ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स क्या है ? O Level Computer Course

हमारे देश के छात्रों में कंप्यूटर की शिक्षा का विस्तार करने के उद्देश्य से सरकार ने राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (NIELIT) को स्थापित क्या है। इस शैक्षिक संस्था के अन्तर्गत विभिन्न उपयोगी कम्प्यूटर कोर्स संचालित होते है जैसे ए लेवल, बी लेवल, सीसीसी इत्यादि। संस्थान के एक वर्षीय ओ लेवल कोर्स (O Level Computer Course) की मान्यता किसी भी महाविद्यालय के डिप्लोमा (कंप्यूटर साइंस) के सामान ही होती है। कोर्स की पढ़ाई को सेमेस्टर सिस्टम के अनुसार ही करवाते है। जो भी छात्र कंप्यूटर विषय में रूचि रखते है वे जानना चाहते है कि ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स क्या है ? किन्तु उन्हें पूरी जानकारी नहीं मिलती है।

O Level Computer Course__
O Level Computer Course – ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स

किसी भी छात्र को सरकारी एवं निजी संस्थान में नौकरी में आवेदन करने के लिए ओ लेवल कोर्स के प्रमाण पत्र की आवश्यकता होती है। वर्तमान समय में प्रत्येक क्षेत्र में किसी ना किसी रूप से कंप्यूटर का प्रयोग किया जा रहा है। कंप्यूटर एक ऐसा यंत्र है जो किसी भी कार्य को जल्दी एवं सटीकता के साथ करने में सहायता देता है। इसी कारण से कंप्यूटर के कार्यकर्त्ता से लेकर विशेषज्ञ की माँग हमेशा बनी रहती है। इस प्रकार के कामों को करने में प्रवीणता लाने के लिए ओ लेवल का कंप्यूटर कोर्स बहुत कारगर साबित हो रहे है। इस लेख को पड़ने के बाद आप ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स क्या है और इसके लिए आवश्यक योग्यता की जानकारी प्राप्त कर सकेंगे।

यह भी देखें :- Scholarship for Higher Education (SHE)

कोर्स का नामओ लेवल कंप्यूटर कोर्स
समबन्धित विभागइलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय
लाभार्थीछात्र एवं अन्य सभी
न्यूनतम योग्यताबारहवीं या समकक्ष
पंजीकरण शुल्क500 रुपए
आधिकारिक वेबसाइटhttps://student.nielit.gov.in/

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स क्या है

यदि हम कोर्स के नाम को समझे तो इसे “Ordinary Level” कहते है। यह एक ऐसा कंप्यूटर कोर्स है जिसमे कंप्यूटर के सामान्य स्तर का ज्ञान दिया जाता है। एक विद्यार्थी को ऑपरेटिंग सिस्टम, एमएस वर्ड, एमएस एक्सेल, एमएस पावर-पॉइंट, ईमेल की जानकारी, वेब ब्राउज़िंग इत्यादि विषयों को पढ़ना होता है। पुरे पाठ्यक्रम को एक वर्ष में दो सेमेस्टरों के अंतर्गत पढ़ाया जाता है। प्रत्येक सेमेस्टर को पूरा करने के बाद परीक्षाएँ ली जाती है। कोर्स को दो तरीके से कर सकते है, एक संस्थान के माध्यम से और दूसरा डायरेक्ट माध्यम से।

कोर्स के लिए आवश्यक योग्यता

देश के सभी छात्रों को ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स में प्रवेश लेने के लिए कुछ न्यूनतम योग्यता प्रदर्शित करनी है। नीचे बताए गए तीन बिंदुओं में से एक प्रकार की योग्यता पूरी करने पर कोर्स में प्रवेश मिल जायेगा।

  • एक ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स में प्रवेश लेने के लिए छात्र को इंटरमीडिएट (10+2) परीक्षा उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • इसके अतिरिक्त, किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से दसवीं कक्षा के बाद 1 वर्षीय डिप्लोमा किया हो।
  • अथवा दसवीं कक्षा के साथ एक वर्षीय आईटीआई सर्टिफिकेट कोर्स किया हो।

आवेदन हेतु आवश्यक डॉक्यूमेंट

  • आवेदक का पहचान प्रमाण पत्र (आधार कार्ड, फोटो सहित बैंक खाते की पासबुक, पैनकार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि में से एक)।
  • छात्र के शैक्षिक प्रमाण पत्र।
  • आवेदक के फोटो, हस्ताक्षर एवं बाये अँगूठे के निशान की स्वच्छ स्कैन फोटोज (सभी का आकार 50 केबी से कम )।
  • पंजीकरण फीस के लिए 500 रुपए।

कोर्स की पूरी फीस की जानकारी

किसी भी छात्र को पुरे कोर्स के लिए फीस उसके द्वारा चुने गए माध्यम के अनुसार देनी है। पहला, यदि आप ऑनलाइन अथवा डायरेक्ट मोड का चुनाव करते है तो आपको 3 से 5 हज़ार रुपए फीस देनी होगी।

दूसरा, यदि छात्र किसी संस्थान के माध्यम से प्रवेश लेता है तो उसे 15 से 18 हज़ार रूपये फीस के लिए देने होंगे। इसके अंतर्गत संस्थान आपके पंजीकरण, आवेदन पत्र शुल्क, कोर्स की फीस भरना, परीक्षा प्रवेश पत्र डाउनलोड, प्रैक्टिकल्स एवं प्रोजेक्ट कार्य आदि को पूरा करेगा। ये सभी सुविधा के लिए अपने संस्थान से पूछताछ अवश्य कर लें चूँकि आप कोर्स की सामान्य फीस से अधिक फीस दे रहे है। संस्थान को फीस दो किस्तों में दे सकते है, पहली क़िस्त प्रवेश लेते समय और दूसरी क़िस्त अपने कोर्स के दूसरे सेमेस्टर के शुरू होने पर।

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स की आवेदन प्रक्रिया

इच्छुक छात्र के लिए कोर्स में प्रवेश पाने के लिए दो माध्यम है –

  • ऑनलाइन माध्यम से
  • संस्थान से द्वारा

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

सभी छात्रों को आवेदन करने के लिए अपनी आवेदन प्रक्रिया को पूर्ण करना होगा। ऑनलाइन माध्यम से पंजीकरण करने के इच्छुक छात्र आधिकारिक वेबसाइट का प्रयोग करेंगे। नीचे बताये गए बिंदुओं को पूरा करने के बाद अपना ऑनलाइन आवेदन हो जायेगा –

  • सबसे पहले एनआईईएलआईटी की आधिकारिक वेबसाइट https://student.nielit.gov.in/ को ओपन करें।
  • वेबसाइट के होम पेज पर नीचे दाई ओर “Apply Online” विकल्प को चुन लें। O Level Computer Course - choosing apply online option
  • नयी विंडो के वेबपेज में आपको बहुत से कोर्सों के नाम प्राप्त होंगे।
  • अब आपको इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी सेक्शन के अंतर्गत “O LEVEL” विकल्प को चुन लें।O Level Computer Course - choosing o level option
  • अगले पेज में आपको पीडीएफ रूप में कोर्स की सभी जानकारी दिखेगी इसके ध्यानपूर्वक पढ़ लें।
  • इन जानकारियो एवं निर्देशों को पढ़ने के बाद नीचे घोषणा को पढ़कर सहमति के खाने में “टिक” कर दें।
  • इन दोनों चरणो को सही प्रकार से पूरा करने के बाद “I Agree & Proceed” बटन को दबा दें। O Level Computer Course - reading instruction and pressing i agree button
  • आपको नए पेज में ऑनलाइन आवेदन पत्र मिलेगा, इसके अंतर्गत अपनी व्यक्तिगत एवं शैक्षिक जानकारियाँ भरे लें।O Level Computer Course - online application form
  • आवेदन पत्र में सभी जानकारी देने के बाद अपने फोटो, हस्ताक्षर एवं बाये अंगूठे के निशान के स्कैन फाइल (सभी 50 केबी से कम) अपलोड करें।O Level Computer Course - uploading photo, signature and thumb impression
  • इसके बाद अपने शरीर का एक स्पष्ट निशान चिन्ह का विवरण दें और “Submit” बटन दबाए।
  • अपना आवेदन पूर्ण होने के बाद इसका प्रिंट आउट अवश्य लें, भविष्य में आपको इसकी आवश्यकता होगी।

ओ लेवल कोर्स के लाभ

  • यदि आप अपने कोर्स को सही प्रकार से पढ़कर उत्तीर्ण कर लेते है तो आपको केंद्र एवं राज्य सरकार में कंप्यूटर सम्बन्धी रिक्तियों में आवेदन करने का अवसर मिलेगा।
  • निजी एवं सरकारी नौकरियों में बेसिक कंप्यूटर प्रमाण पत्र के लिए ओ लेवल कोर्स प्रमाण पत्र को संलग्न कर सकते है।
  • एक विद्यार्थी अपनी स्कूली शिक्षा पूर्ण करने के बाद बेसिक कंप्यूटर की अच्छी जानकारी प्राप्त करता है।
  • कोर्स में आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन के साथ वेब डिजाइनिंग एवं आईटी टूल्स का ज्ञान मिलेगा।
  • अपना प्रमाण पत्र लेने के बाद आप संस्थान से अगले कोर्स में प्रवेश लेकर आगे की पढ़ाई कर सकते है।

ओ लेवल कोर्स के सिलेबस की जानकारी

कोर्स के दौरान परीक्षा को सेमेस्टर के अनुसार देनी होती है। यह परीक्षा दो प्रकार से होती है – टेस्ट और प्रैक्टिकल। किसी भी छात्र को अपना प्रमाण पत्र लेने से पहले प्रैक्टिकल प्रोजेक्ट पूरा करना होगा। यह दोनों परीक्षा सफलतापूर्वक उत्तीर्ण करने के बाद विद्यार्थी को प्रमाण पत्र मिल जाता है। ओ लेवल कोर्स में सेमेस्टर के अनुसार विषयों का विवरण है –

  1. पहला सेमेस्टर
    • M1-R4 – IT Tool & Business Systems
    • M2-R4 – Internet Technology and Web Design
  2. दूसरा सेमेस्टर
    • M3-R4 – Programming & Problem Solving Through ‘C’ language
    • M4.1-R4 – Application of .Net Technology
    • M4.2-R4 – Introduction to Multimedia
  3. प्रैक्टिकल एवं प्रोजेक्ट वर्क
    • PR-1 – Practical based on the theory papers of the syllabus
    • PJ – Project Work

कोर्स के बाद जॉब विकल्पों की जानकारी

शिक्षण सहायकवेब डिजाइनर
जूनियर प्रोग्रामरकंप्यूटर ऑपरेटर
लैब असिस्टेंटईडीपी सहायक
कार्यक्रम सहायक

कोर्स के परीक्षा (Result) परिणाम की जानकारी

एक छात्र की परीक्षा के 2 माह बाद परिणाम प्राप्त होता है। इसको आप ऑनलाइन वेबसाइट पर रिजल्ट विकल्प के माध्यम से देख सकते है। किसी संस्थान के माध्यम से आवेदन करने वाले छात्र अपने संस्थान में जाकर परीक्षा परिणाम देख सकते है। एक विद्यार्थी को परीक्षा में 50 प्रतिशत अंक प्राप्त करने होंगे तभी वह परीक्षा में उत्तीर्ण समझा जायेगा।

परीक्षा के परिणाम में प्रैक्टिकल टेस्ट के अंकों को सम्मिलित नहीं किया जायेगा। परन्तु प्रत्येक छात्र को अपना कोर्स पूर्ण करने के लिए प्रैक्टिकल टेस्ट में उपस्थित होकर उत्तीर्ण करना अनिवार्य होगा।

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स से सम्बंधित प्रश्न

ओ लेवल कोर्स किसके माध्यम से संचालित होता है?

देशभर के छात्रों के लिए कोर्स का संचालन भारत सरकार से सम्बद्ध राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिकी एवं सूचना प्रौद्योगिकी संस्थान (NIELIT) करता है।

ओ लेवल कोर्स के अंतर्गत क्या सीखना है?

यह कंप्यूटर का एक बेसिक ज्ञान देने वाला डिप्लोमा कोर्स है। एक छात्र को एक वर्ष में विभिन्न कम्प्यूटर एप्लीकेशन के विषय में थ्योरी एवं व्यावहारिक ज्ञान लेना है।

एक विद्यार्थी को ओ लेवल कोर्स में कितनी परीक्षाएँ देनी होती है?

पुरे कोर्स में छात्र को 4 परीक्षाओं को उत्तीर्ण करना है। सभी विषयों को 2 भागों में विभाजित किया गया है। पहले भाग में 1 घण्टे में OMR शीट पर प्रश्न हल करने है, जिसमे छात्र को 40 अंकों में से कम से कम 20 अंक प्राप्त करने है। दूसरे भाग में छात्र को 60 प्रश्न मिलेंगे।

किसी अन्य प्रकार की समस्या होने पर हेल्पलाइन नंबर क्या है?

यदि कोई छात्र ओ लेवल कोर्स के सम्बन्ध में कोई जानकारी लेना चाहता है तो वह सहायता नंबर 011-25308321 अथवा ईमेल आईडी regn@nielit.gov.in पर मेल भेज सकते है।

Leave a Comment