Pandokhar Sarkar Dham Darbar 2023: ऐसा चमत्कारी स्थान जहां श्रद्धालुओं के पूरे हो जाते हैं, सारी मन्नते?

हमारे देश के लोगों में हमेशा से ही धर्म एवं भक्ति है विशेष स्थान है। ग्रामीण क्षेत्र हो अथवा महानगर, अलग-अलग रहन सहन होने के बाद भी धर्म एवं श्रद्धा में काफी समानताएँ देखी जाती है। इस प्रकार से Pandokhar Sarkar Dham के दरबार को लेकर भी श्रद्धालुओं में अपनी परेशानियों को दूर करने की श्रद्धा देखी जाती है। जो भी लोग दरबार में जाकर अपनी मनोकामना पूरी करना चाहते हो उनको दरबार में अर्जी लगाने एवं पंडोखर सरकार धाम में मौजूद हनुमानजी की कृपा पाने से जुडी जानकारी होनी चाहिए। इस प्रकार की जानकारी को पाकर हनुमानजी की कृपा पाने की इच्छा रखने वाले भक्त इस लेख को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़ें।

पंडोखर सरकार धाम के भगवान हनुमान के दर्शन से सभी भक्तो की मनोकामना पूर्ण होगी। इसके अतिरिक्त दरबार में आशीर्वाद लेने के बाद सभी रोगग्रस्त लोगों को भी छोटी-बड़ी बीमारियों से निजाद मिलेगी। यहाँ पहुँचने के बाद उन सभी भक्तों को कल्याण होगा जो जीवन में किसी परेशानी एवं रोग से ग्रसित हो चुके है। जिन भी भक्तों की परेशानी का निदान होता है वो लगातार 5 बार पंडोखर सरकार के दर्शन करने जाते है। लेकिन पहली बार भगवान हनुमान के पंडोखर सरकार धाम में आने वाले भक्तों को सम्बंधित जानकारी ले लेनी चाहिए।

pandokhar sarkar dham darbar
pandokhar sarkar dham darbar
लेख का विषयपंडोखर सरकार धाम दरबार
गाँव का नामपंडोखर
जिले का नामदतिया
राज्यमध्य प्रदेश
निकटतम रेलवे स्टेशनझाँसी (यूपी)

Table of Contents

पंडोखर सरकार धाम दरबार क्या है?

सभी परेशान भक्त अपनी सभी परेशानियों को लेकर पंडोखर सरकार धाम में आकर अर्जी लगा सकते है। परेशानी की अर्जी लगने के बाद आपकी समस्या का समाधान पा सकते है। यदि किसी व्यक्ति को भूत बाधा जैसी समस्या हो तो उसका भी निवारण पंडोखर सरकार की कृपा से हो जाता है। फरियादी व्यक्ति को अपनी परेशानी को एक पर्ची में लिखकर पंडोखर सरकार धाम के महाराजजी से मिलना होता है। इस प्रकार से भक्तगण की समस्या का निदान हो जाता है।

पंडोखर सरकार धाम दरबार का पता

जिन भी लोगों को पंडोखर सरकार धाम के दरबार में आने की इच्छा एवं जरुरत हो रही है। ऐसे में सबसे पहले धाम की स्थिति को जाने का सवाल आता है। आप ध्यान रखें कि पंडोखर सरकार धाम भारत के मध्य भाग में स्थित मध्य प्रदेश के दतिया जिले के पंडोखर गाँव में है। अपने गाँव के नाम पर ही भगवान हनुमान के मंदिर का नाम पंडोखर सरकार धाम कहा जाने लगा है। दूर से आने वाले भक्तगण के यहाँ पहुँचने के लिए सबसे उपर्युक्त रेलवे स्टेशन झाँसी का रेलवे स्टेशन है। इसके अतिरिक्त दतिया में भी एक छोटा रेलवे स्टेशन है लेकिन वहाँ पर कम ही गाड़ियाँ रुका करती है। जो भी अपने वाहन एवं गाडी को बुक करके आ रहे है वो सीधे ही धाम तक पहुँच सकते है।

पंडोखर सरकार का धाम किस लिए प्रसिद्ध है

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि पंडोखर सरकार एक चमत्कारी धाम के रूप में काफी प्रसिद्ध हो चुका है। भक्त यहाँ पर अपने जीवन की परेशानी, बीमारी और यहाँ तक की भूत बाधा के निदान के लिए बहुतायत में आते देखें जाते है। इसके अतिरिक्त जिज्ञासुओं का भूत एवं भविष्य भी पर्ची पर लिखकर बताया जाता है। इस प्रकार से आने वाले लोगो की समस्या एक निदान किया जाता है। अपना भूत एवं भविष्य जानने की इच्छा रखने वाले सभी लोगो इस पवित्र एवं चमत्कारिक स्थान में आकर दर्शन कर सकते है।

पंडोखर सरकार धाम दरबार जाने का सभी समय

पुराने समय में भक्तों को अमावस्या से पंचमी तक ही पंडोखर महाराज के दरबार में दर्शनों का अवसर मिलता था। किन्तु भक्तों की संख्या में दिनोंदिन वृद्धि होने के कारण सालभर के लिए पंडोखर सरकार का धाम भक्तो के लिए खोल दिया गया है। इस कारण से सभी जरूरतमंद भक्त साले के 365 दिन पंडोखर सरकार के धाम के दर्शन कर सकते है। जिन भक्तो को गुरु महाराज से मिलना है वो बड़ी सरलता से गुरु महाराज से भी भेंट कर सकते है। पुराने समय में गुरूजी से मिलने में 10 से 15 दिनों का समय लग जाता था। किन्तु अब धाम की व्यवस्थाओं में काफी सुधार कर लिया गया है। साथ ही लोगों की अन्य सुविधाओं जैसे बैठने का स्थान एवं बाथरूम इत्यादि का भी अच्छे से ध्यान रखा जा रहा है।

पंडोखर सरकार धाम दरबार का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

भक्तो को पंडोखरसरकार धाम दरबार में आकर यहाँ पर लगे काउंटर में अपनी ऑनलाइन बुकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन करना होता है। यहाँ आकर आपको ध्यान रखना है कि आपको किसी भी अन्य व्यक्ति को अपना मोबाइल नंबर अथवा पैसे नहीं देने है चूँकि आपको ठगी का शिकार भी होना पड़ सकता है। यदि कोई व्यक्ति आपको पंडोखर महाराज से तुरंत मिलवाने की बात कहकर पैसे माँगता है तो आपको सावधान होकर उसके झांसे में नहीं आना है।

पंडोखर सरकार धाम में पैसे क्यों देने होते है?

ज्यादातर लोगों के मन में यह सवाल अक्सर आ जाता है कि पंडोखर महाराज के दरबार में पैसे क्यों देने होते है। सबसे पहले तो आपको ध्यान देना होगा कि साल 2005 तक यहाँ पर आने वाले भक्तों को सिर्फ 5, 10 या 20 रुपए तक ही शुल्क देना पड़ता था किन्तु समय के साथ यहाँ आने वाले भक्तों की संख्या में बढ़ोत्तरी होती चली गयी और यहाँ पर श्रद्धालुओं के लिए व्यवस्था देने की जरुरत होने लगी। पंडोखर महाराज के धाम में आने वाले भक्तो को उठने-बैठने से लेकर बाथरूम, रहने की सुविधा, पीने का पानी, खाने की सुविधा इत्यादि के लिए कुछ ज्यादा धन की जरुरत पड़ने लगी। इसके अतिरिक्त समय-समय पर मंदिर के भवन निर्माण की भी जरूरत पड़ती रहती है।

ये सभी काम करने के लिए भक्तों से मिले दान के पैसे ही एकमात्र सोर्स है। इस प्रकार से भक्तों द्वारा दिया गया पूरा पैसा ही भक्तो के लाभ के लिए खर्च किया जाता है। इस प्रकार से भक्तो से कुछ मात्रा में शुल्क लेकर उन्हें बहुत सी जरुरी सुविधा देने की व्यवस्था रखी गयी है।

पंडोखर सरकार धाम में आपको कितना शुल्क देना होगा

भक्तों के लिए पंडोखर महाराज के लिए कोई भी शुल्क निश्चित नहीं किया गया है। यह पर आने वाले भक्त अपनी इच्छा एवं श्रद्धा के अनुसार शुल्क देते है। भक्तो के द्वारा दी गयी फीस के पैसे से ही मदिर में निर्माण काम एवं आने वाले श्रद्धलुओं के लिए जरुरी सेवाओं की व्यवस्था की जाती है। इस प्रकार से यहाँ पर भक्त 1 से हजारों रुपए तक शुल्क राशि देते है। यहाँ पर भक्तो को पंक्ति में खड़ा होना पड़ता है और अपनी बारी आने पर दर्शन का मौका मिलता है। पंडोखर सरकार धाम में आने वाले भक्तों के लिए निःशुल्क खाने की भी व्यवस्था है।

इस प्रकार से भक्त अर्जी लगाते है
  • सबसे पहले काउंटर से 500 से 51,000 रुपए का शुल्क देना है।
  • काउंटर से आपको एक टोकन दिया जायेगा।
  • महाराज से मिलने के दौरान आपको 2100 रुपए देना अनिवार्य होगा।
  • सामान्य शुल्क देने वाले लोगों को 10 से 15 दिनों का इंतजार करना होगा।

पंडोखर सरकार धाम के सहायता नंबर

दूर से आने वाले भक्तो को बहुत बार कुछ समस्या से दो चार होते देखा जाता है। इनमे से कुछ प्रमुख इस प्रकार से है – ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अथवा बुकिंग, लोकेशन की समस्या। ऐसी किसी भी समस्या होने पर भक्तों के लिए पंडोखर सरकार का टोल फ्री हेल्पलाइन नंबर रखा गया है जिस पर फ़ोन करके समस्या का समाधान मिल जाता है। यह सभी टोलफ्री नंबर इस प्रकार से है –

  • 9958273274
  • 7354142551
  • 7354377777
  • 9630118128

पंडोखर सरकार धाम दरबार के मुख्य बिंदु

  • पंडोखर धाम दरबार मध्य प्रदेश के दतिया जिले की भांडेर तहसील के पंडोखर गाँव में स्थित है।
  • पंडोखर गाँव की दतिया से दुरी करीबन 51 किमी है।
  • इसी पंडोखर गाँव का हनुमान मंदिर ही ‘पंडोखर धाम’ के नाम से प्रसिद्ध है।
  • झाँसी (यूपी) से पंडोखर की दुरी लगभग 61 किमी है।
  • पंडोखर सरकार धाम के पुजारीजी को पंडोखर सरकार के नाम से जानते है।
  • पिछले 8 वर्षों से अलग-अलग भजन मंडलियों द्वारा अनवरत रामायण का पाठ किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :- मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन पात्रता व आवेदन प्रक्रिया

पंडोखर सरकार धाम दरबार से सम्बंधित प्रश्न

पंडोखर सरकार धाम कहाँ स्थित है?

भारत के मध्य भाग के मध्य प्रदेश राज्य के दतिया जिले के पंडोखर गाँव में पंडोखर सरकार धाम दरबार स्थित है। यहाँ पर सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश का झाँसी रेलवे स्टेशन है।

पंडोखर सरकार का धाम किस कारण से प्रसिद्ध है?

यहाँ आकर भक्त अपने भूत एवं भविष्य की बाते जानने के लिए पर्ची पर लिखकर देते है। इसके अतिरिक्त लोगों में मान्यता है कि किसी भी प्रकार की समस्या होने पर अथवा बीमारी के समाधान के लिए भी भगवान हनुमान के दर्शन करने से समस्या दूर हो जाएगी।

क्या भक्त खुद ही पंडोखर सरकार धाम एक रजिस्ट्रेशन कर सकते है?

अभी ऐसी कोई भी वेबसाइट नहीं है जिसके द्वारा पंडोखर सरकार धाम का रजिस्ट्रेशन किया जा सके। यहाँ आपने वाले सभी भक्तों को काउंटर पर ऑनलाइन रजिस्ट्रशन प्रक्रिया को करवाना पड़ता है।

फंडोखर सरकार धाम का शुल्क कितना रखा गया है?

यहाँ पर गुरूजी महाराज से मिलने के लिए भक्त अपनी श्रद्धा से दान देते है। भक्त 1 रुपए से कई हजार रुपए का शुल्क देते देखें जाते है। ये बात पूरी तरह से भक्तो पर छोड़ी गयी है।

Leave a Comment

Join Telegram