कोर्ट केस स्टेटस कैसे चेक करें- eCourt Case Status 2023 Online Check in Hindi

जिन भी लोगों को किसी कोर्ट केश के सिलसिले में बार-बार कोर्ट में जाना पड़ता है, उन्हें काफी परेशानी होती है। सरकार ने लोगों की परेशानी को कम करने के लिए eCourt Case Status सुविधा को शुरू किया है। नागरिक को कोर्ट के निर्णयों को जानने, दिए आदेश पढ़ने एवं देश की डेट्स को जानने के लिए वेब पोर्टल और मोबाइल ऐप से मदद मिलेगी। सामान्यतया ज्यादातर लोग कोर्ट-कचहरी के मामलो से दुरी बनाकर रखना पसंद करते है किन्तु कभी विशेष हालातो में अपने अधिकार को पाने के लिए कोर्ट के दरवाजे को भी खटकटाना जरुरी हो जाता है। कोर्ट के कार्य की प्रक्रिया काफी डिटेल्स से होती है अतः यहाँ का कोई भी काम जल्दी से नहीं होता है। छोटा केस भी 4-5 सालों में निपटता है। इस लिए लोगों का ज्यादा सुविधा देने के लिए सरकार ने कोर्ट की जानकारी ऑनलाइन पाने की सुविधा कर दी है।

eCourt case status online check in hindi
eCourt case status online check in hindi
पोर्टल का नामeCourt Case Status पोर्टल
सम्बंधित विभागन्यायालय विभाग
शुरू किया गयाकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीकोर्ट के वादी नागरिक
माध्यमऑनलाइन
ऐप का नामईकोर्ट सर्विसेज (Ecourts Services)
आधिकारिक वेबसाइटservices.ecourts.gov.in

eCourt Case Status पोर्टल

सरकार के द्वारा जारी किया गया eCourt Portal से नागरिक कही भी अपने डिस्ट्रिक्ट कोर्ट, उच्च न्यायालय एवं उच्चतम न्यायालय में लंबित मामलों की जानकारी (eCourt Case Status) प्राप्त कर सकते है। इस प्रकार से अपने स्मार्टफोन एवं कंप्यूटर से कोर्ट के मामले की सभी जानकारी 2 मिनट में प्राप्त हो सकेगी। यदि आपको अपने किसी केस की नवीनतम जानकारी प्राप्त करनी है तो आपको इस लेख में बताये तरीके को ध्यान से जान लेना होगा।

ईकोर्ट पोर्टल कोर्ट केस की जानकारी

  • सुप्रीम कोर्ट केस स्टेटस (Supreme Court Case Status)
  • हाई कोर्ट केस स्टेटस (High Court Case Status)
  • सिटी सिविल कोर्ट केस स्टेटस (City Civil Court Case Status)
  • सदम कोर्ट केस स्टेटस (Sadam Court Case Status)
  • ट्रिब्यूनल कोर्ट केस स्टेटस (Tribunal court case status)

पोर्टल पर केस के लिए प्रमाण-पत्र /डिटेल्स

  • CNR संख्या
  • केस संख्या
  • वादी का नाम
  • फाइलिंग संख्या
  • वकील का नाम
  • FIR संख्या
  • जुड़े Act. के प्रकार

कोर्ट केस स्टेटस कैसे चेक करें

जिन भी व्यक्तियो का किसी भी स्तर के न्यायालय में कोई केस लंबित है तो वे नीचे दिए गए चरणों के अनुसार अपने मामले की ऑनलाइन स्थिति को देख सकते है –

eCourt case status online check in hindi - entering cnr number

  • सबसे पहले अपने आधिकारिक पोर्टल https://services.ecourts.gov.in को ओपन करना है।
  • नए वेब पेज के बॉक्स में आपने अपने कोर्ट केस के “CNR NUMBER” को दर्ज़ करके “सब्मिट” बटन दबाना है।
  • इसके बाद के पेज आपने अपने “स्टेट” को चुनना है।
  • अब अपने “कोर्ट” का चुनाव कर लें, जैसे हाई कोर्ट, सुप्रीम कोर्ट एवं जिला कोर्ट।
  • इसके बाद के नए वेब पेज में आपने “केस के लिंक” विकल्प को चुनना है।
  • आपके सामने “केस के स्टेटस” का पेज खुलेगा।
  • यहाँ पर आपने केस के पुरे विवरण एवं मामले की स्थिति को देखना है।
  • अब नीचे की ओर आपको “मामले की अगली सुनवाई” के विवरण प्राप्त होंगे।
  • इस प्रकार से आप अपने कोर्ट केस की स्थिति को चेक करके लाभान्वित हो सकते है।

यह भी पढ़ें :- Cheque Bounce kya Hota Hai चेक बाउंस का मतलब जानिये

ऑनलाइन कोर्ट निर्णय को पढ़ना

  • सबसे पहले आपने ईकोर्ट पोर्टल को ओपन कर लेना है।
  • पोर्टल के होम पेज पर बाई ओर नीचे के भाग में “कोर्ट आर्डर लिंक” को चुनना है।
  • नए वेब पेज में आपने राज्य, जिला और कोर्ट के नाम को दर्ज़ करना है।
  • इसके बाद वादी (पार्टी) संख्या, केस संख्या, कोर्ट संख्या, आर्डर डेट इत्यादि को दर्ज़ करना है।
  • इसके बाद नीचे एक डेट का स्लॉट भरने के बाद आपने कॅप्टचा कोड दर्ज़ करके “Go” बटन दबाना है।
  • केस से जुडी अन्य जानकारी जैसे कॉज लिस्ट और केवेट सर्च इत्यादि के लिए भी ऑनलाइन पोर्टल के लिंक में जाकर जरुरी जानकारी दर्ज़ करने के बाद सर्च कर सकते है।

सुप्रीम कोर्ट केस स्थिति देखना

  • सबसे पहले सुप्रीम कोर्ट वेबसाइट https://main.sci.gov.in/ को ओपन कर लें।
  • वेबसाइट के होम पेज पर किसी एक विवरण – डायरी संख्या, केस संख्या, वादी नाम, AOR, कोर्ट, ट्रिब्यूनल इत्यादि को दर्ज़ करें।
  • इनमे से एक विवरण को देने के बाद “सर्च” बटन दबाना है।
  • आपको स्क्रीन पर केस से जुडी जानकारी प्राप्त हो जाएगी।

ईकोर्ट सेवा मोबाइल ऐप डाउनलोड करना

  • सबसे पहले आपको प्ले स्टोर के सर्च बॉक्स में “E Courts Services” टाइप करके सर्च करना है।
  • आपको स्क्रीन पर ऐप के परिणाम प्राप्त होंगे।
  • दिख रहे ऐप में से पहले ऐप को डाउनलोड कर लें।
  • डाउनलोड होने के बाद अपने मोबाइल ऐप को इनस्टॉल कर लें।
  • इस प्रकार से आप ऐप के माध्यम से अपने मोबाइल में ईकोर्ट सेवाओं को इस्तेमाल कर सकते है।

एसएमएस के द्वारा केस की स्थिति पाना

यदि कोई वादी चाहे तो उसे एमएमएस के माध्यम से भी उसके कोर्ट केस की जानकारी मोबाइल पर मिल सकती है। एसएमएस के माध्यम से केस की जानकारी लेने के लिए आपको सबसे पहले अपने मोबाइल फ़ोन के एसएमएस बॉक्स को खोलना है। मैसेज क्रिएट बॉक्स में जाकर ECORTS टाइप करने के बाद <स्पेस> छोड़ना है, इसके बाद केस के CRA नंबर को दर्ज़ करना होगा और 9766899899 नंबर पर भेज देना है। इसके बाद कुछ ही मिंटो में आपको अपने केस से जुडी सभी प्रकार की जानकारी एक एसएमएस से प्राप्त हो जाएगी।

eCourt पोर्टल के लाभ

  • इससे लोगों के समय की बचत होगी।
  • कोर्ट केस से जुड़े न्यायालय परिसर के भ्रष्टाचार के मामलों में भी कमी आएगी।
  • न्यायपालिका के कार्यो में पारदर्शिता लाने का प्रयास होगा।
  • कोर्ट के केसो को लोग अपने घर से ही ऑनलाइन माध्यम से जान सकेंगे।
  • कोर्ट के मामलों के निर्णयों की कॉपी लोगों को घर पर ही ऑनलाइन मिल सकेगी।
  • घर से ही मामले की जानकारी ऑनलाइन मिलने से लोगों को कोर्ट के चक्कर नहीं लगाने होंगे।
  • पोर्टल के द्वारा FIR नंबर एवं क़ानूनी धाराओं की जानकारी भी मिल सकेगी।
  • कोर्ट में दायर मामले के बारे में पूरी जानकारी को विभिन्न डिटेल्स जैसे – सीएनएन संख्या, वादी का नाम, केस संख्या, फाइलिंग संख्या, वकील का नाम एवं FIR संख्या से जान सकते है।

eCourt Case से सम्बंधित प्रश्न

ऑनलाइन माध्यम से कोर्ट केस कैसे देखना है?

आपको सरकार द्वारा बनाये गए ईकोर्ट पोर्टल पर जाकर ऊपर बताये गए स्टेप्स को फॉलो करना है। इस प्रकार से आप ऑनलाइन पोर्टल से अपने केस की जानकरी प्राप्त कर सकेंगे।

पोर्टल से कोर्ट केस स्टेटस को कैसे चेक करें?

कोई भी वादी अपने CNR नंबर, पार्टी नाम, केस संख्या, फ़ाइलिंग संख्या, एडवोकेट नाम, FIR संख्या और एक्ट के प्रकार द्वारा चेक कर सकते है।

CNR क्या है?

CNR एक विशिष्ट प्रकार का नंबर है जोकि जिला एवं तालुका कोर्ट के प्रत्येक केस को मिलता है। कोई भी व्यक्ति जब ई-कोर्ट के पोर्टल को ओपन करता है तो उसे सबसे पहले CNR संख्या को ही दर्ज़ करना पड़ता है। इसके बाद व्यक्ति को केस की जानकारी मिल जाती है।

कोर्ट केस कब ख़ारिज हो जाता है?

यदि कोई भी वादी कोर्ट में नहीं मौजूद होता है तो कोर्ट को केस निरस्त करना पड़ता है। केस को तभी जारी किया जा सकता है जब दोनों वादी (पार्टी) न्यायालय में उपस्थित हो रहे हो। यदि सुनवाई के दिन कोई वादी अदालत में उपस्थित नहीं होता है तो न्यायालय प्रतिवादी के विरुद्ध एकपक्षीय डिक्री दे देता है।

Leave a Comment

Join Telegram