Mahadbt 2022 Scholarship Online Applications, Eligibility and Last Date

Mahadbt Scholarship : महाराष्ट्र सरकार द्वारा राज्य में छात्रों को मिलने वाली छात्रवृत्ति के लिए दी जाने वाली स्कॉलरशिप राशि का लाभ सीधे उनके बैंक खातों में जारी करने के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा महाडीबीटी स्कॉलरशिप या आपले सरकार डीबीटी (डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर) जारी किया गया एक छात्रवृत्ति पोर्टल है। जिसका मुख्य उद्देश्य राज्य की छात्रवृत्ति योजनाओं के कार्यान्वयन और लाभार्थी छात्रों को उनके खातों में डीबीटी के माध्यम से छात्रवृत्ति का वित्तरण करना है। mahadbt scholarship portal पर राज्य सरकार के अंतर्गत विभिन्न विभागों द्वारा दी जाने वाली लगभग 38 पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति का संचालन कर लाभार्थी छात्रों को इसका लाभ प्रदान करवाता है। जिसका लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक छात्र महाडीबीटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर छात्रवृत्ति के लिए आवेदन कर सकेंगे।

महाराष्ट्र सरकार के महाडीबीटी पोर्टल पर छात्रों को किन-किन योजनाओं का लाभ मिल सकेगा ? Mahadbt Scholarship पोर्टल पर छात्र किस तरह आवेदन कर सकेंगे और ऑनलाइन योजना में आवेदन की क्या प्रक्रिया है, इसकी पूरी जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

Mahadbt-Scholarship-online-application
Mahadbt-Scholarship-online-application

Table of Contents

Mahadbt Scholarship Portal 2022

महाडीबीटी स्कॉलरशिप पोर्टल के माध्यम से महारष्ट्र सरकार राज्य के सभी पात्र विद्यार्थियों को प्री मेट्रिक और पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप योजनाओं का लाभ प्रदान करवाती है, यह लाभ केवल राज्य के निवासियों को ही दिया जाता है। जिसके लिए राज्य के 10 वीं और 12 वीं के छात्र योजना में आवेदन कर छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त कर सकेंगे। महाडीबीटी पोर्टल पर राज्य के 10 वीं और 12 वीं के विद्यार्थी जो बोर्ड परीक्षा में 75% या इससे अधिक अंकों से उत्तीर्ण हुए हैं वह योजना की निर्धारित पात्रता अनुसार छात्रवृति योजनाओं में आवेदन कर सकते हैं। इस पोर्टल को जारी करने हेतु सरकार का मुख्य उद्देश्य सभी योजनाओं का प्रभावी कार्यन्वयन सुनिश्चित कर पात्र विद्यार्थियों को डीबीटी के माध्यम से सीधे छात्रवृत्ति राशि का लाभ उनके खातों में पहुँचाना है, जिससे कार्यों में अधिक पर्दार्शिता बनाई जा सकेगी और सरकारी योजनाओं में होने वाली गड़बड़ी को रोकने में भी मदद मिल सकेगी।

योजना का नाम महाडीबीटी स्कॉलरशिप या आपले सरकार डीबीटी
शुरू की गई महाराष्ट्र सरकार द्वारा
साल 2022
आवेदन माध्यम ऑनलाइन माध्यम
आवेदन पात्र जारी किए गए पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप योजनाओं के लिए
लाभार्थी राज्य के आरक्षित वर्ग के छात्र/छात्राएँ
उद्देश्य छात्रों को छात्रवृत्ति राशि का लाभ डीबीटी के माध्यम से करवाना
आधिकारिक वेबसाइट mahadbtmahait.gov.in

महाडीबीटी स्कॉलरशिप योजना का उद्देश्य

महाराष्ट्र सरकार द्वारा Mahadbt Scholarship Portal को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य राज्य में छात्रों को शिक्षा के लिए बढ़ावा देकर उन्हें उनकी उच्च शिक्षा पूरी करने में आर्थिक सहयोग देना है, जिससे छात्रों को परिवार की आर्थिक समस्या के कारण उनकी उच्च शिक्षा जारी रखने में किसी तरह की आर्थिक समस्या का सामना नहीं करना पडेगा। इसके लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा आपले सरकार डीबीटी पोर्टल के माध्यम से सभी छात्रवृत्ति योजनाओं का लाभ सीधे उनके बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से जारी करवाती है, जिससे छात्रों को शिक्षा में प्रोत्साहन मिल सकेगा और मिलने वाली छात्रवृत्ति राशि से छात्र अपनी शिक्षा बिना किसी समस्या के जारी रख सकेंगे। इसके लिए पोर्टल पर सभी वर्गों के छात्रों से संबंधित छात्रवृत्ति योजनाएँ उपलब्ध करवाई गई हैं, जिसके माध्यम से छात्र अपनी पात्रता अनुसार छात्रवृत्ति योजना में आवेदन कर योजना का लाभ प्राप्त कर सकेंगे।

महाडीबीटी स्कॉलरशिप लिस्ट

विभाग प्रस्तावित स्कॉलरशिप की संख्या
उच्च शिक्षा निदेशालय द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या 13
सामाजिक न्याय और विशेष सहायता विभाग द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या05
स्कूल शिक्षा और खेल विभाग द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या02
जनजातीय विकास विभाग द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या04
VJNT, OBC और SBC कल्याण विभाग द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या08
चिकित्सा शिक्षा और अनुसंधान निदेशालय द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या02
अल्पसंख्यक विकास विभाग द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या02
तकनिकी शिक्षा निदेशालय द्वारा दी जाने वाली छात्रवृत्ति की संख्या02

Mahadbt स्कॉलरशिप के लिए आवश्यक दस्तावेज

महाडीबीटी स्कॉलरशिप योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास कुछ महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, बिना पूरे दस्तावेजों के योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • 10 वीं और 12 वीं कक्षा का मार्कशीट
  • सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी आय प्रमाण पत्र
  • परिवार का राशन कार्ड
  • कॉलेज प्रवेश की शुल्क रसीद
  • जाति वैधता प्रमाण पत्र (वोकेशनल कोर्स के लिए अनिवार्य, व्यावसायिक पोस्ट ग्रेजुएट)
  • अभिभावक का लाभार्थी बच्चों की संख्या से संबंधित घोषणा प्रमाण पत्र
  • अभिभावक का मृत्यु प्रमाण पत्र (यदि हो तो)

उच्च शिक्षा निदेशालय (Directorate of Higher Education Scholarship) (DHE)

उच्च शिक्षा निदेशालय द्वारा प्रायोजित की जाने वाली योजनाओं का लाभ राज्य के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) के छात्रों को उनकी मेट्रिकोत्तसर पर शिक्षा पूरी करने पूरी करने के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान किया जाता है। डीएचई के अंतर्गत आने वाली छात्रवृत्ति योजनाओं से मिलने वाले लाभ और उनकी पात्रता की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज शिक्षण शुल्ख शिष्यवृत्ति योजना जिन छात्रों के परिवार की वार्षिक आय
2.5 लाख तक है सरकारी व गैर सरकारी पाठ्यक्रम के लिए 100% शिक्षण शुल्क और आंशिक रूप से सहायता प्राप्त और गैर सहायता प्राप्त पाठ्यक्रमों के लिए 50% शिक्षण शुल्क माफ़ किया जाएगा।
स्कॉलरशिप योजना में आवेदन करने वाले छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
सरकारी संकल्प अनुसार एक पिरवार के पहले दो बच्चे आवेदन के पात्र होंगे।
वह उम्मीदवार छात्र जो सामान्य वर्ग या SBEC वर्ग के हैं और उन्होंने प्रवेश ले लिया है वह आवेदन के पात्र होंगे।
छात्रों के पिछले सेम्सटर में 50% उपस्थिति होनी आवश्यक है।
कोर्स के दौरान छात्र का दो वर्ष से अधिक का गैप नहीं होना चाहिए।
भूतपूर्व सैनिकों के बच्चों को शिक्षा में छूट स्कॉलरशिप योजना के तहत छात्र के लिए प्रवेश फीस, सेमेस्टर फीस, लाइब्रेरी फीस, लैबोरटरी फीस में 100 शुल्क माफ़ किया जाएगा। उम्मीदवार छात्र भूतपूर्व सैनिक की बेटी/बेटा/पत्नी/विधवा हो।
केवल सरकारी और सहायता वाले कॉलेज के छात्र आवेदन के पात्र होंगे।
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं वह योजना में आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
राज्य सरकार दक्षिणा अधिचत्र छात्रवृत्ति स्कॉलरशिप का लाभ केवल पिजी के सभी श्रेणी के छात्रों को मिल सकेगा।
लाभार्थी छात्रों के खातों में डीएचई कार्यालय द्वारा स्वीकृत 250 रूपये की राशि प्रतिमाह सीधे वित्तरित की जाती है।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
आवेदक गैर कृषि विद्यालय से ग्रेजुएट होने चाहिए।
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं वह योजना में आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
एकलव्या स्कॉलरशिप सभी स्वीकृत छात्रों को चयन योग्यता के आधार पर 5000 रूपये की राशि दी जाएगी। आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
योजना में लॉ, कॉमर्स, आर्ट्स से ग्रेजुएट उम्मीदवारों के 60% और साइंस से ग्रेजुएट छात्रों के 70% अंक प्राप्त होने चाहिए।
उम्मीदवार के परिवार की वार्षिक आय 75,000 रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
लाभार्थी द्वारा कही भी पार्ट टाइम या फुल टाइम नौकरी नहीं की जा रही हो।
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं वह योजना में आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
सरकारी विद्यानिकेतन छात्रवृत्ति केवल यूजी के सभी श्रेणी के छात्रों को योजना का लाभ दिया जाएगा।
11 वीं – 12वीं के सभी छात्रों को 100 रूपये प्रतिमाह, 12 वीं के बाद 100 रूपये प्रतिमाह दिए जाएँगे।
योजना में उम्मीदवारों का चयन मेरिट के आधार पर किया जाएगा।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
छात्र द्वारा 10 वीं कक्षा में 60% अंक प्राप्त किए होने चाहिए।
यह लाभ केवल राज्य के विद्यानिकेतन से 10 वीं कक्षा की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ही छात्र को दिया जाएगा।
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं वह योजना में आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
बाल स्वतंत्रता सेनानी को शिक्षा रियायत डिग्री/पीजी के छात्रों के लिए 50 रूपये प्रतिमाह की छात्रवृत्ति और इंजीनियरिंग छात्रों के लिए 60 रूपये प्रतिमाह छात्रवृत्ति दी जाएगी।
डिग्री/पीजी के छात्रों को पुस्तक भत्ते के लिए 200 रूपये प्रतिवर्ष और इंजिनीरिंग छात्रों के लिए 400 रूपये प्रतिवर्ष दिए जाएँगे।
छात्र स्वतंत्रता सेनानी का पुत्र/पुत्री/पत्नी/विधवा होनी चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी हो और अधिवास होना चाहिए।
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं वह योजना में आवेदन के पात्र नहीं होंगे।
जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी योजना में सभी वर्ग के छात्रों को 8,000 रूपये छात्रवृत्ति राशि प्रतिमाह के अतिरिक्त 10,000 रूपये वार्षिक दिए जाएँगे। आवेदक छात्र के पास महाराष्ट्र का अधिवास होना चाहिए।
JNU में पढ़ने वाले महाराष्ट्रियन छात्र, कोटा केवल एक के लिए है जो जेएनयू द्वारा तय किया गया हो।
योजना में जेएनयू के यूजी और पीजी के छात्र आवेदन के पात्र होंगे।

सामाजिक न्याय और विशेष सहायता योजना (Social Justice And Special Assistance Scholarship)

सामाजिक न्याय और विशेष सहायता योजना के माध्यम से पोस्ट मेट्रिक स्तर पर अध्धयनरत करने वाले छात्रों के लिए लागू की जाती है, जिनकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
भारत सरकार पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति प्रवेश की तिथि से परीक्षा की तिथि तक प्रतिमाह समूह I, समूह II, समूह III, समूह IV के अनुसार रखरखाव प्रदान किया जाएगा।
डे स्कॉलर (प्रतिमाह राशि)
समूह I 550
समूह II 530
समूह III 300
समूह IV 230


छात्रावास (प्रतिमाह राशि)

समूह I 1200
समूह II 820
समूह III 570
समूह IV 300

अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए अतिरिक्त भत्ता
विकलांगता भत्ता -दृष्टिहीन और काम दृष्टि समूह I और II – 150, समूह III – 120, समूह IIII- 100
कृष्ठ उपचारिता समूह – परिवहन भत्ता अनुरक्षण 100 रूपये, विशेष वेतन भत्ता 100 रूपये, अतिरिक्त कोचिंग भत्ता – 150 रूपये
हड्डी रोग विकलांगता समूह – परिवाहन भत्ता – 100 रूपये, अनुरक्ष्ण भत्ता- 100 रूपये, विशेष वेतन भत्ता – 100 रूपये
माता-पिता या अभिभावक की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
छात्र अनुसूचित जाति या नवबौद्ध श्रेणी से होने चाहिए।
छात्र को एसएससी समकक्ष मेट्रिक उत्तीर्ण होना चाहिए
महाराष्ट्र के छात्र जो अपने राज्य से बाहर अपनी शिक्षा पूरी कर रहे हैं छात्रों पर भी यह नियम लागू होते हैं।
स्कॉलरशिप के लिए केवल दो व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की अनुमति है।
पोस्ट मेट्रिक ट्यूशन शुल्क और परीक्षा शुल्क (फ्रीशिप)इस योजना के तहत ट्यूशन फीस, परीक्षा शुल्क और अन्य शुल्क जिसका भुगतान छात्र द्वारा संस्थान में किया होगा उसे भी योजना के तहत कवर किया जाएगा।
यह स्कॉलरशिप भारत सरकार की स्कॉलरशिप और फ्रीशिप के अतिरिक्त छात्र को दी जाएगी।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
अभिभावक की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे अधिक।
छात्र अनुसूचित जाति या नवबौद्ध श्रेणी से होने चाहिए।
आवेदक का संस्थान महाराष्ट्र में होना चाहिए और सरकार से मान्यता प्राप्त होना चाहिए।
छात्र को एसएससी समकक्ष मेट्रिक उत्तीर्ण होना चाहिए
राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज मेरिट स्कॉलरशिप स्कॉलरशिप योजना के तहत एसएससी परीक्षा में 75% अंक हासिल करने वाले या ग्यारहवीं कक्षा में प्रवेश लेने वाले एससी वर्ग के छात्रों को दो साल के लिए 10 महीने तक प्रतिमाह 300 रूपये की छात्रवृत्ति दी जाएगी। आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
अनुसूचित वर्ग के छात्र योजना के पात्र होंगे।
योजना में परिवार की आय निर्धारित नहीं की गई है।
छात्र द्वारा 10 वीं कक्षा में 75% अंक प्राप्त किए गए हों।
छात्र 11 वीं या 12 वीं कक्षा में अध्धयनरत हो।
विकलांग व्यक्तियों के लिए पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति प्रवेश की तिथि से परीक्षा की तिथि तक प्रतिमाह समूह ए, समूह बी, समूह सी, समूह डी और समूह ई के अनुसार रखरखाव का भत्ता प्रदान किया जाएगा।
डे स्कॉलर
समूह ए – 550
समूह बी- 530
समूह सी – 530
समूह डी – 300
समूह ई – 230

हॉस्टल
समूह ए – 1200
समूह बी- 820
समूह सी – 820
समूह डी – 570
समूह ई – 380

नेत्रहीन : वाचक भट्ट अतिरिक्त
समूह ए, समूह बी, समूह सी -100 रूपये, समूह डी – 75, समूह ई – 50
योजना में रखरखाव भत्ते के अलावा छात्र द्वारा संस्थानों को सभी अनिवार्य शुल्क/अनिवार्य देय शुल्क (ट्यूशन फीस, परीक्षा फीस) इस योजना के तहत कवर किए जाएँगे।
पेशेवर और तकनिकी शिक्षा के उम्मीदवार जिन्हे अभ्यास दौरे के लिए जाना होगा, उन्हें अधिकतम 500 रूपये मिलेंगे।
40% या इससे अधिक विकलांगता वाले छात्र आवेदन के पात्र होंगे। आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
छात्र किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से शिक्षा प्राप्त कर रहे हों।
यदि उम्मीदवार अनुप्रयुक्त पाठ्यक्रम में एक ही पाठ्यक्रम में अनुत्तीर्ण हो जाते हैं या उसे बीच में ही छोड़ देते हैं तो उन्हें छात्रवृत्ति नहीं दी जाएगी।
वह छात्र जो महाविद्यालय/संस्थान या किसी मान्यता प्राप्त छात्रावास में निवास करने वाले हैं और यदि वह छात्रावास शुल्क का भुगतान करते हैं, तो आवेदक छात्र को भरण-पोषण भत्ता छात्रावास की दरों पर दिया जाएगा।
इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन करने वाले छात्र केवल शाहू जी महाराज मेरिट स्कूल के लिए आवेदन कर सकते हैं, इसके अतिरिक्त वह दूसरी स्कीम के लिए आवेदन नहीं कर सकते।

जनजातीय विकास विभाग (Tribal Development Department)

जनजातीय विकास विभाग द्वारा छात्रों को शिक्षा के लिए आर्थिक सहयोग देने हेतु 4 तरह की छात्रवृत्ति योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है, जिनकी जानकारी निम्नानुसार है।

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति योजना (भारत सरकार) (छात्रावास/दिन के छात्र) प्रतिमाह मिलने वाला भरण-पोषण भत्ता
समूह I – 1200/530 रूपये
समूह II 820/530 रूपये
समूह III 570/530 रूपये
समूह IV 300/530 रूपये

पाठक भत्ता
समूह I-II – 240 रूपये
समूह III – 200 रूपये
समूह IV – 160 रूपये

छात्रों को प्रतिमाह अनुरक्षण भत्ता -160 रूपये, विशेष वेतन -160 रूपये प्रतिमाह, मानसिक रूप से सेवनिर्वित्त लोगों को अतिरिक्त भत्ते के साथ प्रतिमाह 240 रूपये भुगतान, अध्ध्यन पर्यटन – 1600 रूपये प्रतिवर्ष, थीसिस टाइपिंग/प्रिंटिंग – 1600 रूपये प्रतिवर्ष, पुस्तक अनुदान – 1200 रूपये प्रतिवर्ष दिए जाएँगे।
योजना का लाभ ST (अनुसूचित जनजाति) के छात्रों को दिया जाएगा।
आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे कम होनी। चाहिए।
10 वीं कक्षा की परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले छात्र आवेदन के पात्र होंगे।
यदि छात्र द्वारा दो साल से बैक टू बैक ड्रॉप किया गया है तो वह योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र नहीं होंगे।
आदिवासी छात्रों के लिए ट्यूशन शुल्क और परीक्षा शुल्क योजना के तहत छात्रों के ट्यूशन फीस और एग्जाम फीस अनुमोदित कॉलेज शुल्क संरचना के अनुसार माफ़ किया जाएगा। छात्र केवल एसटी वर्ग संबंधित होने चाहिए।
आवेदक छात्र के परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
छात्र अपने पिछली परीक्षा में पास होने चाहिए, यदि वह किसी भी वर्ष परीक्षा में फेल होते हैं तो वह उस वर्ष की छात्रवृत्ति का लाभ लेने के पात्र नहीं होंगे।
व्ययवसायिक शिक्षा (Vocational Education) शुल्क प्रतिपूर्ति छात्रवृत्ति योजना के तहत छात्रों के ट्यूशन फीस और एग्जाम फीस स्वीकृत कॉलेज फीस संरचना के अनुसार माफ़ किया जाएगा। आवेदक छात्र के परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
छात्र केवल एसटी वर्ग संबंधित होने चाहिए।
व्यावसायिक शिक्षा रखरखाव भत्ता रखरखाव भत्ते को पाठ्यक्रम अवधि (छात्रावास/दिन का विद्वान) प्रतिवर्ष के अनुसार कैटेरगरी में बाँटा गया है।
कोर्स की अवधि 4 से 5 साल क्रमशः 7000 रूपये और 10000 रूपये है।
कोर्स की अवधि 2 से 3 साल क्रमशः 5000 रूपये और 7000 रूपये है।
2 साल या उससे कम की कोर्स अवधि 5000/5000 रूपये है।
आवेदक छात्र के परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
छात्र केवल एसटी वर्ग संबंधित होने चाहिए, छात्र अपने पिछली परीक्षा में पास होने चाहिए।
यदि छात्र किसी भी वर्ष परीक्षा में फेल होते हैं तो वह उस वर्ष की छात्रवृत्ति का लाभ लेने के पात्र नहीं होंगे।

तकनीकी शिक्षा निदेशालय (Directorate of Technical Education Scholarship) (DTE)

छात्रों को महाडीबीटी पोर्टल पर डीटीई के तहत दो छात्रवृत्ति योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है, तकनिकी शिक्षा निदेशालय महाराष्ट्र्र राज्य का एक विश्वस्तरीय, प्रतिस्पर्धी और लचीला उच्च शिक्षा संस्थान है, जिसके माध्यम से मिलने वाली छात्रवृत्ति का लाभ कुछ इस प्रकार है।

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज शिक्षण शुल्ख शिशुवृत्ति योजना योजना के तहत लाभार्थी छात्र का 50% ट्यूशन शुल्क और 50% परीक्षा शुल्क माफ़ किया जाएगा। आवेदक भारतीय नागरिक होने चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
योजना में डीम्ड विश्ववद्यालय और प्राइवेट विश्ववद्यालय के छात्र पात्र नहीं होंगे।
उम्मीदवार को केंद्रीकृत प्रवेश परीक्षा (CAP) के माध्यम से प्रवेश दिया जाना चाहिए।
छात्रों की पिछले सेमेस्टर में 50% उपस्थिति होनी चाहिए (केवल नए प्रवेश को छोड़कर)
कोर्स के दौरान छात्र के कोर्स में दो वर्ष या उससे अधिक का गैप नहीं होना चाहिए।
वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के लिए परिवार के केवल दो बच्चों को योजना का लाभ लेने की अनुमति दी जाएगी।
छात्र को किसी तरह की छात्रवृत्ति या स्टाइपेंड न मिल रहा हो।
वह छात्र जिन्होंने जनरल और एसईबीसी श्रेणी के अंतर्गत प्रवेश लिया है वह योजना में आवेदन के पात्र होंगे।
डॉ. पुंजाबराओ देशमुख वसतिगृह निर्वा भट्टा योजना पंजीकृत श्रमिक/अल्पभुधरक सीमान्त भूधारक बच्चों के लिए यह पुरस्कार कुछ इस प्रकार है।
MMRDA/PMRDA /औरंगाबाद शहर/नागपुर शहर के संस्थानों में छात्रों को 10 महीने की अवधि के लिए 30 हजार रूपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है।
अन्य क्षेत्रों के छात्रों के लिए 10 महीने के लिए 20 हजार रूपये की छात्रवृत्ति दी जाती है।
जिन छात्रों के परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये तक है उन्हें पुरस्कार दिए जाएँगे।
अन्य क्षेत्रों के संस्थानों के छात्रों 10 महीने के लिए 8000 रूपये की छात्रवृत्ति दी जाती है।
आवेदक भारतीय नागरिक होने चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
योजना में डीम्ड विश्ववद्यालय और प्राइवेट विश्ववद्यालय के छात्र पात्र नहीं होंगे।
आवेदक संस्थान का वास्तविक छात्र होना चाहिए और तकनिकी या व्यावसायिक पाठ्यक्रम के लिए भर्ती होना चाहिए।
वर्तमान शैक्षणिक वर्ष के लिए परिवार के केवल दो बच्चों को योजना का लाभ लेने की अनुमति दी जाएगी।
कोर्स के दौरान छात्र के कोर्स में दो वर्ष या उससे अधिक का गैप नहीं होना चाहिए।
योजना में आवेदन के लिए आवेदक किसी अन्य छात्रवृत्ति के लिए आवेदन नहीं कर सकते।
आवेदक छात्र की पिछले सेमेस्टर में 50% उपस्थिति होनी चाहिए

स्कूल शिक्षा और खेल विभाग

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
जूनियर कॉलेज में ओपन मेरिट स्कॉलरशिप योजना के तहत 11वीं और 12 वीं कक्षा के छात्रों को दस महीने के लिए 50 रूपये प्रतिमाह (500 रूपये प्रतिवर्ष) दिए जाएँगे। 11वीं और 12 वीं कक्षा के छात्रों को योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
आवेदक द्वारा एसएससी परीक्षा के पहले अटेंप्ट में 60% अंक प्राप्त किए होने चाहिए।
छात्रवृत्ति की निरंतरता संतोषजनक प्रगति और जूनियर कॉलेज लाभार्थी श्रेणी के प्रथम वर्ष के अंत में कम से कम 50% अंक हासिल करने पर सभी श्रेणी के छात्रों को दी जाएगी।
आर्थिक रूप में पिछड़े वर्ग के छात्रों के लिए मेरिट छात्रवृत्ति छात्रावास के पुरुष छात्रों को 10 महीने के लिए प्रतिमाह 140 रूपये छात्रवृत्ति दी जाएगी।
गैर-छात्रावास के पुरुष छात्रों को 10 महीने के लिए प्रतिमाह 80 रूपये छात्रवृत्ति दी जाएगी।
छात्रावास की छात्राओं को 10 महीने के लिए 160 रूपये प्रतिमाह और गैर-छात्रावास की छात्राओं को 100 रूपये प्रतिमाह दिए जाएँगे।
आवेदक द्वारा एसएससी परीक्षा में 50% अंक प्राप्त किए होने चाहिए।
छात्र यदि एक ही प्रयास में परीक्षा उत्तीर्ण कर लेते हैं तो वह लाभ के पात्र होंगे।

OBC, SEBC, VJNT & SBC कल्याण विभाग छात्रवृत्ति

छात्रवृत्ति योजनाएँ लाभ पात्रता
VJNT छात्रों के लिए पोस्ट मेट्रिक स्कॉलरशिप छात्रवृत्ति पात्रता को समूह ए से ई में वभाजित किया गया है।
समूह ए – हॉस्टलर्स के लिए 425 रूपये/माह और डे स्कॉलर्स के लिए 190 रूपये प्रतिमाह की स्कॉलरशिप।
समूह बी- हॉस्टलर्स के लिए 290 रूपये/माह और डे स्कॉलर्स के लिए 190 रूपये प्रतिमाह की स्कॉलरशिप
समूह सी – समूह बी के समान स्कॉलरशिप
समूह डी – हॉस्टलर्स के लिए 320 रूपये/माह और डे स्कॉलर्स के लिए 120 रूपये प्रतिमाह की स्कॉलरशिप
समूह ई – हॉस्टलर्स के लिए 150 रूपये/माह और डे स्कॉलर्स के लिए 90 रूपये प्रतिमाह की स्कॉलरशिप
व्यावसायिक पाठ्यक्रमों और गैर-व्यावसयिक पाठ्यक्रमों में सरकारी व गैर सरकारी में पढ़ने वाले छात्रों को पूरे 100% ट्यूशन फीस, परीक्षा, रखरखाव भत्ता दिया जाएगा।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
छात्र के परिवार की वार्षिक आय 1.50 लाख या इससे कम होनी चाहिए।
आवेदक VJNT श्रेणी से होने चाहिए।
यदि आवेदक छात्र को अगली उच्च कक्षा में प्रमोट किया जाता है, तो उन्हें रखरखाव का भत्ता और परीक्षा शुल्क का भुगतान किया जाएगा।
आवेदक छात्र केवल व्यावसायिक पाठ्यक्रम के लिए सीएपी दौर से आने चाहिए।
आवेदक को वर्तमान वर्ष के लिए 75% उपस्थिति होनी चाहिए।
यदि आवेदक सरकार द्वारा अनुमोदित शिक्षा पाठ्यक्रम का अनुसरण करना चाहिए।
वीजेएनटी और एसबीसी श्रेणी के 11 वीं और 12 वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्रों के लिए राजर्षि छत्रपति शाहू महाराज मेरिट स्कॉलरशिप आवेदक को 10 माह की अवधि के लिए प्रतिमाह 300 रूपये छात्रवृत्ति दी जाएगी।
छात्रवृत्ति और फ्रीशिप के लिए लागू की जाएगी।
विमुक्त जाति, खानाबदोश और विशेष पिछड़ा वर्ग से संबंधित आवेदकों का योजना का लाभ मिल सकेगा।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
आवेदक जूनियर कॉलेज में 11वीं और 12 वीं कक्षा में अध्धयनरत होने चाहिए।
छात्र द्वारा 10 वीं कक्षा की परीक्षा 75% अंकों से उत्तीर्ण की गई हो।
ओबीसी छात्रों के लिए ट्यूशन फीस और परीक्षा शुल्क व्यावसयिक पाठ्यक्रमों में सरकारी/सहायता प्राप्त संस्थानों में पढ़ने वाले छात्र को ट्यूशन फीस और परीक्षा शुल्क का 100% भुगतान किया जाएगा। छात्र ओबीसी श्रेणी से होने चाहिए।
आवेदक को मेट्रिक की शिक्षा लेनी चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के स्थाई निवासी होने चाहिए।
छात्र के परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये या इससे कम होनी चाहिए।
कृषि, पशुपालन, मत्सयपालन का पाठ्यक्रम कर रहे छात्र भी आवेदन के पात्र होंगे।

अल्पसंख्यक विकास विभाग छात्रवृत्ति (Minority Development Department)

अल्पसंख्यक विकास विभाग छात्रों को पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति का लाभ प्रदान करवाता है, जो कला, विज्ञान, चिकित्सा, कानून, शिक्षा और अन्य कोर्स में अध्धयनरत अल्पसंख्यक छात्रों को प्रदान की जाएगी।

छात्रवृत्ति का नाम लाभ पात्रता
राज्य अल्संख्यक छात्रवृत्ति भाग II (DHE)आवेदक छात्रों को 5000 रूपये की छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। आवेदक छात्र महाराष्ट्र के अधिवास होने चाहिए।
परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
योजना के तहत 2000 उम्मीदवारों को कोटा दिया जाएगा।
कला/वाणिज्यिक/विज्ञान/कानून/शिक्षा पाठ्यक्रम में यूजी और पीजी के छात्र आवेदन के पात्र होंगे।
महाराष्ट्र में रहने वाले छात्र यदि महाराष्ट्र से बाहर अपनी शिक्षा पूरी करते हैं तो उन्हें योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा।
उच्च और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों (डीटीई) का अनुसरण करने वाले अल्पसंख्यक समुदायों के छात्रों के लिए छात्रवृत्ति उम्मीदवार को प्रतिवर्ष 25000 रूपये छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। आवेदक भारतीय नागरिक होने चाहिए।
आवेदक छात्र महाराष्ट्र के अधिवास होने चाहिए।
महाराष्ट्र से एसएससी उत्तीर्ण छात्र छात्रवृत्ति के पात्र होंगे।
आवेदक को केंद्रीयकृत प्रवेश प्रक्रिया (CAP) संस्थान के माध्यम से प्रवेश दिया जाना चाहिए।
आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
यदि आवेदक किसी अन्य छात्रवृत्ति या स्टाइपेंड का लाभ ले रहे हैं, तो वह योजना का लाभ लेने के पात्र नहीं होंगे।
आवेदक संस्थान का वास्तविक छात्र होना चाहिए और तकनिकी या व्यावसायिक पाठ्यक्रम के लिए भर्ती होना चाहिए।
उच्च और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों (डीएमईआर) का अनुसरण करने वाले अल्पसंख्यक समुदायों के छात्रों के लिए छात्रवृत्ति आवेदक छात्र के लिए 25000 रूपये का कुल वार्षिक पाठयक्रम शुल्क माफ किया जाएगा। आवेदक छात्र महाराष्ट्र के मूल निवासी होने चाहिए।
आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 8 लाख रूपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
महिला आवेदकों को 30% छात्रवृत्ति और पुरुष आवेदकों को 70% छात्रवृत्ति दी जाएगी।
MBBS, BAMS, BDS, BHMS, BUMS, BSC Nursing, MSC Nursing आदि मेडिकल पाठ्यक्रमों में नामांकित छात्रों और पाठय्रकमों को महाराष्ट्र स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय नासिक से संबंध होने चाहिए।

महाडीबीटी स्कॉलरशिप ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

Mahadbt छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाइन के लिए आवेदक छात्र यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • इसके लिए आवेदक सबसे MahaDBT पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें। Mahadbt-registration-portal
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आप आपको New Application Registration के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • यदि आप Mahadbt Scholarship Portal पर पहले से ही रजिस्टर्ड हैं तो आप सीधे लॉगिन कर सकते हैं।
  • रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करने के बाद आपकी स्क्रीन पर रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा। Mahadbt-online-registration-form
  • यहाँ आपको फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे एप्लिकेंट नेम, यूज़र नेम, पासवर्ड, कंफर्म पासवर्ड भरना होगा।
  • अब आपको अपना ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर भरकर Get OTP for Verification के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा।
  • अब आपको मोबाइल पर आए ओटीपी को ओटीपी बॉक्स में भरकर सबमिट करना होगा।
  • जिसके बाद आपको रजिस्टर के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह आपकी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • अब आप अपने यूज़र आईडी और पासवर्ड को दर्ज करके लॉगिन करके स्कॉलरशिप योजना में आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

Mahadbt छात्रवृत्ति पोर्टल पर एप्लिकेंट लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • Mahadbt Scholarship Portal पर एप्लिकेंट लॉगिन के लिए आवेदक सबसे पहले Mahadbt पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको पोस्ट-मेट्रिक स्कॉलरशिप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको एप्लिकेंट लॉगिन के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। Applicant-login
  • अब नए पेज में आपको यूज़र नेम, पासवर्ड और दिए गए कैप्चा कोड को भरकर लॉगिन करना होगा।
  • इस तरह आप पोर्टल पर आप्लिकेंट लॉगिन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

पोर्टल पर ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

पोर्टल पर किसी भी तरह की समस्या या आपत्ति होने पर आवेदक इसकी शिकायत भी पोर्टल पर दर्ज कर सकते हैं, जिसके लिए वह यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • आवेदक सबसे पहले Mahadbt पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको पोस्ट-मेट्रिक स्कॉलरशिप के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको Grievance/Suggestion के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। Grievance-form
  • अब आपकी स्क्रीन पर शिकायत दर्ज करने के लिए फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, जिला, ताल्लुका, विभाग, योजना का नाम, श्रेणी, ग्रीवेंस का प्रकार आदि भरनी होगी।
  • अब दिए गए कैप्चा कोड भरकर आप यदि दस्तावेज अपलोड कर सकते हैं।
  • जिसके बाद आखिर में आपको सबमिट के ऑप्शन पर क्लिक कर देना होगा।
  • इस तरह आपकी शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Mahadbt Scholarship 2022 से जुड़े प्रश्न/उत्तर

महाडीबीटी स्कॉलरशिप पोर्टल क्या है ?

महाडीबीटी स्कॉलरशिप पोर्टल महाराष्ट्र सरकार द्वारा शुरू किया गया पोर्टल है, जिसका माध्यम से राज्य की छात्रवृत्ति योजनाओं के कार्यान्वयन और लाभार्थी छात्रों को उनके खातों में डीबीटी के माध्यम से उनके खातों में छात्रवृत्ति का वित्तरण किया जाता है।

Mahadbt Scholarship 2022 में आवेदन के लिए इसकी ऑफिसियल वेबसाइट क्या है ?

Mahadbt Scholarship 2022 में आवेदन के लिए इसकी ऑफिसियल वेबसाइट mahadbtmahait.gov.in है।

आपले सरकार डीबीटी या महाडीबीटी स्कॉलरशिप पोर्टल पर कितनी छात्रवृत्ति योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है ?

आपले सरकार डीबीटी या महाडीबीटी स्कॉलरशिप पोर्टल पर लाभार्थियों को कुल 38 पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति योजनाओं का लाभ प्रदान किया जाता है।

महाडीबीटी स्कॉलरशिप 2022 से संबंधित जानकारी के लिए इसका हेल्पलाइन नंबर क्या है ?

Mahadbt Scholarship 2022 से संबंधित जानकारी के लिए आवेदक इसके हेल्पलाइन नंबर : 022-49150800 पर संपर्क कर सकते है।

Mahadbt Scholarship 2022 से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है। और इसकी आवेदन प्रक्रिया के आरम्भ होने की जानकारी भी जल्द ही आपको प्रदान करवा देंगे। इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment