बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना: ऑनलाइन एप्लीकेशन फॉर्म | आवेदन फॉर्म, पात्रता

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना: केंद्र सरकार द्वारा देश में बेटियों के जन्म को बढ़ावा देने उन्हें शिक्षा के माध्यम से भविष्य को बेहतर बनाने के लिए बहुत सी योजनाओं के माध्यम से प्रयास करती है, ऐसी ही एक योजना की शुरुआत बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के नाम से की गई है। इस योजना के अंतर्गत बेटियों की सुरक्षा के साथ उन्हें शिक्षित करने के लिए भी प्रोत्साहन दिया जाएगा, जिसके लिए योजना के तहत बेटी के अभिभावकों को उसका खाता किसी भी राष्ट्रीय बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाना होगा और उसमे निर्धारित अवधि तक बेटी के भविष्य हेतु निर्धारित राशि जमा करनी होगी, जिससे आगे चलकर बेटी की शिक्षा व उसके विवाह के लिए बेहतर बचत की जा सकेगी और उसे एकमुश्त जमा राशि का लाभ मिल सकेगा। इसके लिए जो नागरिक अपनी बालिका को योजना का लाभ प्रदान करवाना चाहते हैं वह योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर आवेदन कर सकते हैं।

सरकार द्वारा शुरू की गई बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना क्या है ? योजना के लाभार्थियों को क्या लाभ मिलेगा, आवेदन हेतु योजना की पात्रता व दस्तावेज और योजना में आवेदन की प्रक्रिया तो इसकी सभी जानकारी आप हमारे लेख के माध्यम से जान सकेंगे।

Beti-bachao-beti-padhao-yojana-apply
Beti-bachao-beti-padhao-yojana-apply

Table of Contents

प्रधानमंत्री बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 22 जनवरी 2015 में की गई थी, इस योजना को पहले हरियाणा के पानीपथ में बेटियों के जीवन स्तर में सुधार, भ्रूणहत्या जैसे अपराध को रोकने और बेटों की तुलना में बेटियों के प्रति हो रहे भेदभाव को खत्म कर उन्हें भी शिक्षित होने के लिए प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से की गई थी, जिसके बाद इसे पूरे देश में बेटियों की सुरक्षा व शिक्षा के प्रति जागरूकता बढ़ाने के लिए लागू कर दिया गया। इस योजना के माध्यम से बेटियों को उनके परिवार वाले केवल एक बोझ समझकर उनसे दुर्व्यवहार न करें और उन्हें पूरी सकारात्मक सोच के साथ अपनाए इसके लिए योजना के तहत सरकार अभिभावकों को बेटी के जन्म होने से लेकर बेटी के 21 वर्ष की होने तक बैंक या पोस्ट ऑफिस के माध्यम से बचत करने का बेहतर विकल्प प्रदान करवाती है, जिससे भविष्य में बेटी की उच्च शिक्षा या विवाह के लिए उसके माता-पिता को किसी तरह की आर्थिक समस्या का समना न करना पड़े।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana : Details

योजना का नाम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना
शुरू की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा
साल 2022
संबंधित विभाग स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, महिला और बाल विकास मंत्रालय,
मानव संसाधन विकास मंत्रालय
आवेदन माध्यम ऑनलाइन/ऑफलाइन
योजना के लाभार्थी देश की बेटियाँ
उद्देश्य बेटियों के प्रति नकारात्मक सोच को खत्म
कर उन्हें शिक्षा में प्रोत्साहन देना
श्रेणी केंद्र सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइट wcd.nic.in

बेटी के 21 वर्ष पूरे होने पर मिल सकेगा योजना का लाभ

सरकार द्वारा शुरू की गई बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत बेटी के जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु होने तक अभिभावकों को अपनी बेटी का खाता किसी भी राष्ट्रीय बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाना होगा। इस योजना में अभिभावक जब भी अपनी बेटी का खाता खुलवाएँगे तब से लेकर बेटी के 14 वर्ष की आयु तक अभिभावक को निर्धारित राशि जमा करनी होगी, इस बीच उन्हें कोई राशि भरने की आवश्यकता नहीं होगी जिसके बाद बेटी के 21 वर्ष पूरे होने पर वह एकमुश्त जमा राशि को अपनी शिक्षा या विवाह के लिए निकाल सकेगी जिसपर उसे योजना के तहत बेहतर ब्याज दर प्रदान जाएगा, लाभार्थी बालिका चाहे तो 18 वर्ष पूरे होने के बाद भी अपनी शिक्षा के लिए जमा राशि निकाल सकेगी, लेकिन 21 वर्ष से पहले निकासी करने पर वह केवल राशि का 50% ही खाते से निकाल सकेगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के उद्देश्य

केंद्र सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना को आरम्भ करने का मुख्य उद्देश्य देश मे बेटियों के भविष्य को सुरक्षित कर उन्हें बेहतर जीवन प्रदान करना है, इसके लिए बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के माध्यम से सरकार बेटियों की शिक्षा के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास कर रही है। जैसे की अक्सर देखा जाता है, बहुत से लोग बेटियों के पैदा होने से पहले ही उनकी भ्रूण हत्या जैसा अपराध करते हैं या बेटियों के साथ भेद-भाव करके उन्हें अशिक्षित ही रखते हैं और कम उम्र में उनका विवाह करवा देते हैं। जिससे न तो बेटियाँ शिक्षित हो पाती है और ना ही कभी आत्मनिर्भर बन पाती है, इसी समस्या को देखते हुए बेटियों के जन्म से लेकर उनकी उच्च शिक्षा में पहुँचने तक अभिभावकों को पोस्ट ऑफिस या बैंक में बेटी के खाते में निर्धारित राशि जमा करने की सुविधा दी जाती है, जिसके बाद योजना की अवधि पूरी होने पर बेटियों को योजना का लाभ दिया जाता है, जिससे

  • बेटियाँ को सुरक्षित किया जा सकेगा।
  • भ्रूण हत्या जैसे अपराधों को खत्म किया जा सकेगा।
  • बेटियाँ पढ़ लिखकर आत्मनिर्भर हो सकेंगी।
  • साक्षरता दरों में वृद्धि हो सकेगी।
  • बेटियों के लिंग अनुपात में सुधार हो सकेगा।

योजना के तहत दी जाने वाली जमा राशि

  • बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत अभिभवक को बेटी के खाते में प्रतिवर्ष 12000 रूपये राशि या वह प्रतिमाह के आधार पर 1000 रूपये की राशि भी जमा कर सकते हैं।
  • योजना के अंतर्गत बेटी के 14 साल पूरे होने तक उसके खाते में 1 लाख 68 हजार रूपये की राशि जमा हो जाएगी।
  • बेटी के 21 वर्ष पूरे होने के बाद वह योजना के जमा राशि की निकासी कर सकेगी, जिसके बाद योजना की अवधि अपने आप ही पूरी हो जाएगी, इसके अतिरिक्त यदि बेटी 18 वर्ष में जमा राशि की निकासी करती है तो उसे जमा राशि का केवल 50% राशि ही मिल सकेगी।
  • योजना के तहत बेटी के 21 वर्ष पूरे होने पर उसे 6,07,128 रूपये की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • यदि आवेदक द्वारा योजना में प्रतिवर्ष 1.25 लाख रूपये की राशि जमा की जाती है, तो 14 वर्षों में 21 लाख रूपये जमा किये जाते हैं, जिसे बेटी के 21 वर्ष पूरे होने के बाद उसे 72 लाख रूपये की धनराशि प्राप्त हो सकेगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के लाभ

योजना में आवेदन करने पर लाभार्थियों को मिलने वाले लाभ की जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • देश में बेटियों की स्थिति में सुधार लाने और उन्हें शिक्षा में प्रोत्साहन देने के लिए सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना शुरू की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से अभिभावक अपनी बेटी के जन्म से 10 वर्ष की आयु पूरी होने तक उसका खाता बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते है।
  • योजना में बेटी के 14 वर्ष की आयु पूरी होने तक जमा की गई राशि को बालिका एकमुश्त 21 वर्ष की आयु पूरी होने पर अपनी शिक्षा या विवाह के लिए निकाल सकेगी।
  • देश में बेटियों के प्रति नकारात्मक सोच को खत्म कर भ्रूणहत्या के मामलों को खत्म किया जा सकेगा।
  • बेटियों के प्रति होने वाले भेदभाव को खत्म कर उन्हें भी को भी बेटों के सामान समझा जा सकेगा।
  • बेटियाँ भी अपनी उच्च शिक्षा बिना किसी आर्थिक समस्या के आत्मनिर्भर होकर पूरी कर सकेंगी।
  • योजना के माध्यम से देश में बेटियों की साक्षरता दरों में वृद्धि हो सकेगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना की पात्रता

Beti Bachao Beti Padhao Yojana में आवेदन के लिए आवेदक को इसकी निर्धारित पात्रता को पूरा करना होगा, जिसे पूरा करने वाले लाभार्थी को ही योजना का लाभ मिल सकेगा, जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक भारत के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • इस योजना के माध्यम से एक वर्ष से 10 वर्ष की आयु की बालिका योजना में आवेदन के पात्र होंगी।
  • एक परिवार की दो बेटियों को ही बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का लाभ प्राप्त हो सकेगा।
  • योजना में आवेदन के लिए आवेदक लाभार्थी बालिका का सुकन्या समृद्धि योजना में बैंक खाता होना आवश्यक है।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana आवश्यक दस्तावेज

योजना में आवेदन के लिए आवेदक के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक है, बिना पूरे दस्तावेजों के योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी नहीं हो सकेगी, जिसकी जानकारी कुछ इस प्रकार है।

  • आवेदक का आधारकार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बेटी का जन्म प्रमाण पत्र
  • अभिभावक का पहचान पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया

बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं योजना में आवेदन के लिए आवेदक यहाँ बताए गए स्टेप्स को पढ़कर योजना में आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं।

  • इसके लिए आवेदक सबसे पहले महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें। Beti-bachao-beti-padhao-scheme-apply
  • अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होम पेज खुलकर आ जाएगा।
  • यहाँ होम पेज पर आपको Scheme का ऑप्शन दिखेगा, जिस पर आपको क्लिक करना होगा।
  • अब ड्राप डाउन मेन्यू में आपको Mission Shakti 2.0 में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जिसके बाद आप योजना से जुड़े सभी दिशा-निर्देश को पढ़कर योजना में आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे।

Beti Bachao Beti Padhao Yojana ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया

योजना में आवेदन के लिए आवेदक ऑफलाइन माध्यम से भी आवेदन की प्रक्रिया को पूरा कर सकेंगे, जिसके लिए वह यहाँ बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं।

  • ऑफलाइन आवेदन के लिए आवेदक सबसे पहले पहले अपने नजदीकी बैंक या पोस्ट ऑफिस में सभी महत्तवपूर्ण दस्तावेजों को लेकर जाएँ।
  • यहाँ बैंक या पोस्ट ऑफिस से आपको योजना का आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • अब आवेदन फॉर्म लेने के बाद आपको उसमे पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक भरनी होगी।
  • सारी जानकारी भरकर आपको फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अटैच करना होगा।
  • अब आखिर में फॉर्म की पूरी जाँच कर लें, यदि कोई जानकारी छूट जाती है तो उसे भर लें।
  • इसके बाद आपने फॉर्म को बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा करवा दें।
  • इस तरह आपकी योजना में आवेदन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना से जुड़े प्रश्न/उत्तर

Beti Bachao Beti Padhao Yojana क्या है ?

Beti Bachao Beti Padhao Yojana केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई योजना है, जिसके माध्यम से अभिभावकों को अपनी बेटी का खाता किसी भी राष्ट्रीय बैंक या पोस्ट ऑफिस में खुलवाना होगा और उसमे बेटी के 14 वर्ष की आयु पूरी होने तक निर्धारित राशि जमा करनी होगी, जिसे बालिका 21 वर्ष की आयु के बाद निकाल सकेगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना में आवेदन के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट क्या है ?

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना में आवेदन के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट wcd.nic.in है।

योजना में आवेदन हेतु कितनी वर्ष की बालिकाएँ पात्र होंगी ?

योजना में आवेदन हेतु एक वर्ष से 10 वर्ष की बालिकाएँ आवेदन पात्र होंगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना के माध्यम से लाभार्थी बालिका के खाते में कितनी धनराशि जमा करनी होगी ?

योजना के माध्यम से अभिभावक को प्रतिवर्ष 12000 रूपये की धनराशि बालिका के खाते में जमा करनी होगी।

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना से संबंधित सभी जानकारी हमने आपको अपने लेख के माध्यम से प्रदान करवा दी है। और इसकी आवेदन प्रक्रिया के आरम्भ होने की जानकारी भी जल्द ही आपको प्रदान करवा देंगे। इसके लिए यदि आपको हमारा लेख पसंद आए या योजना से सम्बंधित कोई प्रश्न पूछना हो तो आप कमेंट बॉक्स में मैसेज करके पूछ सकते हैं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Leave a Comment