मेरी फसल मेरा ब्यौरा: fasal.haryana.gov.in, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन Meri Fasal Mera Byora

हरियाणा राज्य सरकार द्वारा राज्य के किसानों की सुविधा के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल शुरू किया गया है। जिसके माध्यम से राज्य के किसान वर्ग के नागरिकों को लाभान्वित किया जायेगा। किसानों को विभिन्न प्रकार की सभी सुविधाएँ एक ही जगह से उपलब्ध करवाने के लिए हरियाणा सरकार के द्वारा यह मिशन जारी किया गया है। किसानों को योजना के अंतर्गत विभिन्न फसलों की जानकारी प्राप्त होगी Meri Fasal Mera Byora योजना के अंतर्गत अपना पंजीकरण कर कृषि से जुड़ी सभी प्रकार की सुविधाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी को साझा करेंगे। अतः fasal.haryana.gov.in से संबंधित सभी आवश्यक प्रकार की जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे इस लेख को पूरा पढ़े।

मेरी-फसल-मेरा-ब्यौरा-ऑनलाइन-रजिस्ट्रेशन-हरियाणा

Table of Contents

मेरी फसल मेरा ब्यौरा क्या है ?

यह हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किया गया एक पोर्टल है। मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत हरियाणा राज्य के किसानों को फसलों की बुवाई से लेकर मंडी तक फसल की बिक्री करने में मदद प्राप्त होगी। यह किसानों को कृषि क्षेत्र में एक विशेष प्रकार की सुविधा प्रदान करने हेतु एवं कृषि कार्य में हो रही समस्याओं को कम करने के लिए योजना को शुरू किया गया है। बागवानी विभाग से संबंधित सभी योजनाओं का लाभ किसान नागरिकों को वितरण करने के लिए यह एक महत्वपूर्ण कदम सरकार के द्वारा उठाया गया है। कृषि जानकारियों को Meri Fasal Mera Byora के अंतर्गत समय से किसानों तक उपलब्ध करवाने का प्रयास किया जायेगा। इसके साथ ही किसानों को प्राकृतिक आपदा में हुए नुकसान का मुआवजा समय से प्राप्त होगा। किसान नागरिक को कृषि से जुड़ी सभी प्रकार की सेवाओं को प्राप्त करने का अवसर हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा के तहत प्राप्त होगा।

हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

किसान नागरिकों को लाभान्वित करने के लिए हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा किसानों के पंजीकरण हेतु 5 जुलाई 2019 को पोर्टल लॉन्च किया गया है। इस पोर्टल की मदद से नागरिक ऑनलाइन माध्यम से अपना पंजीकरण कर खेती से संबंधी राज्य की सभी सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते है। मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में किसान अपनी फसलों का विवरण ऑनलाइन माध्यम से अपलोड कर सकते है जिससे उन्हें सभी कृषि संबंधी सेवाओं लाभ प्रदान किया जायेगा।

यह जमीनी रिकॉर्ड के साथ एकीकृत है। इसमें किसान अपनी निजी जमीन पर बोई गई फसल का विवरण को अपलोड कर सकते है। इसी के आधार पर उसकी फसल की उपज की खरीद तय की जाती है। Meri Fasal Mera Byora के अनुसार कृषि एवं उद्यान विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का आर्थिक लाभ एवं सब्सिडी प्राप्त करने के लिए फसल का पंजीयन कराना आवश्यक है। किसानों के हित के लिए हरियाणा राज्य सरकार के द्वारा यह निर्देश दिए गए है की किसानों को पोर्टल में ऑनलाइन पंजीकरण करवाना आवश्यक है जिन किसानों के द्वारा पंजीकरण किया जायेगा उन्ही की फसलों की खरीद मंडियों में की जाएगी। अब राज्य का कोई भी किसान पोएर्टल में मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी कर सकते है।

Haryana Meri Fasal Mera Byora Haryana 2021

स्कीम का नाम हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा
योजना की शुरुआत सीएम मनोहर लाल खट्टर जी द्वारा
विभागकृषि विभाग हरियाणा
उद्देश्यकिसान और खेत का पंजीकरण
वर्ष 2021
लाभ किसानो को विभिन्न कृषि योजनाओं का लाभ एवं
फसलों से संबंधी सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त करने का अवसर
लाभार्थीराज्य के किसान
पोर्टल मेरी फसल मेरा ब्यौरा
पंजीकरण ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटfasal.haryana.gov.in

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना क्या है ?

राज्य के किसान नागरिकों कृषि क्षेत्र के कार्य में सभी प्रकार सुविधा प्रदान करने हेतु हरियाँ सरकार के द्वारा यह योजना शुरू की गयी है अब नागरिक बिना किसी समस्या के इस योजना के अंतर्गत फसलों की बुवाई से लेकर फसल को मंडी तक पहुंचाने के कार्य को आसान किया गया है नागरिकों को पोर्टल ,गेहूं ,धान ,सरसों ,दलहन सूरजमुखी ,चना इत्यादि की फसलों को बेचने के लिए किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा हरियाणा राज्य की यह योजना किसानों को कृषि कार्य के क्षेत्र में सहायता हेतु राज्य में संचालित कई प्रकार की योजना का लाभ प्रदान करेगा। किसानों को पोर्टल में पंजीकरण करने के बाद सभी प्रकार की सुविधा मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत प्राप्त होगा। फसलों के अनुसार समय-समय पर फसलों के विक्रय हेतु पोर्टल में पंजीकरण करने की प्रक्रिया शुरू की जाती है किसान नागरिक अपने फसलों के आधार पर पोर्टल में पंजीकरण कर सकते है।

Meri Fasal Mera Byora के अंतर्गत किसानों के लिए हरियाणा सरकार के द्वारा मंडियों तक अपनी फसल को पहुंचाने के लिए शेड्यूलिंग के साथ ऑनलाइन भुगतान की सुविधा भी जारी की गयी है अब किसानों के द्वारा बेची गयी फसल की राशि लाभार्थी किसानों के बैंक अकाउंट में ऑनलाइन भुगतान के तहत प्राप्त होगा। इसके साथ ही किसान नागरिक अपनी सुविधा के अनुसार पोर्टल में शेड्यूलिंग के तहत फसल को मंडी में पहुंचा सकते है। इस योजना के नातर्गत राज्य के किसान समृद्ध बनेंगे। समय समय पर किसानों को योजना के माध्यम से कृषि हेतु जानकारी दी जाएगी जिससे वह खेती के कार्य में अधिक जानकारी प्राप्त कर बेहतर उपजाऊ कर सकते है और अपनी आर्थिक स्थिति में मजबूती प्राप्त कर सकते है।

Haryana Meri Fasal Mera Byora का उद्देश्य

  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल शुरू करने का हरियाणा सरकार का मुख्य उद्देश्य है किसान के पंजीकरण के साथ फसल का पंजीकरण प्राप्त करना।
  • इस योजना के तहत किसानों के फसल एवं खेत दोनों का विवरण ऑनलाइन माध्यम से पोर्टल में अपलोड किया जायेगा।
  • कृषि क्षेत्र में प्राकृतिक आपदा से हुयी क्षति से किसान नागरिकों को समय से मदद प्रदान की जाएगी।
  • Haryana Meri Fasal Mera Byora पोर्टल के अंतर्गत किसानों को खेती से जुड़ी सभी प्रकार की सेवाओं को ऑनलाइन रूप में प्राप्त करने का अवसर मिलेगा।
  • किसानों को योजना के माध्यम से बीज ऋण सहायता कृषि यंत्र को समय पर उपलब्ध करवाया जायेगा जिससे किसानों को खेती करने में किसी भी प्रकार की कोई समस्या न हो।
  • समय से किसानों को फसल की कटाई बिजाई एवं मंडी से जुड़ी जानकारी को प्राप्त करने का मौका पोर्टल के तहत ऑनलाइन माध्यम से प्राप्त होगा।
  • खेती कार्यों में किसानों को हो रही परेशानियों को कम करने के लिए योजना के अंतर्गत हरियाणा सरकार के द्वारा निरंतर प्रयास किये जायेंगे।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा की विशेषताएं

  • राज्य के किसानों को Meri Fasal Mera Byora पोर्टल में पंजीकरण कराने के उपरांत सभी प्रकार के खेती से जुड़े लाभ प्राप्त होंगे।
  • पोर्टल में पंजीकरण के बाद किसानों को प्रति एकड़ के अनुसार दस रूपए की वित्तीय प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी।
  • किसान नागरिकों को कृषि यंत्र एवं खाद्य बीज के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत एक विशेष प्रकार की छूट प्रदान की जाएगी।
  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में पंजीकरण किये हुए किसानों को राज्य सरकार के द्वारा एक स्थाई रजिस्ट्रेशन नंबर दिया जायेगा।
  • किसानों की कृषि संबंधी सेवाओं को और आसान बनाने के लिए हरियाणा सरकार के द्वारा योजना के कार्य हेतु मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल को लॉन्च किया है इस पोर्टल की मदद से नागरिक अब पंजीकरण कर अपनी फसलों को मंडी तक सीधे विक्रय कर सकते है।
  • किसानों तक कृषि से संबंधित सभी जानकारी को पोर्टल के अंतर्गत पारदर्शी रूप में उपलब्ध किया जायेगा।
  • fasal.haryana.gov.in पोर्टल में पंजीकृत किसान नागरिकों को अपनी फसलों को मंडी में पहुंचाने की एक विशेष सुविधा प्राप्त होगी।
  • खेती में हुए प्राकृतिक आपदा से हानि से मिलने वाली सहायता का सीधा लाभ किसानों को समय से प्राप्त होगा।
  • यह योजना हरियाणा सरकार के द्वारा सभी कृषि योजनाओं से किसानों को लाभ प्रदान हेतु शुरू की गयी है।
  • यदि किसान नागरिकों को मंडियों में बेची गयी फसल का समय से भुगतान राशि नहीं दी जाएगी तो किसान नागरिकों को 9% की दर से ब्याज राशि हस्तांरित की जाएगी।
  • किसानों की सुविधाओं के लिए हरियाणा सरकार के द्वारा पोर्टल के साथ कॉल सेंटर की स्थापना भी गयी है इसके माध्यम से किसानों की समस्याओं का निवारण किया जायेगा।

Meri Fasal Mera Byora पंजीकरण के लिए पात्रता

  • हरियाणा राज्य के मूल निवासी नागरिक मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में पंजीकरण करने के लिए पात्र है।
  • अन्य राज्य के वह किसान पोर्टल में पजीकरण के लिए पात्र है जिनकी कृषि खेती हरियाणा राज्य में है।
  • जिन किसान नागरिकों के द्वारा fasal.haryana.gov.in पोर्टल में पंजीकरण नहीं किया जायेगा उनकी फसल को मंडी में विक्रय हेतु सुविधा प्रदान नहीं की जाएगी।
  • पंजीकरण करने के लिए किसानों के पास आधार कार्ड ,एवं मोबाइल नंबर होना आवश्यक है इसी के आधार पर वह पोर्टल में पंजीकरण करने की प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।
  • पंजीकरण करने के लिए किसानो के पास खेती संबंधी फर्द होनी अनिवार्य है खसरा नंबर के अनुसार ही अपनी फसल के विवरण को ऑनलाइन मोड में अपलोड कर पाएंगे।
  • इसके साथ ही किसानों को पोर्टल में पंजीकरण के लिए फसलों के बुवाई संबंधी फसलों का नाम एवं फसल की बुवाई का विवरण भी दर्ज करना अनिवार्य है।

मेरा पानी मेरी विरासत योजना ऑनलाइन आवेदन

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण के लिए अनिवार्य दस्तावेज

आवेदकों को मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन पंजीकरण के लिए कुछ जरुरी दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इन दस्तावेजों के आधार पर ही उम्मीदवार किसान पोर्टल पर अपना पंजीकरण कर सकते है। ये दस्तावेज निम्न प्रकार है –

  • आवेदक किसान नागरिक का निवास स्थान प्रमाण पत्र
  • आवेदक किसान का आधार कार्ड
  • राशन कार्ड
  • मतदाता पहचान प्रमाण पत्र
  • खेती से संबंधित दस्तावेज
  • आवेदक किसान नागरिक का मोबाइल नंबर
  • आवेदक किसान नागरिक की पासपोर्ट साइज फोटो
हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

राज्य के जो भी किसान नागरिक ऑनलाइन माध्यम से मेरी फसल मेरा ब्यौरा हेतु पोर्टल में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना चाहते है वह नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • Haryana Meri Fasal Mera Byora Online Registration करने के लिए fasal.haryana.gov.in आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करें।
  • उसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल कर आ जाएगा।
  • होम पेज में किसान नागरिक को पंजीकरण हेतु किसान अनुभाग क्लिक करें के ऑप्शन को चुने।
  • अब अगले पेज में किसान पंजीकरण (हरियाणा) क्लिक करें के विकल्प को चुने।
  • next page में पंजीकरण करने के लिए किसान नागरिक को अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। किसान-लॉग-इन-फॉर्म-हरियाणा
  • इसके पश्चात login के ऑप्शन में क्लिक करना होगा।
  • new page में नागरिक को किसान पंजीकरण हेतु पूछी आधार नंबर ,परिवार आईडी ,या फिर मोबाइल नंबर में से किसी एक संख्या को दिए गए कॉलम में भरना होगा। हरियाणा-मेरी-फसल-मेरा-ब्यौरा-ऑनलाइन-रजिस्ट्रेशन
  • आईडी संख्या दर्ज करने के पश्चात किसान नागरिक को सर्च के विकल्प में क्लिक करना है।
  • अगर आवेदक किसान नागरिक के द्वारा मोबाइल नंबर संख्या दर्ज की गयी है तो किसान के दिए गए मोबाइल नंबर में ओटीपी प्राप्त होगा। अब ओटीपी नंबर को सत्यापित कर आगे बढे।
  • next page में पंजीकरण करने के लिए आवेदन फॉर्म प्राप्त होगा।
  • अब आवेदन पत्र में पूछी गयी सभी प्रकार की जानकारी को दर्ज करें।
  • आवेदन फॉर्म को आवेदक नागरिक को 4 चरणों में भरना होगा।
  • प्रथम चरण में किसान नागरिक को पंजीकरण से संबंधित सभी आवश्यक प्रकार की जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • द्वितीय चरण में नागरिक को फसल के विवरण संबंधी जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • तीसरे चरण में किसान नागरिक को बैंक के विवरण की जानकारी को भरना होगा।
  • और इसके साथ ही चौथे चरण में किसान को आढ़ती से जुड़ी जानकारी को दर्ज करना होगा।
  • आवेदन पत्र में सभी प्रकार की जानकारी भरने के पश्चात आवेदन पत्र को जमा करने के लिए submit ऑप्शन में क्लिक करें।
  • इस प्रकार हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया किसान नागरिक की पूर्ण हो जाएगी।
एप्लीकेशन फॉर्म को प्रिंट कैसे करें ?

किसान एप्लीकेशन फॉर्म को प्रिंट करने के लिए नीचे बताई गयी प्रक्रिया को फॉलो करें।

  • एप्लीकेशन फॉर्म को प्रिंट के लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट में प्रवेश करें।
  • आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज किसान अनुभाग वाले सेक्शन में क्लिक करें।
  • अब अगले पेज में आवेदक किसान को पंजीकरण प्रिंट के ऑप्शन में क्लिक करना है। एप्लीकेशन-फॉर्म-प्रिंट
  • next page में आवेदक नागरिक को अपना नाम ,मोबाइल नंबर ,और बैंक खाता संख्या दर्ज करनी है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद प्रिंट करें के ऑप्शन में क्लिक करें।
  • इसके पश्चात आवेदन फॉर्म की सभी जानकारी आवेदक के स्क्रीन में दिखाई देगा।
  • किसान नागरिक आवेदन पत्र को डाउनलोड कर इसका प्रिंट आउट ले सकते है।

बैंक विवरण की जानकारी कैसे बदले ?

  • बैंक विवरण बदलने के लिए नागरिक को मेरी फसल, मेरा ब्योरा पोर्टल fasal.haryana.gov.in में विजिट करना होगा।
  • पोर्टल में विजिट करने के पश्चात होम पेज में किसान अनुभाग क्लिक करें के ऑप्शन को चुनना होगा।
  • इसके पश्चात आवेदक नागरिक के स्क्रीन में नया पेज खुल जायेगा। नए पेज में बैंक विवरण बदले के ऑप्शन में क्लिक करें।
  • अब Next Page में किसान नागरिक को बैंक विवरण की जानकारी को बदलने के लिए मोबाइल नंबर दर्ज कर दिए गए कैप्चा कोड को बॉक्स में भरना होगा। बैंक-विवरण-की-जानकारी
  • इसके बाद किसान नागरिक को जारी रखे के ऑप्शन में क्लिक करना है।
  • नए पेज में आवेदक किसान को नए बैंक अकाउंट नंबर की सभी जानकारी को भर के फॉर्म को सबमिट करना है
  • इस प्रकार बैंक अकाउंट नंबर में संसोधन करने की प्रक्रिया नागरिक की पूरी हो जाएगी।

धान हेतु राज्य के सीमान्त किसानों का पंजीकरण

  • हरियाणा राज्य के किसानों को योजना के तहत धान हेतु पंजीकरण करने के लिए सबसे पहले fasal.haryana.gov.in पोर्टल में जाना होगा।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • पोर्टल में जाने के पश्चात होम पेज में किसान अनुभाग के सेक्शन में क्लिक करना है।
  • अगले पेज में आवेदक नागरिक को सीमांत किसान पंजीकरण (केवल धान के लिए)  के विकल्प में क्लिक करना है। सीमांत-किसान-पंजीकरण
  • अब नए पेज में अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें।
  • और दिए गए कैप्चा कोड को अंकित कर जारी रखे के ऑप्शन में क्लिक करें।
  • नए पेज में आवेदक नागरिक को धान हेतु पंजीकरण फॉर्म प्राप्त होगा। पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी सभी प्रकार की जानकारी को भरें।
  • इसके बाद फॉर्म को सबमिट करें इस प्रकार सीमांत किसान धान की बिक्री हेतु पोर्टल में पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते है।

मंडी सचिव लॉगिन कैसे करें ?

  • मंडी सचिव लॉगिन करने हेतु मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल fasal.haryana.gov.in में विजिट करें।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • पोर्टल में विजिट करने के पश्चात होम पेज में मंडी सचिव लॉगिन करें के विकल्प में क्लिक करें।
  • अब नए पेज में मंडी सचिव लॉगिन हेतु अपने डिस्ट्रिक्ट ,मंडी केंद्र को सेलेक्ट करें। मंडी-सचिव-लॉगिन
  • इसके पश्चात नागरिक को अपना मोबाईल नंबर का विवरण होगा।
  • मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद दर्ज करें के विकल्प को चुने।
  • इस तरह से मंडी सचिव लॉगिन करने का प्रोसेस पूरा हो जायेगा।

Choose an approved week to bring crops to the market?

  • राज्य के किसान नागरिकों को अपनी फसल मंडी में विक्रय करने हेतु अनुमादित सप्ताह चुनने के लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट में विजिट करना होगा।
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • वेबसाइट में विजिट करने के बाद होम पेज में मंडी में फसल लाने का अनुमादित सप्ताह चुने के विकल्प में क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आवेदक के मोबाइल स्क्रीन में न्यू पेज ओपन हो जायेगा।
  • न्यू पेज में किसान नागरिक को अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा। मंडी-फसल-लाने-का-अनुमादित-सप्ताह
  • मोबाइल नंबर दर्ज करने के पश्चात स्क्रीन में दिए गए कैप्चा कोड नंबर को दर्ज करना है।
  • इसके बाद जारी रखे के विकल्प में क्लिक करें।
  • अब अगले पेज में आवेदक किसान को मंडी में फसल का क्रय करने के लिए तिथि का चयन करना है।
  • इस प्रकार मंडी में फसल की बिक्री के लिए आवेदक किसान तिथि सप्ताह का चयन कर सकते है।

Mandi War Gate Pass List

  • मंडी के अनुसार गेट पास लिस्ट की जानकारी देखने हेतु fasal.haryana.gov.in पोर्टल में जाएँ।
  • उसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुलेगा।
  • पोर्टल में जाने के बाद होम पेज में मंडी वार गेट पास सूची के विकल्प में क्लिक करें।
  • Next Page में किसान नागरिक को District ,Corp, Mandi ,Date का चयन करना है। मंडी-वार-गेट-पास-सूची
  • सभी जानकारी सेलेक्ट करने के बाद View List के ऑप्शन में क्लिक करें।
  • अब आवेदक नागरिक के स्क्रीन में सभी मंडियों की लिस्ट खुल जाएगी।
  • इस लिस्ट में नागरिक सभी मंडियों के नाम की जांच कर सकते है।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2021 से संबंधित कुछ प्रश्न और उनके उत्तर

हरियाणा राज्य के किसान नागरिक फसलों को मंडी तक पहुंचाने के लिए कहा पंजीकरण कर सकते है ?

फसलों को मंडी तक पहुंचाने के लिए किसान नागरिकों के लिए हरियाणा सरकार के द्वारा पोर्टल को लॉन्च किया गया है। fasal.haryana.gov.in की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से किसान नागरिक ऑनलाइन माध्यम में अपना पंजीकरण कर सकते है।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में पंजीकरण करने के क्या लाभ है ?

राज्य के जिन किसानों के द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में पंजीकरण किया जायेगा उन्हें विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे। खेती से संबंधित सभी सरकारी योजनाओं के साथ उन्हें सब्सिडी लेने का लाभ भी प्राप्त होगा।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा का पंजीकरण कैसे करें ?

आप मेरी फसल मेरा ब्यौरा का पंजीकरण ऑनलाइन ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर कर सकते है।

क्या पोर्टल में पंजीकरण कर आवेदक किसान नागरिक आवेदन पत्र का प्रिंट निकाल सकते है ?

हाँ अगर आवेदक नागरिक के द्वारा पोर्टल में पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा किया गया है तो आवेदक अपने आवेदन फॉर्म का प्रिंट आउट ऑनलाइन माध्यम से पोर्टल की मदद से प्राप्त कर सकते है।

किसानों को कृषि कार्य हेतु सुविधाएँ पहुंचाने के लिए पोर्टल कब लॉन्च किया गया है ?

हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों तक कृषि से संबंधित सेवाओं को पारदर्शी रूप में पहुंचाने के लिए 5 जुलाई 2019 को पोर्टल लोन किया गया है।

क्या हरियाणा राज्य के सभी किसान पोर्टल में पंजीकरण करने के लिए पात्र है ?

हाँ राज्य में मौजूद सभी किसान वर्ग के नागरिक मेरा फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल में पंजीकरण करने के लिए पात्र है।

मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना से संबंधित समस्या के लिए आवेदक किसान कहाँ सम्पर्क कर सकते है ?

हरियाणा राज्य सरकार के द्वारा योजना से संबंधी समस्याओं के लिए किसान नागरिकों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किये गए है नागरिक इन नंबर पर संपर्क कर अपनी समस्याओं के समाधान को प्राप्त कर सकते है।
Toll-Free Number – 18001802117
Helpline Number – 18001802060
ईमेल ID  – hsamb.helpdesk@gmail.com

किस प्रकार की फसल हेतु किसान नागरिक पोर्टल में पंजीकरण कर सकते है ?

सरसों ,गेहूं, दलहन, चना ,सूरजमुखी आदि फसलों के लिए किसान नागरिक पोर्टल में पंजीकरण कर सकते है।

क्या मेरी फसल मेरा ब्यौरा योजना के अंतर्गत किसानों को कृषि से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी ?

हाँ किसानों को योजना के अंतर्गत कृषि से संबंधित सभी आवश्यक प्रकार की जानकारी प्रदान की जाएगी जिससे किसान नागरिक कृषि में अधिक उत्पादन कर सकते है।

हेल्पलाइन नंबर

जैसे ही हमने आपसे इस लेख में मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी साझा की है, यदि आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी के अतिरिक्त कोई अन्य जानकारी चाहिए तो आप नीचे दिए गए कमेंट सेक्शन में जाकर मैसेज करके पूछ सकते है। आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी से सहायता मिलेगी। किसी भी प्रकार की जानकारी या समस्या या शिकायत के लिए आप इस हेल्पलाइन नंबर 18001802060 पर सम्पर्क कर सकते है।

Leave a Comment