पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम 2023: डाकघर बचत योजना (PPF, NSC, FD ब्याज दर) आवेदन फॉर्म

कोरोना में हम सबने देखा की जिन लोगों की नौकरियाँ गयी उन्हें अपने घर को चलाने के लिए सिर्फ किसी न किसी बैंकिग ,पोस्ट ऑफिस या बीमा के द्वारा चलाई जा रही सेविंग स्कीम का ही सहारा था कई लोगों ने पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम के जरिये इसमें निवेश किये गए पैसों से अपने घर का लोन, कार लोन, बीमा प्रीमियम, बिल आदि का भुगतान किया। कोरोना महामारी ने लोगों को यह समझ आ गया की अनिश्चित भविष्य में कुछ भी हो सकता है और कैसा भी आर्थिक संकट आ सकता है।

तो आप लोग अपने भविष्य को सुरक्षित करने के लिए किसी न किसी बचत योजना में निवेश तो करते ही होंगे। इसी बात को ध्यान में रखते हुए आज हम आपको एक स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका नाम है “पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम (डाकघर बचत योजना)” आगे आप इस आर्टिकल में पढ़ेंगे इस योजना के पात्रता, ब्याज दर, लाभ जैसी अनेक सुविधाओं के बारे में।

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम
Post Office Saving Scheme
बचत योजना का नाम डाकघर बचत योजना
विभागभारतीय डाकघर (इंडियन पोस्ट ऑफिस)
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्यभारत के डाकघरों में निवेश को बढ़ावा देना तथा देश की
जनता को निवेश के लिए प्रोत्साहित करना।
आधिकारिक वेबसाइट यहाँ क्लिक करें
टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 18002666868
सुबह 9.00 बजे से लेकर रात 6.00 बजे तक
(रविवार और सरकारी अवकाशों को छोड़कर)
ऑनलाइन रजिस्टर या कंप्लेंट यहां क्लिक करें

स्पीड पोस्ट ट्रैकिंग कैसे करें

Table of Contents

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम (डाकघर बचत योजना) क्या है आईये जानें

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम (डाकघर बचत योजना) डाकघर में बचत खाता खोलकर उसमें पैसों का निवेश करने की योजना है जिसमें आपको एक तय दर से वार्षिक ब्याज भी मिलता है। यह योजना भारत सरकार के द्वारा भारत के डाकघरों में निवेश को बढ़ावा देने के लिए और लाभार्थी जनता को ब्याज, ऋण जैसी सुविधाएं देने के लिए शुरू की गयी है। डाकघर बचत योजना एक तरह से बैंक की सेविंग अकाउंट स्कीम की तरह है। जैसे आप बैंक में कुछ मिनिमम रूपये जमाकर एक सेविंग अकाउंट खोलते हैं ठीक उसी तरह आप डाकघर में अपना एक बचत खाता खोल सकते हैं

डाकघर में चलने वाली अलग – अलग बचत योजनाएं (पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम)

  • डाकघर बचत खाता योजना
  • 5 वर्ष के लिए डाकघर आवर्ती जमा खाता (RD)
  • डाकघर सावधि जमा खाता (TD)
  • डाकघर मासिक आय योजना खाता (MIS)​
  • वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)​​​
  • 15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF)​​
  • सुकन्या समृद्धि खाता
  • राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (NSC)
  • किसान विकास पत्र (KVP)​

डाकघर में बचत खाता खोलने के नियम

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम के अंतर्गत बचत खाता खोलने के कुछ नियम हैं जो हम आपको आगे बता रहे हैं –

  1. डाकघर बचत योजना में आप डाकघर में एक बचत बैंक सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं
  2. इस योजना के तहत आप सिंगल या जॉइंट अकाउंट खुलवा सकते हैं।
  3. सिंगल सेविंग अकाउंट केवल एक व्यस्क नागरिक के लिए है।
  4. जॉइंट सेविंग अकाउंट केवल दो वयस्क नागरिकों के लिए है। दो से अधिक नहीं।
  5. खाता खोलने के लिए न्यूनतम जमा राशि ₹500/- है जो आपको खाता खोलते समय डाकघर में जमा करवानी होगी।
  6. योजना में आपको 4.0% वार्षिक दर से ब्याज मिलता है
  7. अधिकतम जमा राशि – इस योजना में अधिकतम जमा राशि कोई सीमा नहीं है
  8. न्यूनतम निकासी राशि – इस योजना में न्यूनतम निकाशी राशि ₹50/- है
  9. ब्याज की गणना हर महीने की 10 तारीख और महीने के अंत के बीच न्यूनतम शेष राशि के आधार पर की जाएगी।
  10. यदि महीने की 10 तारीख और महीने के अंत के बीच शेष राशि ₹500/- से कम होती है तो कोई ब्याज देय नहीं होगा।
  11. खाते को बंद करने के समय, ब्याज का भुगतान उस पूर्ववर्ती महीने तक किया जाएगा जिसमें खाता बंद है।
  12. आयकर अधिनियम 80TTA के तहत सभी बचत बैंक खातों पर ₹10,000/- तक के ब्याज को कर योग्य आय से छूट दी गई है अर्थात ₹10,000/- तक के बचत बैंक ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगेगा।
  13. यदि लगातार तीन वित्तीय वर्षों के दौरान किसी खाते में कोई जमा / निकासी नहीं होती है, तो खाते को मौन / निष्क्रिय माना जाएगा।
  14. सिंगल सेविंग अकाउंट को जॉइंट सेविंग अकाउंट में बदलने की अनुमति नहीं है
  15. किसी व्यक्ति द्वारा केवल एक ही सिंगल सेविंग अकाउंट खोला जा सकता है
  16. अगर किसी कारणवश जॉइंट सेविंग के किसी एक खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो दुसरा जीवित खाताधारक उस अकाउंट का एकमात्र अकाउंट होल्डर होगा।
  17. यदि जीवित खाताधारक के पास पहले से ही एक सिंगल सेविंग अकाउंट है तो जॉइंट सेविंग अकाउंट को बंद कर दिया जाएगा।
  18. 10 वर्ष से अधिक नाबालिग नागरिक अपने नाम पर या अपने अभिभावक (माता या पिता) के नाम पर एक अकाउंट खुलवा सकता है।
  19. खाता खोलने के समय नामांकन(Nomination) अनिवार्य है।
  20. यदि आपके खाते में शेष राशि ₹500/- वित्तीय वर्ष के अंत में नहीं होते हैं तो ₹100/- खाता रखरखाव शुल्क के रूप में कटौती की जाएगी।
  21. यदि खाते में बैलेन्स शून्य हो गया है तो खाता ऑटोमेटिकली बंद कर दिया जाएगा।
  22. राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (एन एस सी) में आप 3 सदस्यों के लिए जॉइंट सेविंग अकाउंट खुलवा सकते हैं।
  23. राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (एन एस सी) योजना के तहत कितने भी खाते खोले जा सकते हैं।
  24. 15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF)​​ योजना के तहत संपूर्ण देश में, डाकघर या किसी भी बैंक में केवल एक खाता खोला जा सकता है।

डाक घर बचत खाते पर मिलने वालीं अतिरिक्त सुविधाएं (पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम)

  • चेक बुक
  • एटीएम कार्ड
  • ईबैंकिंग / मोबाइल बैंकिंग
  • आधार सीडिंग (आधार कार्ड को किसी बैंक खाता से लिंक करना आधार सीडिंग कहलाता है।)
  • अटल पेंशन योजना (APY)
  • प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY)
  • प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY)

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीमस में निवेश करने की राशि

बचत योजना का नाम न्यूनतम निवेश राशि अधिकतम निवेश राशि
डाकघर बचत खाता योजना₹500/-कोई अधिकतम सीमा नहीं
5 वर्ष के लिए डाकघर आवर्ती जमा खाता (RD)₹100/-कोई अधिकतम सीमा नहीं
डाकघर सावधि जमा खाता (TD)₹100/- या ₹1000/- कोई अधिकतम सीमा नहीं।
डाकघर मासिक आय योजना खाता (MIS)​₹1000/-1. सिंगल सेविंग अकाउंट के लिए ₹4.5/- लाख
2. जॉइंट सेविंग अकाउंट के लिए ₹9.0/- लाख
वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)​​​₹1000/-अधिकतम निवेश सीमा ₹15/- लाख
15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF)₹500/-अधिकतम निवेश सीमा ₹1,50,000/-
सुकन्या समृद्धि खाता₹250/-अधिकतम निवेश सीमा ₹1,50,000/-
राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (NSC)₹100/- या ₹1000/-कोई अधिकतम सीमा नहीं।
किसान विकास पत्र (KVP)​₹100/- या ₹1000/-कोई अधिकतम सीमा नहीं।

सुकन्या समृद्धि योजना Sukanya Samriddhi Yojana

डाकघर बचत योजना में मिलने वाले ब्याज की प्रतिशत दरें

डाकघर बचत योजना में अलग – अलग योजनाओं की ब्याज दर अलग – अलग हैं जिसके बारे मैं हमने सूची नीचे दी है –

बचत योजना का नामब्याज प्रतिशत दरसमय
1डाकघर बचत खाता (बचत बैंक)1. सिंगल सेविंग अकाउंट में 4.0 % (दिनांक 01/ 04 /2020 से लागू)
2. जॉइंट सेविंग अकाउंट में 4.0 % (दिनांक 01/ 04 /2020 से लागू)
वार्षिक
21 वर्ष के लिए टीडी खाता5.5% (दिनांक 01.04.2020 से 30.06.2020 के लिए देय ब्याज दर)वार्षिक ब्याज तिमाही आधार पर देय.
32 वर्ष के लिए टीडी खाता5.5% (दिनांक 01.04.2020 से 30.06.2020 के लिए देय ब्याज दर)वार्षिक ब्याज तिमाही आधार पर देय.
43 वर्ष के लिए टीडी खाता5.5% (दिनांक 01.04.2020 से 30.06.2020 के लिए देय ब्याज दर)वार्षिक ब्याज तिमाही आधार पर देय.
55 वर्ष के लिए टीडी खाता6.7% (दिनांक 01.04.2020 से 30.06.2020 के लिए देय ब्याज दर)वार्षिक ब्याज तिमाही आधार पर देय.
65 वर्ष के लिए डाकघर आवर्ती जमा खाता (RD)5.8% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )त्रैमासिक चक्रवृद्धि
7डाकघर मासिक आय योजना खाता (MIS)​6.6% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )प्रतिवर्ष देय मासिक
8वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)​​​7.4% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )वार्षिक जो पहली बार जमा करने की तिथि से 31 मार्च / 30 सितम्बर / 31 दिसंबर को देय और उसके बाद ब्याज 31 मार्च, 30 जून, 30 सितंबर और 31 दिसंबर को देय होगा।
915 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF)7.1% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )वार्षिक (चक्रवृद्धि वार्षिक).
10सुकन्या समृद्धि खाता7.6% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )वार्षिक आधार पर,चक्रवृद्धि वार्षिक
11राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (NSC)6.8% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )चक्रवृद्धि दर जो परिपक्वता पर देय है।
12किसान विकास पत्र (KVP)​6.9% (दिनांक 01.04.2020 से ब्याज दर )चक्रवृद्धि वार्षिक

डाकघर बचत योजना में मिलने वाले ब्याज पर आयकर में छूट

डाकघर बचत योजना में अलग – अलग योजनाओं में मिलने वाले ब्याज पर आयकर की छूट जिसके बारे मैं हमने सूची नीचे दी है –

बचत योजना का नामआयकर में छूट
1. डाकघर बचत खाता (बचत बैंक)आयकर अधिनियम 80TTA के तहत सभी बचत बैंक खातों पर रु. 10000/- तक के ब्याज को कर योग्य आय से छूट दी गई है
2.वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (SCSS)​​​इस योजना के तहत निवेश आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत छूट
3.15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF)जमाकर्ता आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कटौती के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं।
4.सुकन्या समृद्धि खाताअर्जित ब्याज आयकर अधिनियम के तहत कर मुक्त है।
5.राष्ट्रीय बचत प्रमाण पत्र (NSC)जमा कर आयकर अधिनियम की धारा 80 सी के तहत कटौती के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं।

डाकघर बचत योजना में सेवाओं के लिए लिया जाने वाला शुल्क

डाक सेवाएँ शुल्क
1 डुबलीकेट पासबुक जारी करवाना ₹50/-
2 खाते का विवरण या जमा पर्ची के लिए प्रत्येक के लिए ₹20/-
3 कटी – फटी या खो चुकी पासबुक के बदले नई पासबुक ₹10/- प्रति रेजिस्ट्रीकरण
4 नामांकन रद्द या परिवर्तन करने हेतु₹50/-
5 खाता स्थानांतरित या ट्रांसफर करने के लिए ₹100/-
6 बचत खाते में चेक बुक जारी करवाने हेतु 10 पन्नों की चेकबुक फ्री है पर उसके बाद प्रति चेक शुल्क ₹2/- है।
7 चेक कैंसिल होने की दशा में ₹100/-
8 खाते को गिरवी रखना ₹100/-

योजनाओं के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • मूल निवास प्रमाण पत्र (आवेदक भारत के स्थायी निवासी हो।)
  • पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पैन कार्ड

डाकघर बचत योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

डाकघर बचत योजना कल लिए आवेदन सिर्फ ऑफलाइन किया जा सकता है जिसके बारे में हमने आगे बताया है –

  • सर्वप्रथम आपको अपनी नजदीकी डाकघर जाना है।
  • इसके बाद आपको जिस योजना के तहत आवेदन करना है उसके लिए काउंटर ,पोस्ट मास्टर या मैनेजर से योजना से सम्बंधित फॉर्म की मांग कीजिये।
  • फॉर्म मिलने के बाद आपको उसे सावधानी पूर्वक भरना है।
  • इसके बाद मांगे गए दस्तावेजों को फॉर्म के साथ संलग्न करें।
  • अब फॉर्म को पोस्ट ऑफिस में जमा कर दें।
  • इस प्रकार आपका आवेदन पूरा हो जाएगा। और आप योजना का लाभ ले पाएंगे।

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर क्या है?

टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर 18002666868

डाकघर बचत योजना के तहत बचत बैंक की ब्याज दर कितनी है?

डाकघर बचत खाता (बचत बैंक) के तहत एकल या संयुक्त खाते के लिए ब्याज दर 4% वार्षिक है।

पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम की ऑफिसियल वेबसाइट क्या है?

ऑफिसियल वेबसाइट : https://www.indiapost.gov.in/ है

डाकघर बचत योजना के माध्यम से नागरिकों को क्या लाभ प्राप्त होंगे?

इस योजना में नागरिकों को निवेश का सुनहरा अवसर मिलता है और निवेश राशि पर प्राप्त अर्जित ब्याज से एक अच्छा भविष्य सुनिश्चित कर सकते हैं।

15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF) में नागरिक कितने वर्ष तक निवेश कर सकते है?

इस योजना में नागरिक 5 वर्षों के लिए निवेश कर सकता है।

15 वर्ष के लिए सार्वजनिक भविष्य निधि खाता (PPF) में क्या नागरिक ऋण भी ले सकता है?

प्रारम्भिक सदस्यता के वित्तीय वर्ष के अंत से एक वर्ष की समाप्ति के बाद ऋण लिया जा सकता है।एक वित्तीय वर्ष में केवल एक ऋण लिया जा सकता है।

Leave a Comment