुद इत्यादि फसलों को शामिल किया गया है।
  • रबी की फसल के तहत मेथी , धनिया , प्याज़ , लहसुन , आंवला , बैगन , तरबूज , गेंहू , जाऊ , चना , ईसबगोल , तारामीरा , सरसों , रबी मक्का , मसूर टमाटर इत्यादि फसलों को रखा गया है। इन फसलों के नुक्सान पर किसान को नुक्सान का आकलन कर बीमा कंपनी द्वारा बीमा राशि प्रदान की जाएगी।
  • वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के लिए भी इस योजना के अंतर्गत बीमा होता है और इनके लिए भी आर्थिक सुरक्षा मिलने का प्रावधान है। लेकिन यहाँ अन्य फसलों के मुकाबले ज्यादा प्रीमियम देना होता है। इन फसलों के लिए 5 प्रतिशत प्रीमियम देना होगा।
  • फसल बीमा के तहत किसान को 2 लाख रूपए तक की वित्तीय सहायता मिलती है।
  • इस योजना के अंतर्गत सभी पंजीकृत किसानों को ख़रीफ़ की फसल के लिए 2 प्रतिशत की प्रीमियम राशि का भुगतान करना होता है। वहीँ रबी फसल के लिए सभी किसानो को 1.5 % प्रतिशत का भुगतान करना होता है। इसके अलावा वार्षिक वाणिज्यिक एवं बागवानी फ़सलों के लिए कुल 5 %प्रतिशत प्रीमियम का भुगतान करना होगा।
  • किसानो पर किसी भी तरह का आर्थिक बोझ न आये इस बात को ध्यान में रखते हुए इस योजना के तहत भरे जाने वाले प्रीमियम राशि को किसानो के लिए बहुत ही कम रखा है। इसके अलावा बकाये का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी पर कोई भी अधिकतम लिमिट नहीं रखी गयी है। यहाँ तक की अगर बैलेंस 90 प्रतिशत भी होगा तो सरकार उसे वहन करेगी।
  • fasal bima yojna सरकार द्वारा एक बीमा कंपनी जिसका नाम एग्रीकल्चर इन्श्योरेंस कंपनी ऑफ इंडिया (AIC) है की मदद से चलाया जा रहा है । 
  • किसान की फसलों का कितन नुक्सान हुआ है ये जानने के लिए आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल किया जाएगा। जैसे की ड्रोन कैमरा जो रिमोट कण्ट्रोल द्वारा संचालित किया जाता है , स्मार्टफोन , जीपीएस टेक्नीक इत्यादि का उपयोग होगा जिस से फसल के नुक्सान का ठीक अनुमान लगाया जा सके। इन सभी माध्यमों से हो चुके नुकसान की तस्वीरें लेकर उनसे सम्बन्धित जानकारियों का डाटा सरकार को भेजा जाएगा और फिर बीमा कंपनी की मदद से किसान के नुक्सान की भरपाई की जाएगी।
  • काफी बार ऐसा भी होता है की बीमा कंपनी किसानों द्वारा किये गए बीमा राशि के लिए क्लेम को रद्द कर देती हैं. ऐसा इस परिस्थिति में होता है जब अगर किसान हो चुके नुक्सान के बारे में देर से क्लेम करता है। क्लेम करने के लिए बीमा कंपनी और कृषि विभाग विशेषज्ञ से 24 से 72 घंटे के अंदर अंदर ही संपर्क करके सूचना देनी होती है। अन्यथा आपके क्लेम को रद्द किये जाने की भी संभावना होती है। जैसा की हाल ही में लगभग 9 लाख 30 हज़ार किसानो के क्लेम को रद्द कर दिया है ।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभ लेने के लिए आपको अपनी फसल का बीमा करवाना होगा।इसके लिए आपको फसल की बुआई के 10 दिनों के भीतर ही प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना का फॉर्म भरना होगा .
  • अगर प्राकृतिक आपदा के कारण आपकी फसल काटने से 14 दिनों के बीच कोई नुकसान होता है, तो आप इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकते हैं।
  • इस योजना के कार्यान्वयन में शामिल सभी सेवाओं के लिए सेवा कर नहीं लगेगा।

पीएम फसल बीमा योजना से जुड़े तथ्य

  • सरकार द्वारा वित्त वर्ष 2021-22 के लिए इस योजना के बजट में इजाफा करने का निर्णय किया। इस से किसानो की फसलों की सुरक्षा को बढ़ावा मिलेगा। इस वर्ष के लिए 16000 करोड़ रुपये आवंटित किए गये हैं जोकि पिछले वित्त वर्ष 2020-21 की तुलना में ज्यादा हैं। इस बार के बजट में लगभग 305 करोड़ रुपये की वृद्धि की गयी है.
  • शुरुआत में वर्ष 2016-2017 में इस योजना के लिए बजट 5,550 करोड़ रुपए था।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए हर साल लगभग 5.5 करोड़ लोग आवेदन कर रहे हैं।
  • PMFBY के अंतर्गत अभी तक 95049 करोड़ रूपए की बीमा राशि का भुगतान किसानों को कर दिया गया है। (मई 2021 )
  • हमारे देश में इस वर्ष 2021 में पिछले वर्ष की तुलना में 21.5 % प्रतिशत ज्यादा किसानो ने तिलहन और दलहन (गर्मियों की फसल ) की बुआई की है। जिस से ये निष्कर्ष निकलता है की ये योजना सही दिशा में आगे बढ़ रही है।
  • PMFBY के आवंटित कुल बजट का 3 % हिस्सा योजना के क्रियान्वयन और निरिक्षण हेतु राज्य सरकारों द्वारा सुरक्षित रखा जाता है।
  • इस PMFBY के अंतरगत आप फसल बीमा एप्प के ज़रिये अपने फसलों में किये गए बदलाव या फिर फसलों के नुक्सान की जानकारी भी इस एप्प के माध्यम से दे सकते हैं।
  • सरकार ने सभी संबंधित बैंकों और उनकी समस्त शाखाओं को इस योजना के तहत पंजीकृत सभी किसानों की समस्त जानकारी को डिजिटल रूप में सुरक्षित करने का निर्देश दिया है ताकि इस से प्रक्रिया को सरल और तेज़ बनाया जा सके।
  • इस योजना के अंतर्गत ये सुनिश्चित किया गया है की बीमा कंपनी की त्रुटि की वजह से बीमा धारक किसी भी सुविधा से वंचित न रह जाए। अगर ऐसा होता है और कंपनी की त्रुटि पायी जाती है तो कंपनी द्वारा बीमा धारक को नुक्सान की भरपाई करनी होगी।
  • किसानों की किश्त का ऑनलाइन भुगतान, आवेदन और किश्त की रसीद मिलने के 48 घण्टों के अंदर ही, बीमा कंपनी को मुहैया करा दिया जाता है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए पात्रता

आवेदकों को Pradhanmantri Fasal Bima Yojana 2021 का आवेदन करने से पूर्व कुछ पात्रता पूरी करनी होगी। इस पात्रता को पूरा करने पर ही आप फसल बेमा योजना का फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते है। ये पात्रता निम्न प्रकार है –

  • इस योजना के अंतर्गत देश के उन सभी किसानो को पात्र माना जाएगा जो कृषि से जुड़े हुए हैं।
  • PMFBY के तहत वो सभी किसान जिन्होंने किसी अन्य ऐसी ही किसी बीमा योजना का लाभ न लिया हो वो इस योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण कर सकते हैं।
  • जिन किसानो की स्वयं की जमीन है वो इस योजना के लिए आवदेन कर सकते हैं। साथ ही वो किसान जो किसी और की ज़मीन पर या किराए की ज़मीन पर खेती कर रहे हैं वो भी इस योजना के तहत पंजीकृत होकर बीमा राशि प्राप्त करने के हकदार होंगे।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

आवेदकों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का फॉर्म भरने के लिए कुछ दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इस दस्तावेजों के आधार पर ही आप fasal bima yojana का फॉर्म भरकर आवेदन कर सकते है। ये प्रमुख दस्तावेज निम्न प्रकार है –

  • आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • आवेदनकर्ता का आईडी कार्ड
  • खेत का खाता नंबर /खसरा नंबर के पेपर
  • किसान का एड्रेस प्रूफ
  • आवेदन करने वाले किसान की फोटो
  • किसान की बैंक खाता संख्या
  • अगर किसान किसी दूसरे की ज़मीन पर खेती कर रहा है या किराये पर कर रहा है तो ऐसे में उसे खेत के मालिक के साथ किये गए अनुबंध की फोटो कॉपी भी प्रस्तुत करनी होगी।
  • किसान द्वारा जिस दिन फसल की बुवाई की गयी हो उस दिन की तारीख।

पीएम फसल बीमा योजना ऑफलाइन आवेदन कैसे करें ?

यदि आप किसी वजह से ऑनलाइन आवेदन नहीं कर पा रहे हैं तो आप ऑफलाइन माध्यम से भी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको कुछ सरल से स्टेप्स को फॉलो करना होगा जोकि हम आगे आपको बताने जा रहे हैं। आप हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से आसानी से पढ़कर ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया को समझ सकते हैं और इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आप अपने नज़दीकी बैंक/जान सेवा केंद्र या फिर बीमा कंपनी में जाएँ और वहां से प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का आवेदन पत्र ले लें।
  • इसके बाद आप आवेदन पत्र को पूरी तरह से भर लें। उसमे मांगी गयी सभी जानकारियों को ध्यानपूर्वक सही सही भरें ।
  • आवेदन पत्र भरने के बाद आप सभी सम्बंधित दस्तावेज़ों को आवेदन पत्र के साथ संलग्न कर दें।
  • इसके बाद आपको इस आवेदन पत्र को सम्बंधित विभाग में जमा कराना होगा। साथ ही प्रीमियम राशि का भुगतान करने पर आपको रिफरेन्स नंबर भी प्राप्त हो जाएगा। जिसका इस्तेमाल आप आगे भी कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आवेदन की ऑनलाइन प्रक्रिया

अगर आप भी fasal bima yojna के अंतर्गत ऑनलाइन माध्यम से आवेदन करना चाहते हैं तो आगे हम इसकी प्रक्रिया सरल शब्दों में बताने जा रहे हैं। कृपया आगे पढ़ते रहे।

  • फसल बीमा योजना ऑनलाइन आवेदन के लिए सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाएँ।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाता है। आप नीचे दिए गए चित्र में देख सकते है।
    pradhanmantri fasal beema yojna
  • आप चाहें तो अपनी सुविधा के अनुसार भाषा का चयन कर सकते हैं। इसके लिये आपको होम पेज पर ऊपर दाहिने तरफ दिख रहे लैंग्वेज के विकल्प पर क्लिक करना होगा। वहां से अपनी भाषा का चयन कर लें।
  • अब यहाँ आपको दिख रहे विकल्पों में से farmer corner या किसान का आवेदन पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने कुछ ऐसा पेज जाएगा। कृपया नीचे दी गयी पिक्चर से समझें। fasal beema yojna apply
  • अब यहाँ पर आपको दो विकल्प दिखेंगे। अगर आप पहले से ही इस वेबसाइट या योजना में पंजीकृत हैं तो आप सीधे लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं।
  • अगर नहीं तो आप “guest farmer” पर क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपकी स्क्रीन पर पंजीकरण फॉर्म खुल कर आ जाता है। fasal beema aawedan ptr
  • इस आवेदन पत्र में आपको अपना नाम ,मोबाइल नंबर , जाती , पता उम्र आदि के अलावा किसान आईडी , बैंक अकाउंट से सम्बंधित जानकारियां आदि भी भरनी होंगी।
  • आवेदनपत्र भरने के बाद आपको कैप्चा कोड भरना होगा। इसके बाद आप “create user ” पर क्लिक कर दें। फसल बीमा योजना आवेदन पत्र
  • अब आपका प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में पंजीकरण हो चूका है।

फसल बीमा योजना में लॉगिन कैसे करें ?

  • लॉगिन करने के लिए आपको सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाना है।
  • जब आपके सामने होमपेज खुल जाए तब आप को सामने दिख रहे विकल्पों में से farmers corner पर क्लिक करना है।
  • अब अगले पेज पर आपको फिर दो विकल्प मिलेंगे। यहां आपको लॉगिन पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद अपना मोबाइल नंबर और कैप्चा कोड दर्ज करें और रिक्वेस्ट फॉर OTP पर क्लिक कर दें।
  • आपके मोबाइल पर OTP आएगा, ओटीपी दर्ज करके लॉगिन के बटन पर क्लिक कर दें।
  • इस तरह से आपकी लॉगिन की प्रक्रिया पूरी होती है।

पीएम फसल बीमा योजना में आवेदन स्थिति कैसे देखें ?

फसल बीमा योजना के तहत आवेदन करने के पश्चात अगर आप भी अपने आवेदन की स्थिति जानना चाहते हैं तो कृपया यहाँ बताये गए तरीके से देख सकते हैं।

  • सबसे पहले आपको आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने आधिकारिक वेबसाइट का होमपेज खुल जाएगा।
  • यहाँ होमपेज पर आप कुछ विकल्प देख सकते हैं। अब आप यहाँ दिए विकल्पों में से “application status ” पर क्लिक कर दें।
    फसल बीमा योजना आवेदन स्थिति
  • क्लिक करते ही आपके सामने अगला पेज खुलेगा जहाँ आपको रिसीप्ट नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • इसके बाद आपको “check status ” के बटन पर क्लिक कर देना है। पीएमएफबीवाई स्टेटस चेक
  • अब आपके सामने अगले पेज पर आपकी आवेदन की स्थिति खुल कर आ जाती है।
  • इस प्रकार आपकी फसल बीमा योजना आवेदन की स्थिति चेक करने की प्रोसेस पूरी हो जाती है।

पीएमएफबीवाई में लाभार्थी सूची कैसे देखें ?

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत लाभ पाने के लिए ये आवश्यक है की आप इस योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण करवाएं। पंजीकरण करवाने के बाद आपका नाम भी लाभार्थियों की सूची में आ जाएगा। इस सूची को देखने के लीये आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही मोड के माध्यम से देख सकते हैं। इस योजना के अंतर्गत सभी जानकारियां अब डिजिटल मोड में ऑनलाइन सुरक्षित कर दी गयी है। हम कभी भी इन जानकारियों को देख सकते हैं। इसी तरह अगर आप भी अपना नाम लाभार्थी सूची में देखना चाहते हैं तो यहाँ बताये गए तरीके को फॉलो करें।

  • सबसे पहले आप इस योजना के आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाएँ।
  • उसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • अब होमपेज पर आप बेनेफिशरी फार्मर लिस्ट का विकल्प दिखेगा, उस पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने अगले पेज पर कुछ जानकारियां भरनी होंगी।
  • आप अपने राज्य का नाम , जिले का नाम और ब्लॉक् के नाम का चुनाव करेंगे। इसके बाद आप “सबमिट ” के बटन पर क्लिक कर दें।
  • यहाँ आप लाभार्थियों की सूची में अपना नाम देख सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना 2021 – किसान पेंशन योजना

ऑफलाइन मोड

अगर लाभार्थी को अपना नाम ऑफलाइन माध्यम से ही देखना हो या ऑनलाइन मोड से किसी कारणवश देखना संभव न हो तो ऐसे में नीचे दी गए तरीके से भी देख सकते हैं।

  • इसके लिए आपको सबसे पहले बैंक जाना होगा जहाँ आपका खाता है।
  • उसके बाद आप बैंक के सम्बंधित अधिकारी के पास जाकर अपना रिसीप्ट नंबर व अन्य दस्तावेज़ दे दें।
  • इसके बाद आपको लाभार्थियों की सूची में आपका नाम है या नहीं , इस बारे में जानकारी प्रदान करवा दी जाएगी।

योजना से सम्बंधित शिकायत कैसे दर्ज़ करें ?

अगर आपको इस योजना से सम्बंधित किसी भी प्रकार की कोई समस्या है और आप कोई शिकायत दर्ज़ करना चाहते हैं तो आप आधिकारिक पोर्टल के माध्यम से ऐसा कर सकते हैं। इस योजना से सम्बंधित किसी भी प्रकार की शिकायत या समस्या के बारे में आप सम्बंधित विभाग / अधिकारयों को लिख सकते हैं। आगे हम इसी का तरीका बताने जा रहे हैं। कृपया नीचे बताये गए माध्यम से अपनी शिकायत को दर्ज़ करें।

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाएँ।
  • अब आपके सामने आधिकारिक वेबसाइट का होमपेज खुलेगा।
  • यहाँ आपको दिए गए विकल्पों में से एक “technical grievance” का विकल्प दिखेगा, उस पर क्लिक करें।
  • अगले पेज में आपके सामने शिकायत दर्ज करने के लिए फॉर्म खुल कर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको अपनी शिकायत सम्बन्धी जानकरी भरनी होगी।
  • इसके अलावा आपको यहाँ अपना नाम , मोबाइल नंबर , और ईमेल आईडी भरनी होगी। इसके बाद अपनी शिकायत के बारे में “comment” सेक्शन में लिखने के बाद आप दिए गए कैप्चा कोड को भरें। इसके बाद में अंत में “सबमिट” पर क्लिक कर दें। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना शिकायत दर्ज़ कैसे करें
  • अब आपकी शिकायत दर्ज़ हो चुकी है।
  • इस प्रकार आपकी फसल बीमा योजना शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

फसल बीमा योजना इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेटर

आधिकारिक वेबसाइट पर इन्शुरन्स प्रीमियम कैलकुलेटर का विकल्प प्रदान किया गया है जिस से आप ये आसानी से पता कर सकते हैं की आपको कितनी धनराशि प्रीमियम के तौर पर देनी पड़ेगी। आगे हम इसी बारे में बताने जा रहे हैं की कैसे आप अपनी फसल बीमा हेतु भरी जाने वाली प्रीमियम राशि जान सकते हैं।

  • सबसे पहले आप इस योजना से सम्बंधित आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in पर जाएँ।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपे ज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको कुछ विकल्प दिखाई देंगे।
  • यहाँ आपको “insurance premium calculator “ दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद आप देख सकते हैं की अगला पेज खुल गया है। अब आपको सभी पूछी गयी जानकारी भरनी होगी।
  • यहाँ अब आप जिस सीजन की फसल लगा रहे हैं उसका नाम , वर्ष , स्कीम , राज्य , जिला तथा जो भी फसल लगा रहे हैं उसका नाम भी लिखना होगा।
  • ये सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरने के बाद आप “कैलकुलेट ” के बटन पर क्लिक कर दें।प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना आवेदन
  • अगर कोई जानकारी गलत टाइप हो गयी हो तो आप “रिसेट” के विकल्प पर भी क्लिक कर सकते हैं और फिर से सभी जानकारी ठीक से भरने के बाद पुनः कैलकुलेट के विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं।
  • इसके बाद आपके सामने आपकी प्रीमियम राशि जो आपको भरनी है उसकी जानकारी आ जाएगी।
  • इस तरह से आप ये जानकारी भी ऑनलाइन ही प्राप्त कर सकते हैं।

Fasal Bima Yojana- फसल के नुकसान की रिपोर्ट करना

अगर आपकी फसल प्राकृतिक आपदा के चलते खराब हुई है या फिर उनमे कीड़े लगने की वजह से नुक्सान हुआ है तो ऐसे में आप अपने नुक्सान के लिए बीमा राशि को क्लेम कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए ये आवश्यक है की आप पहले इसकी सूचना सम्बंधित अधिकारीयों और विभाग तक जल्द से जल्द पहुंचा दें। अन्यथा देर होने की स्थिति में आपका क्लेम रद्द किया जा सकता है। इसके लिए आपको इस योजना की एप्प को डाउनलोड करना होगा। और उस एप्प की मदद से नुक्सान से सम्बंधित जानकारी फोटो आदि के माध्यम से देनी होगी।

आधिकारिक वेबसाइट पर आपको फसल नुक्सान होने पर जानकारी देने के लिए हेल्पलाइन नंबर , ईमेल आईडी ,पता और बीमा कंपनी का नाम आदि जानकारी मिल जाएगी।

  • इसके लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • होम पेज पर “report crop loss ” के विकल्प पर क्लिक करें। .
  • क्लिक करते ही अगला पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ आप इन्शुरन्स कंपनी का नाम , पता हेल्पलाइन नंबर , ईमेल आईडी आदि की जानकारी मिल जाएगी।pmfby crop report
  • आप इनके माध्यम से भी अपने नुकसान की जानकारी सम्बंधित व्यक्तियों तक पंहुचा सकते हैं।
  • इसके अलावा आप मोबाइल पर इस योजना की एप्प डाउनलोड कर लें।

पीएम फसल बीमा एप्प कैसे डाउनलोड करें ?

अगर आप भी प्रधान मंत्री बीमा योजना के अंतर्गत लाभ लेने हेतु पंजीकृत हैं तो इस एप्प को अवश्य ही डाउनलोड कर लें। इस आप को इस योजना से जुडी लगभग सभी जानकारी मिल जाएगी। यही नहीं अगर आपकी फसल खराब होती है तो आप इस एप्प के माध्यम से हो चुके नुकसान की फोटो भी भेज सकते हैं जिसकी आवश्यकता आपको पड़ेगी। आप इस एप्प के माध्यम से कभी भी और कहीं भी योजना से सम्बंधित सभी जानकरी देख सकते हैं। इसके अलावा आवेदन करना , आवेदन की स्थिति देखना आदि सब कार्य भी इस के द्वारा कर सकते हैं। अब आप ये एप्लीकेशन अपने एंड्राइड फ़ोन में कैसे डाउनलोड करेंगे , इस बारे में हम आगे बताने जा रहे हैं। कृपया आर्टिकल आगे पढ़ते रहे।

  • सबसे पहले आपको अपने फ़ोन पर गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा।
  • फिर सर्च बॉक्स पर जाएँ।
  • उसके बाद आप प्रधानमत्री फसल बीमा योजना ऐप टाइप करें।
  • अब आपको सर्च के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • आपके सामने विकल्प खुल जाएंगे। आप इनमे से इस ऐप पर क्लिक कर दें
  • अब आपको ऐप के नाम के आगे इनस्टॉल का विकल्प दिखेगा , इसे आप क्लिक कर दें।
  • अब ये ऐप डाउनलोड हो जाएगी। इसके बाद आप ऐप को इंस्टाल करने के बाद ओपन पर क्लिक कर दें।
  • अपना नाम और मोबाइल संख्या डालकर अब आप आगे बढ़ सकते हैं।
  • आपके सामने अब इस ऐप की होमस्क्रीन खुल चुकी है।
  • अब आप अपनी जरुरत के हिसाब से मनचाही जानकारी देख सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के आधिकारिक वेबसाइट पर अन्य मौजूद सुविधाएं

इस योजना के अंतर्गत तैयार किये गए आधिकारिक पोर्टल पर आप योजना से जुडी सभी जानकरी प्राप्त कर सकते हैं। इसमें अलग अलग लिंक के ज़रिये आप विभिन्न जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। हम आगे प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के पोर्टल पर दिए गए अन्य सुविधाओं के बारे में बताने जा रहे हैं। कृपया जान ने के लिए पढ़ते रहे।

डाक्यूमेंट्स टैब :

आधिकारिक पोर्टल पर आप होम पेज पर आप सामने ही इस टैब को देख सकते हैं। इस तब पर क्लिक करके आपको दो विकल्प मिलते हैं। पहला टेंडर का और दूसरा गाइडलाइन्स का।

अगर आप टेंडर्स में से कुछ डाउनलोड करना चाहते हैं तो नीचे बताये गए तरीके से कर सकते हैं।

  • सबसे पहले आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाए।
  • अब आप होम पेज पर आकर कुछ विकल्प देख सकते हैं।documents tab pmfby
  • इनमे से आपको “डाक्यूमेंट्स ” पर क्लिक करना है।
  • यहाँ आपको दो विकल्प दिखेंगे। इनमे से टेंडर पर क्लिक कर लें।
  • अब आ[पके सामने अगले पेज पर टेंडर सम्बंधित जानकारी खुल चुकी है। documents tenders pmfby
  • आप यहाँ से अपनी सुविधा के अनुसार जिसे भी डाउनलोड करना चाहें , उसके सामने दिए हुए डाउनलोड के ऑप्शन को क्लिक कर लें।
  • आपकी जानकारी डाउनलोड हो जाएगी।

गाइडलाइन्स डाउनलोड

इसी तरह से आप गाइडलाइन्स सम्बंधित जानकारी भी देख सकते हैं।

  • इसके लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होमपेज पर दिए विकल्पों में से “डॉक्युमनेट्स ” पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने दो विकल्प आएँगे। यहाँ आपको गाइडलाइन्स पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने अगला पेज खुलेगा। पीएम फसल बीमा योजना गाइडलाइन्स
  • यहाँ आपको जो भी जानकारी चाहिए उसके आगे डाउनलोड के लिंक पर क्लिक कर लें।
  • आपकी जानकारी डाउनलोड हो जाएगी।

रिपोर्ट्स टैब

इसके अंतर्गत आप राज्यवार किसानों की डिटेल्स / जानकारी देख सकते हैं। यहाँ हम अपने आर्टिकल में बताएंगे की आप कैसे राजवार किसानो की जानकारी देख सकेंगे।

राज्यवार किसानों की जानकारी देखें

  • सबसे पहले आप आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। डायरेक्ट लिंक के लिए यहाँ क्लिक करें।
  • क्लिक करते ही आपके सामने होम पेज खुल जाएगा। यहाँ आपको कुछ विकल्प दिखाई देंगे , जिनमे से आपको “रिपोर्ट्स” पर क्लिक करना है।
  • रिपोर्ट्स पर क्लिक करके आपके सामने अगला विकल्प “statewise farmer’s details ” पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा। यहाँ आप 2016 से लेकर 2020 तक की डिटेल्स देख सकते हैं। पीएमएफबीवाई रिपोर्ट्स
  • अब आपको जिस वर्ष की भी जानकारी चाहिए हो आप उस वर्ष के आगे डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक कर दें।
  • वो जानकारी डाउनलोड हो जाएगी।

डैशबोर्ड टैब :

इस टैब के अंतरगत आपको डैशबोर्ड देखने की सुविधा मिलती है। यहाँ आप इस योजना से जुड़े तथ्यात्मक जानकारी को देख सकते हैं। ऐसे ही दूसरे विकल्प में भी आपको इस योजना से जुडी कुछ और डेटा व जानकारी प्राप्त होती है।

डैशबोर्ड देखना :

  • सबसे पहले आपको पीएमएफबीवाई के आधिकारिक वेबसाइट या पोर्टल पर जाना होगा। इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • यहाँ होमपेज पर आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर जाना होगा।फसल बीमा योजना डैशबोर्ड
  • वहां पर क्लिक करते ही आपके सामने दो विकल्प और खुल जाएंगे।
  • दिए गए विकल्पों में से आपको डैशबोर्ड के विकल्प को क्लिक करना है।
  • आपके सामने अब अगला पेज खुलेगा। यहाँ आप देख सकते हैं की आप के सामने डैशबोर्ड खुल चूका है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना डैशबोर्ड
  • यहां आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से सम्बंधित तथ्यात्मक जानकारी मिल जाएगी। यहाँ आपको रंगीन पाई चार्ट्स के माध्यम से भी जानकारी प्रदर्शित की गयी है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2021 से सम्बंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

प्रधान मंत्री फसल बीमा योजना क्या है ?

ये केंद्र सरकार द्वारा लायी गयी योजना है जो किसानो के कल्याण हेतु है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना देशभर के किसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदा के जोखिम से बचाने और उनके आर्थिक हितों की रक्षा के लिए लायी गयी थी।यदि किसी किसान की फसल खराब होती है जिसके पीछे कोई प्राकृतिक आपदा या कीड़े लगने की वजह से है तो उसे सरकार द्वारा इस योजना के तहत बीमा राशि के रूप में मुआवज़ा प्रदान किया जाएगा ताकि मेहनती किसानों की आर्थिक भरपाई कर सके।फसल खराब होने पर किसानो को मिलने वाली बीमा राशि के रूप में वित्तीय सहायता 2 लाख रूपए तक की है।

इस योजना का क्या उद्देश्य है ?

किसानो के लिए सरकार ने इस योजना के माध्यम से फसल खराब होने पर वित्तीय सहायता प्रदान करने का प्रावधान किया है। ये सहायता राशि 2 लाख रूपए तक की होगी। इस योजना का उद्देश्य मात्र किसानों की सहायता करना ही नहीं अपितु उनकी आय भी स्थिर करने का है जिस से वे लोग खेती निर्बाध रूप से करते रहे। साथ ही नई तकनीकों का इस्तेमाल करने में भी उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा।

ये योजना कब से शुरू की गयी है ?

ये योजना आज से 5 वर्ष पूर्व 2016 में आयी थी।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कितनी बीमा राशि का प्रावधान है ?

फसल खराब होने पर किसानो को मिलने वाली बीमा राशि के रूप में वित्तीय सहायता 2 लाख रूपए तक की है।

इस योजना से होने वाले लाभ क्या क्या हैं ?

यदि किसी किसान की फसल प्राकृतिक आपदा या कीड़े लगने की वजह से खराब होने पर किसानो को मिलने वाली बीमा राशि के रूप में वित्तीय सहायता 2 लाख रूपए तक की है।
जो किसान परिवार कृषि करके ही अपनी आजीविका चलाते हैं उनके लिए ये योजना बहुत लाभप्रद है। इस योजना के अंतगत मिलने वाली बीमा राशि से इन सभी परिवारों की आर्थिक मदद हो जाती और वो सभी अपनी जरूरतें पूरी कर सकते हैं।
किसानो को मिलने वाली वित्तीय सहायता से वो अगले सीजन के लिए कृषि सम्बन्धी आवश्यक सामग्री भी इक्कठा कर सकते हैं। जैसे की अगली फसल बोने के लिए अच्छे बीज , खाद तथा अन्य कृषि सम्बन्धी उपकरण।
और अधिक जानने के हमारे आर्टिकल को पूरा पढ़ै

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmfby.gov.in है। इस वेबसाइट का लिंक हमने आपको अपने इस लेख में उपलब्ध करा दिया है।

ये अन्य योजनाओं से विशेष क्यों है?

हमारे देश में चल रही pradhanmantri Fasal Bima Yojana पूरे विश्व में चल रही किसान भागीदारी की वर्तमान में सबसे बड़ी योजना है।वाणिज्यिक और बागवानी फसलों के लिए भी इस योजना के अंतर्गत बीमा होता है और इनके लिए भी आर्थिक सुरक्षा मिलने का प्रावधान है।किसानो पर किसी भी तरह का आर्थिक बोझ न आये इस बात को ध्यान में रखते हुए इस योजना के तहत भरे जाने वाले प्रीमियम राशि को किसानो के लिए बहुत ही कम रखा है। इसके अलावा बकाये का भुगतान सरकार द्वारा किया जाएगा।किसान की फसलों का कितन नुक्सान हुआ है ये जानने के लिए आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल किया जाएगा। जैसे की ड्रोन कैमरा जो रिमोट कण्ट्रोल द्वारा संचालित किया जाता है , स्मार्टफोन , जीपीएस टेक्नीक इत्यादि का उपयोग होगा जिस से फसल के नुक्सान का ठीक अनुमान लगाया जा सके।
अधिक जानने के लिए आप हमारे आर्टिकल को पढ़ें

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज़ कौन से हैं?

आधार कार्ड
राशन कार्ड
आवेदनकर्ता का आईडी कार्ड
खेत का खाता नंबर /खसरा नंबर के पेपर
किसान का एड्रेस प्रूफ
आवेदन करने वाले किसान की फोटो
किसान की बैंक खाता संख्या अधिक जानने के लिए आर्टिकल को पढ़ें

पीएम फसल बीमा योजना में आवेदन कैसे करें ?

इस योजना में आवेदन हेतु आप हमारे आर्टिकल को पढ़ सकते हैं । हमने आर्टिकल में पूरी प्रक्रिया विस्तार से समझायी है। आप दोनों माध्यम ऑफलाइन और ऑनलाइन माध्यम से आवेदन की प्रक्रिया पढ़ सकते हैं।

पीएम फसल बीमा योजना में आवेदन स्थिति कैसे देखें ?

सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ। होमपेज पर दिए विकल्पों में से “application status ” पर क्लिक कर दें।इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुलेगा जहाँ आपको रिसीप्ट नंबर और कैप्चा कोड डालना होगा। इसके बाद आप “check status ” पर क्लिक कर देंगे।अब आपके सामने अगले पेज पर आपकी आवेदन की स्थिति जान सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

जैसा कि इस लेख में हमने आपको Pradhanmantri Fasal Bima Yojana 2021 से जुडी समस्त जानकारी प्रदान की है। यदि आपको इन जानकारियों के अलावा कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में मैसेज करके पूछ सकते है। आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से सहायता मिलेगी।

Leave a Comment