गणतंत्र दिवस पर भाषण (Republic Day speech)

गणतंत्र दिवस पर भाषण:- जैसा की आप सभी जानते है गणतंत्र दिवस एक राष्ट्रीय पर्व है इस पर्व के विषय में तो बच्चा -बच्चा जानता है। प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के रूप में पूरे देश में हर्सोल्लास के साथ मनाया जाता है सभी भारतवासियो के लिए यह दिन बहुत ही ख़ास होता है। 26 जनवरी 1950 को भारत का सविधान पूर्ण रूप से लागू हुआ था। 26 जनवरी 1950 के पश्चात भारत एक गणतंत्र राष्ट्र बना प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को दिल्ली में देश के राष्ट्रपति द्वारा ध्वजारोहण किया जाता है उसके पश्चात राष्ट्रीय गान जन -गन -मन गाया जाता है। पूरे देश में 26 जनवरी के दिन परेड होती है और अलग-अलग जगह पर अलग अलग तरह की बहुत सुंदर झाकियां भी निकाली जाती है ।स्कूल कॉलेज दफ्तर प्रत्येक जगह राष्ट्रीय पर्व को सेलिब्रेट किया जाता है 26 जनवरी को मनाने के लिए स्कूल कॉलेज के बच्चे जैसे डांस सिंगिंग नाटक खेल परेड आदि की तैयारी काफी पहले से करते है 26 जनवरी के दिन सबके सामने अपनी कला का प्रदर्शन करके अमर शहीदों को याद करते है इस राष्ट्रीय पर्व को प्रत्येक भारतवासी बहुत धूमधाम से सेलिब्रेट करते है।

प्रत्येक वर्ष स्कूल के बच्चो को 26 जनवरी में प्रोग्राम के लिए भाग लेना होता है कुछ बच्चे डांस में भाग लेते है तो कुछ सिंगिंग में कुछ नाटक में भाग लेते है कुछ बच्चे भाषण देने के इच्छुक होते है परन्तु वह घबरा जाते हम भाषण सही से दे पायेंगे या नहीं अगर आप ऐसा सोचते है तो अब आप निश्चिंत रहें आज हम आपको बतायेंगे आप किस तरह से भाषण दे सकते है कैसे आप अपने भाषण को बेहतरीन और लाजवाब बना सकते है अगर आप भी जानना चाहते है गणतंत्र दिवस पर भाषण को किस तरह प्रभावशाली बनाया जाता तो तो हमारे साथ अंत तक जरूर बने रहें।

गणतंत्र दिवस पर भाषण (Republic Day speech)
गणतंत्र दिवस पर भाषण (Republic Day speech)

गणतंत्र दिवस पर भाषण 2022

गणतंत्र दिवस (रिपब्लिक डे) 26 जनवरी पर अलग -अलग तरह के भाषण

मुझे तोड़ देना वनमाली,उस पथ पर देना फेक
मातृभूमि पर शीश चढ़ाने, जिस पथ जाये वीर अनेक

श्रद्धे माँ शारदा, आदरणीय प्रधानाचार्य जी आचार्य जी दीदी जी एवं मेरे समस्त सहपाठी भैय्या बहनो, जैसा की आप सभी को विदित ही होगा आज हम गणतंत्र दिवस मनाने के लिए एकत्रित हुए इस उपलक्ष्य पर में दो शब्द कहना चाहूंगी भी त्रुटि हो क्षमा कीजियेगा। मेरा नाम (छात्र /छात्र का नाम) है, मै (कक्षा) की छात्र /छात्रा हूँ।

आज हम 73 वा गणतंत्र दिवस मनाने जा रहे है सभी को गणतंत्र दिवस की ढेर सारी शुभकामनांए यह हम सभी के लिए बहुत ख़ास राष्ट्रीय पर्व है अपने देश के विकास और देश के उज्जवल भविष्य के लिए हम सबको ईश्वर से प्रार्थना करनी चाहिये। 26 जनवरी 1950 को हमारा सविधान लागू हुआ था। 26 जनवरी 1950 के बाद भारत एक गणतंत्र राज्य बना। जब हमारा भारत स्वतंत्र हुआ तो हमारे देश ने बहुत विकास किया परन्तु विकास के साथ साथ आज भी हमारे देश में जैसे -गरीबी, भ्रष्टाचार, अशिक्षा आदि जैसी समस्या है अपने भारत की अधिक प्रगति और विकास के लिए हम सभी भारतवासियो को शपथ लेने की आवश्यकता है अब हम गरीबी गरीबी, भ्रष्टाचार, अशिक्षा आदि इन सभी चीज़ो को दूर करने का प्रयास करेंगे और जनता का सहयोग करेंगे। हम सभी को एक साथ मिलकर रोकथाम करने के लिए जागरूक होने की आवश्यकता है।

अब मै अपनी वाणी को यही पर विराम चिन्ह देती हूँ।

जय हिन्द जय भारत।

26 जनवरी पर भाषण

आजादी की कभी शाम ना होने देंगे
शहीदों की कुर्बानी बदनाम न होने देंगे
बची है जो एक बूँद लहूँ की तब तक
भारत माँ का अंचल नीलम न होने देंगे

आदरणीय प्रधानाचार्य शिक्षकगण अतिथिगण समस्त छोटे तथा बड़े भाई बहनो आप सभी को मेरा दंडवत प्रणाम आशा करती हूँ आप सभी बहुत ही अच्छे होंगे आप सभी को इस गणतंत्र दिवस की बहुत सारी हार्दिक शुभकामनाये में इस ख़ास अवसर पर कुछ बोलना चाहूंगी/चाहूंगा मेरा नाम (छात्र /छात्र का नाम) है, मै (कक्षा )की छात्र /छात्रा हूँ।

आज मै बहुत ज्यादा उत्साहित हूँ आज इस सुनहरे ख़ास अवसर पर मुझे अपनी बात को बोलने का अवसर प्राप्त हुआ है और मै अपने गुरुजनो को दिल से धन्यवाद देना चाहूंगी/चाहूंगा , जिनकी वजह से मुझे इस मंच पर अपनी बात रखने का अवसर प्राप्त हुआ है

दोस्तों जैसा की आप सभी जानते है15 अगस्त 1947 में हमारा देश आजाद हुआ 1947 में भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी प्राप्त हुई जिसे हम स्वतंत्रता दिवस के रूप में सेलिब्रट किया जाता है परन्तु 26 जनवरी 1950 में हमारा सविधान लागू हुआ इसलिए हम गणतंत्र दिवस को रूप में सेलिब्रेट करते है गतवर्ष में हम 72 वा गणतंत्र दिवस बड़ी धूमधाम से मनाने जा रहे है।

गणतंत्र का अर्थ अगर सही शब्दों में माना जाये तो गणतंत्र का अर्थ होता है जनता का जनता के लिए जनता द्वारा किया गया शासन है प्रत्येक नागरिक को अधिकार होता है वो अपने इच्छानुसार नेता मंत्री को सेलेक्ट कर सकता है हमारे देश को पूर्ण रूप से आजादी दिलाने के लिए हमारे देश में स्वतंत्रता सेनानियों जैसे -महात्मा गांधी ,राजगुरु सुखदेव, भगतसिंह चंद्रशेखर ,आजाद ,सुभाष चंद्र बॉस, सरदार बल्लभ भाई पटेल, लाल बहदुर शास्त्री आदि अनेक वीर जवानो ने एक एक बढ़कर एक बलिदान दिए उन्होंने अपनी जान की परवाह किये बिना अंग्रेजो के खिलाफ लड़ कर उन्होंने अपनी जान गावं दी जिससे आने वाली पीढ़ी खुश रह सके देश को आगे बढ़ाने में सहयोग करे हम ऐसे ख़ास अवसर पर वीर पुरुषो को याद करके उन्हें दिल से सैल्यूट करना चाहिए क्यूंकि आज इनकी वजह से चैन की सांस ले पा रहे है आज भी स्वतंत्रता सेनानियों का जूनून और संघर्ष हमारा इतिहास बनकर रह गया देश में बड़े से बड़े छोटे से छोटे बच्चे भी उनको दिल से याद करते है अब हम सबको मिलकर यह संकल्प लेना होगा हम अपने स्वतंत्रता सेनानियों और अमर शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने देंगे हम भी अपने देश की रक्षा करेंगे।
“भारत माता की जय “

26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर टीचरों के लिए भाषण

सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामयः
सर्वे भद्राणि पश्यन्तुः माँ कश्चित् दुःख भाग्भवेत

ज्ञान की देवी माँ शारदा, सम्मानित प्रिंसिपल महोदय, मेरे साथी शिक्षक गण, अतिथिगण और मेरे प्यारे बच्चो मै आप सभी को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं, आप सभी जानते आज हम सभी गणतंत्र दिवस को मनाने के लिए एकत्रित हुए है आज के दिन को हम गणतंत्र दिवस के रूप में मनाते है इसी मौके पर में अपने विचार आपके सामने प्रस्तुत करना चाहती हूँ। मैं उन महापुरुष को दिल से अभिनंदन करती हूँ जिनकी वजह से आज में शिक्षक/शिक्षिका होकर मान सम्मान प्राप्त कर रही हूँ। मेरा नाम (अध्यापिका का नाम )है मुझे गर्व है मै इस स्कूल की अध्यापिका हूँ।

जैसा की पहले से जानते होंगे आज हमारे देश का सविधान दिवस है आप सभी को गणतंत्र दिवस की बहुत सारे शुभकामनाए 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का सविधान लागू हुआ था आज भारत अपना 73वा गणतत्र दिवस मना रहे है, सभी धर्म जाति के लोग एकत्रित होकर बड़ी धूमधाम से इस पर्व को मानाया जाता है 26 जनवरी 1950 को हमारा सविधान लागू हुआ था जिसे भीमराव अम्बेडकर बनाया है आज के दिन हमारा देश एक पूरी तरह से गणतंत्र बना। मै उन सभी महापुरुष को दिल से हार्दिक अभिनंदन करती हूँ जिनकी वह से आज में एक महिला होकर भी मान सम्मान प्राप्त कर रही। भीमराव अम्बेडकर जी अधिक योगदान रहा इसलिए हम अम्बेडकर जी को इस अवसर पर दिल से नमन करते है हमारा देश लोकतांत्रिक धर्मनिरपेक्ष गणराज्य है हमे हर समय देश की रक्षा करने लिए हमेशा तैयार होना चाहिए

भविष्य में आने वाले समय में तुम्ही कल की तस्वीर हो तुम्ही कल का भारत हो तुम्ही कल का भविष्य हों बच्चो वाणी ईश्वर का दिया हुआ बहुत ही सुंदर उपहार है मै आप सभी से उम्मीद करती हूँ आप अपनी सोचको और ताकतवर बनाये आवाज को बुलंद बनाये हम सब अपने शब्दों में वजन बढाए आप किसी भी कार्यक्रम में शामिल होते है तो आपको चिंतन करना होगा आपको ही अपने देश को आगे बढ़ाना होगा आप इस कार्यक्रम से कुछ अच्छी बातें सीखकर उसे अपने जीवन में शामिल करें और कड़ी मेहनत करें जिससे हम अगली कक्षा में हम अपने रिजल्ट को और बेहतर बना सके अहंकार को अपनी ज़िंदगी से निकालिये जिंदगी बहुत ही सुलभ और सरल हो जायेगी हम सब अपने माता- पिता अपने प्रिंसिपल टीचर अपने समाज का नाम स्कूल के नाम को रोशन करें।

पुनः गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए अपनी वाणी को विराम देती हूँ। धन्यवाद

आशा करते है आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी पसंद आयी होगी अगर आप इससे रिलेटेड और जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप हमे कमेंट सेक्शन में जरूर बताये।

गणतंत्र दिवस से सम्बंधित प्रश्न

गणतंत्र दिवस कब बनाया जाता है ?

प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस बनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस का क्या अर्थ होता है ?

गणतंत्र का अर्थ होता है जनता का जनता के लिए जनता द्वारा किया गया शासन होता है।

गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है?

26 जनवरी 1950 में हमारा सविधान लागू हुआ था इसलिए प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस मनाया जाता है।

गणतंत्र दिवस के दिन क्या होता है ?

गणतंत्र दिवस के दिन स्कूल कॉलेज दफ्तर में ध्वजारोहण होताहै सभी देशवासी शहीदों को याद करते है। स्कूल कॉलेज दफ्तर में सब जगह मिठाइयां बाटी जाती है बच्चे डांस सिंगिंग नाटक में भाग लेते है और अपनी कला का प्रदर्शन करते है।

गतवर्ष में कौन सा गणतंत्र दिवस मनाया गया है ?

गतवर्ष में 72 वां गणतंत्र दिवस मनाया गया है।

2022 में कौन सा गणतंत्र दिवस 26 जनवरी मनाया जायेगा ?

2022 में 73 वाँ गणतंत्र दिवस मनाया जायेगा।

Leave a Comment